Monday, January 24, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeINDIA NEWSहिटलर 'राज' से ज्यादा तानाशाही तो भाजपा सरकार में हो रही है:...

हिटलर ‘राज’ से ज्यादा तानाशाही तो भाजपा सरकार में हो रही है: सतीश मिश्रा

- Advertisement -
  • डबल इंजन की सरकार में सिर्फ भ्रष्टाचार, बलात्कार, अपराध, महंगाई और हत्या के आंकड़े बढ़े: सतीश चंद्र मिश्रा
  • ऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी हो रही थी, जनता परेशान हो रही थी: सतीश मिश्रा

जनवाणी ब्यूरो |

लखनऊ : औरैया की आरक्षित सीटों के लिए विशाल जनसभा का कार्यक्रम सतीश चंद्र मिश्र जी की अध्यक्षता में आयोजित किया गया। हिटलर राज से ज्यादा तानाशाही तो भाजपा सरकार में हो रही है । डबल इंजन की सरकार में सिर्फ भ्रष्टाचार, बलात्कार, अपराध, महंगाई और हत्याओं के आंकड़े बढ़े हैं। भारतीय जनता पार्टी को 100 में से 100 नंबर मिलने चाहिए झूठ बोलने के लिए।

सरकार के स्वास्थ्य मंत्री कहते हैं कोरोना काल के दौरान ऑक्सीजन की कमी से एक भी मौत नहीं हुई। यह कितनी दुर्भाग्यपूर्ण बात है कि भाजपा सरकार अपनी विफलताओं को छुपाने के लिए कुछ भी अनाप-शनाप बक रही है। उन्हें इस बात की जरा भी शर्मिंदगी नहीं की लचर स्वास्थ्य व्यवस्था के कारण कोरोना काल में इतने लोगों की मौतें हो गई।

श्मशान घाटों पर लाशें जलाने की जगह नहीं थी, ऑक्सीजन सिलेंडर कहीं उपलब्ध नहीं थे और ऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी हो रही थी, जनता परेशान हो रही थी और सरकार के मंत्री कहते हैं कि ऑक्सीजन के कमी से किसी की मौत नहीं हुई है।

हर चीज की तस्वीर सामने आ रही थी। इस तरह का विकराल मंजर था कि रूह काँप जाए। लेकिन स्वास्थ्य मंत्री को शायद इसलिए कुछ नहीं दिखाई पड़ा होगा क्योंकि ये अपने घर पर आराम फरमा रहे होंगे !

स्वास्थ्य मंत्री को शायद यह मालूम नहीं कि उन्हीं के सरकार के कई मंत्री और विधायक पत्र लिखकर बता रहे थे कि ऑक्सीजन की कमी है। उसके बाद इस तरह का बेतुका बयान यह दर्शाता है कि कोरोना में हुई मौतों का कोई भी फर्क भाजपा सरकार पर नहीं पड़ा है।

कोरोना काल में भाजपा को सिर्फ और सिर्फ यही मतलब था कि जल्द से जल्द पंचायती चुनाव हो और चुनाव को प्रशासन द्वारा दबाव बनाकर जीत लिया जाए।

यहां तक की भीषण कोरोना समय में चुनाव के चलते शिक्षकों को मौत के मुंह में धकेल दिया था। कोरोना से बचाव के लिए ड्यूटी कर रहे शिक्षकों के लिए किसी भी तरह का कोई भी व्यवस्था भाजपा सरकार द्वारा नहीं की गई थी।
जहां शिक्षकों की ड्यूटी लग रही थी वहां पर शिक्षकों को जमीन पर दरी बिछाकर बैठने के लिए मजबूर किया गया।

ना जाने कितनी महिला शिक्षकों ने सरकार से गुहार लगाई की उनके छोटे बच्चे हैं उनकी ड्यूटी ना लगाई जाए। लेकिन इस सरकार में शिक्षकों के प्रति इतनी नफरत भरी हुई है कि उन्हें शिक्षकों का कोई भी दर्द नहीं दिखता।

मुख्यमंत्री तो कहते हैं कि इन शिक्षकों ने पिछले जन्म में कोई पाप किया होगा तभी इस जन्म में यह शिक्षक बने हैं।
भाजपा सरकार में महिलाएं कितनी सुरक्षित हैं या आप उन्नाव और हाथरस से अंदाजा लगा सकते हैं।ऐसे दर्जनों मामले प्रतिदिन यूपी में हो रहे हैं लेकिन वह दबा दिए जाते हैं।

पंचायत चुनाव में आप सब ने देखा किस तरह से अधिकारियों के सामने महिलाओं का चीर हरण किया जा रहा था लेकिन अधिकारी शांत बैठे थे।

भाजपा सरकार दलित, ब्राह्मण और मुसलमानों को कर रही है टारगेट। केंद्र की भाजपा सरकार के वजह से 700 किसानों की जान गई।प्रदेश के भाजपा सरकार का संरक्षण पाकर गृह राज्य मंत्री के बेटे ने दर्जनों किसानों पर गाड़ियां चढ़ा कर उनकी हत्या कर दी गई।

भाजपा सरकार को किसानों की कोई परवाह नहीं उन्हें सिर्फ अपने मंत्रियों की परवाह है। केंद्रीय गृह राज्य मंत्री मीडिया को मारते हैं धमकाते हैं गाली देते हैं उसके बाद भी बर्खास्त नहीं किया जाता। भाजपा सरकार ब्राह्मणों से नफरत करती है। आप सब कहीं भी जाकर ढूंढ सकते हैं और पता कर सकते हैं की बहन मायावती जी ने इस प्रदेश में सबसे ज्यादा नौकरियां देने का काम किया है।

23 लाख से अधिक रोजगार बहन जी के कार्यकाल में दिया गया है। भाजपा सरकार इस देश की हर चीज बेचने पर तुली हुई है। अब बैंक वालों की आंखें खुल गई, बैंक वाले भी इस तानाशाह सरकार का खुलकर विरोध कर रहे हैं। इस कार्यक्रम में पूर्व मंत्री नकुल दुबे जी,रामजी शुक्ला पूर्व मंत्री उत्तर प्रदेश सरकार, मानवेंद्र आजाद प्रदेश महासचिव, मधु गौतम प्रत्याशी बिल्लौर सुरक्षित, लालजी शुक्ल प्रत्याशी सिकंदरा, विनोद पाल प्रत्याशी व प्रभारी अकबरपुर रनिया, प्रसाद अहिरवार प्रभारी प्रत्याशी घाटमपुर सुरक्षित, एडवोकेट मोहन मिश्रा प्रत्याशी प्रभारी किदवई नगर, अरुण मिश्रा प्रभारी और प्रत्याशी कल्याणपुर, दुर्गा प्रसाद प्रभारी व प्रत्याशी कायमगंज फर्रुखाबाद, अरुण दुबे उर्फ लाल दुबे प्रत्याशी व प्रभारी दिबियापुर, रामशंकर कुरील जिला अध्यक्ष कानपुर नगर, प्रवेंद्र शंखवार जिला अध्यक्ष कानपुर देहात, शैलेंद्र दुबे जिला अध्यक्ष ओरैया, शीलू दौरे जिला अध्यक्ष इटावा, नागेंद्र जाटव जिला अध्यक्ष फर्रुखाबाद, बबलू गौतम जिला अध्यक्ष कन्नौज,मंच पर मौजूद रहे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments