Sunday, July 25, 2021
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsShamliकृषि कानूनों के विरोध में किसानों का धरना-प्रदर्शन

कृषि कानूनों के विरोध में किसानों का धरना-प्रदर्शन

- Advertisement -
  • कांधला में पीएम और मुख्यमंत्री के खिलाफ नारेबाजी

जनवाणी संवाददाता |

कांधला: भारतीय किसान यूनियन और संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर कृषि कानूनों के विरोध में क्षेत्र के किसानों ने वाहनों पर काला झंडा लगाकर दिल्ली-सहारनपुर हाइवे पर प्रदर्शन किया। साथ ही, यहां स्थित चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने के बाद मोदी-योगी मुर्दाबाद के नारे लगाकर धरना दिया।

बुधवार को दिल्ली की सीमाओं पर 6 महीने पूरा होने पर और केंद्र की मोदी सरकार को 7 साल पूरा होने पर भारतीय किसान यूनियन सयुंक्त किसान मोर्चा ने इस दिन मोदी सरकार के विरोध स्वरूप काले झंडे लगाने का फैसला किया था। जिसके चलते भाकियू ब्लाक अध्यक्ष पूर्व प्रधान पप्पूू के नेतृत्व में दर्जनों ट्रैक्टर ट्रालियों पर काले झण्डे लगाकर किसान दिल्ली सहारनपुर हाइवे पर स्थित चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा पर पहुंचे।

उसके बाद चौधरी साहब की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर वहीं धरने पर बैठ गए। इसी बीच किसान नेता सुनील पंवार मौके पर पहुंच तथा अपने साथ आए किसानों के साथ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मुदार्बाद के नारे लगाने शुरू कर दिया।

सूचना पर सीओ कैराना जितेन्द्र कुमार थाना प्रभारी रोजन्त त्यागी भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। उन्होंने किसानों से शांति व्यवस्था बनाएं रखने की अपील की। थोडी देर धरना देने के बाद सभी किसान अपने गांवों की और लौट गए।

किसान नेता सुनील पंवार ने कहा कि सरकार को कृषि कानून वापस लेने होंगे। आज देशभर में लोग सरकार के खिलाफ काला झंडा हाथों में लेकर खड़े हुए हैं। एक बार फिर सभी किसानों ने इस बात को दोहराया कि जब तक किसानों की मांगे नहीं मानी जाएगी। तब तक किसान इसी तरह प्रदर्शन करते रहेगें।

भाकियू कार्यकर्ताओं ने घरों पर फहराए काले झंडे

आंदोलित किसानों के समर्थन एवं कृषि कानूनों के विरोध में भाकियू कार्यकर्ताओं ने तहसील क्षेत्र के गांव इस्सोपुर खुरगान व गोगवान में भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं द्वारा अपने घरों, वाहनों पर काले झंडे लगाकर काला दिवस मनाया। भाकियू के जिला मीडिया प्रभारी तालिब चौधरी एडवोकेट ने कहा कि कृषि कानून को थोपे जाने के विरोध में किसान लगातार आंदोलित हैं।

इस दौरान चौधरी आमिर अली, जाहिद हसन, मुनव्वर हसन, चौधरी इरफान, चौधरी मुरसलीन, इन्सार अली, चौधरी उमेर अली आदि मौजूद रहें।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments