Thursday, October 28, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsShamliनिर्वाचन कार्य संवेदनशील होता है, गंभीरता से लें: डीएम जसजीत कौर

निर्वाचन कार्य संवेदनशील होता है, गंभीरता से लें: डीएम जसजीत कौर

- Advertisement -
  • माइक्रो ऑब्जर्वर और पीठासीन अधिकारियों का प्रशिक्षण

जनवाणी ब्यूरो |

शामली: जिला निर्वाचन अधिकारी/ जिलाधिकारी जसजीत कौर ने खंड स्नातक एवं शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र से उप्र विधानसभा परिषद द्विवार्षिक निर्वाचन के लिए पीठासीन अधिकारी माइक्रो ऑब्जर्वर तथा फोटोग्राफी कर्मिकों के द्वितीय चरण के प्रशिक्षण में निर्देश दिए कि वे निष्पक्ष, पारदर्शिता, स्वतंत्रता व शांतिपूर्ण तरीके से निर्वाचन आयोग की गाइडलाइन के अनुरूप संपन्न कराएं।

शनिवार को कलक्ट्रेट सभागार में पीठासीन अधिकारी माइक्रो ऑब्जर्वर तथा फोटोग्राफी कर्मिकों के द्वितीय चरण के प्रशिक्षण के दौरान जिलाधिकारी जसजीत कौर ने कहा कि निर्वाचन कार्य बहुत ही संवेदनशील होता है, इसको गंभीरता से लेते हुए कार्य किया जाए। मतदान के समय किसी भी प्रकार की कठनाई उत्पन्न न हो इसके लिए आयोग द्वारा दी गई बुकलेट का अध्ययन एवं प्रशिक्षण आदि भली-भांति लें।

प्रशिक्षण के समय पोलिंग पार्टिया मतदान केन्द्रों की सभी व्यवस्थाओं को पूरी तरह से देख लें। मतदान प्रक्रिया के प्रारम्भ से अन्त तक मतदान प्रक्रिया को सूचारू रूप से सम्पन्न कराना का मुख्य दायित्व है। डीएम ने कहा कि प्रत्येक बूथों पर कोविड-19 कोरोना संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए मतदाताओं की थर्मल स्कैनिंग आदि कराई जाएगी। यदि किसी का थर्मल स्कैनिंग के दौरान तापमान अधिक पाया जाता है तो उसका मतदान अंतिम आवर में कराया जाएगा।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी शंभू नाथ तिवारी, अपर पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार श्रीवास्तव, परियोजना निदेशक ज्ञानेश्वर तिवारी, डीआईओएनआईसी अश्वनी कुमार शर्मा, अजय बाबू, अमित मलिक आदि मौजूद रहे।

मतदान के लिए अपने साथ ये आईडी ले जाएं

जिला निर्वाचन अधिकारी जसजीत कौर ने बताया कि विधान परिषद खंड स्रातक एवं शिक्षक निर्वाचन में आगामी एक दिसंबर को मतदान दिवस पर मतदाताओं द्वारा अपनी पहचान के लिए निर्वाचन फोटो पहचान पत्र, आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड, भारतीय पासपोर्ट, राज्य/ केन्द्र सरकार, सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम, स्थानीय निकाय या अन्य निजी औद्योगिक घरानों द्वारा अपने कर्मचारियों को जारी किए गए सेवा पहचान पत्र, सांसद, विधायक, विधान परिषद सदस्य को जारी किए गए आधिकारिक पहचान पत्र, शैक्षिक संस्थाओं, जिनमें संबन्धित शिक्षक, स्रातक निर्वाचन क्षेत्र का निर्वाचन नियोजित हो, द्वारा जारी सेवा पहचान पत्र, विश्वविधालय द्वारा जारी उपाधि, डिप्लोमा का प्रमाण पत्र, मूल रूप में, सक्षम प्राधिकारी द्वारा जारी दिव्यांगता सम्बन्धी प्रमाण पत्र मूल रूप में मतदाताओं के लिए मतदान के लिए अनिवार्य है।

सीओ ने किया मतदान केंद्र का निरीक्षण

कांधला: आगामी एक दिसंबर को स्रातक और शिक्षक एमएलसी का चुनाव होना है। चुनाव को शांतिपूर्वक संपन्न कराने लेकर पुलिस प्रशासन ने पूरी तैयारी कर ली है। शनिवार को सीओ कैराना जितेंद्र कुमार और थाना प्रभारी निरीक्षक रोजन्त त्यागी ने नगर पालिका परिषद में बनाए तीनों बूथों का निरीक्षण किया। थाना प्रभारी निरीक्षक रोजन्त त्यागी ने बताया कि स्रातक वोटरों के लिए नगर पालिका परिषद में एक सेंटर और तीन बूथ बनाए गए है। तीनों बूथों पर एक-एक उप निरीक्षक सहित पांच-पांच पुलिस कर्मियों को तैनात किया जाएगा। हर स्थिति से निपटने के लिए पर्याप्त पुलिस बल मौजूद रहेगा। चुनाव में किसी प्रकार की कोई गड़बड़ी नहीं होने दी जाएगी।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments