Sunday, September 19, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh Newsबड़ौतडीएम के औचक निरीक्षण से सीएचसी पर मचा हड़कंप

डीएम के औचक निरीक्षण से सीएचसी पर मचा हड़कंप

- Advertisement -
  • कोविड- टीकाकरण में तीव्रता लाने व साफ-सफाई के निर्देश दिए

जनवाणी संवाददाता |

बड़ौत: डीएम राजकमल यादव ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बड़ौत का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने सीएचसी अधीक्षक को निर्देश दिए कि साफ-सफाई बेहतर होनी चाहिए । आक्सीजन बेड क्रियाशील रहे और किसी तरीके की किसी भी मरीज को कोई समस्या नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कोविड-19 वैक्सीनेशन सेंटर का भी निरीक्षण किया।

डीएम राजकमल यादव ने निरीक्षण के दौरान कहा टीकाकरण के लिए प्रचार प्रसार किया जाए और लोगों को टीकाकरण के लिए प्रेरित किया जाए । 18 वर्ष से अधिक उम्र के हर व्यक्ति को जनपद में कोविड- टीका लगाया जाएगा। इस अभियान में मुहिम के रूप में कार्य करें। परिसर के अंदर मॉडल कोविड-19 वैक्सीनेशन सेंटर स्थापित किया जाए।

उन्होंने कहा कि रोस्टर के अनुसार प्रतिदिन वैक्सीनेशन अवश्य हो। आशा व एएनएम को घर-घर जाकर टीकाकरण के लिए डोर टू डोर जागरूक अभियान चलाया जाए ।उन्होंने कहा दवाइयों की मात्रा पर्याप्त होनी चाहिए । जिन गांव में संदिग्ध व्यक्ति नजर आ रहे हैं, उन गांव में स्वास्थ्य विभाग की टीम अलर्ट रहें ।सभी प्राथमिक सेंटर क्रियाशील रहे और अधिक से अधिक वैक्सीनेशन पर फोकस किया जाए । संदिग्ध मरीजों को कोविड- किट उपलब्ध कराई जाए।

जिलाधिकारी ने कहा कंटेंटमेंट जॉन में चिकित्सक भृमणअवश्य करें और ऐसी जगह जो कमी नजर आए उसे तत्काल पूर्ण कराएं । जनपद के किसी क्षेत्र से संबंधित कोई समस्या नहीं आनी चाहिए। जनपद में कोविड की इस महामारी लड़ाई से लड़ने के लिए हर संसाधन पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। सिर्फ दवाई व प्रोटेक्शन के साथ-साथ हौसले की भी जरूरत है और इस लड़ाई में जनपद जल्द ही कोरोना मुक्त होगा और बागपत खुशाल बनेगा।
जिलाधिकारी ने ग्राम पंचायत जोनमाना में स्थित स्वास्थ्य उपकेंद्र पहुंचकर औचक निरीक्षण किया। जिसमें उपस्थित स्टाफ को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

उन्होंने कहा गांव के प्रत्येक नागरिक के दरवाजे तक आप लोगों की टीम पहुंचे और उनका स्वास्थ्य हालचाल जाने, जो व्यक्ति संदिग्ध है उन्हें मौके पर कोविड-किट दी जाए। अगर स्वास्थ्य स्थिति बेहतर नहीं है तो अपने उच्च अधिकारियों को अवगत कराते हुए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर उपचार कराना सुनिश्चित करें ।निगरानी समिति ग्राम स्तर पर एक्टिव होनी चाहिए और बाहर से आने जाने वाले व्यक्तियों पर पैनी नजर बनाए रखें । इस अवसर पर सीएचसी अधीक्षक डॉ विजय सहित समस्त स्टाफ उपस्थित रहा था।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments