Monday, August 2, 2021
- Advertisement -
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsBijnorधौकलपुर में दोहरे हत्याकांड का खुलासा, तीन गिरफ्तार

धौकलपुर में दोहरे हत्याकांड का खुलासा, तीन गिरफ्तार

- Advertisement -
  • पिता की हत्या का बदला लेने के लिए की गई हत्या
  • अभियुक्तों के पास से दो बंदूक, एक तमंचा किया बरामद

जनवाणी ब्यूरो |

बिजनौर: पुरानी रंजिश के चलते तंमचों व बंदूक से बिजनौर के गांव धौकलपुर गांव में दोहरे हत्याकांड को अंजाम देने वाले तीन अभियुक्तों को नगीना रोड रेलवे फाटक के पास से गिरफ्तार किया गया है। अभियुक्तों के पास से दो बंदूक 12 बोर, एक तमंचा 12 बोर व तीन जिंदा कारतूस बरामद किए गए।

बिजनौर कोतवाली शहर के गांव धौकलपुर में नौ मई को धीर सिंह व अकुंंर निवासी धौकलपुर पर पुरानी रंजिश के चलते तमंचों व बंदूक से ताबडतोड़ फायरिंग कर दी, जिससे उनकी मौके पर ही मृत्यु हो गई थी। पुलिस ने तहरीर के आधार पर देवेंद्र, कृष्णा, ललित, अमित, अनुज, नितिन व दो अज्ञात व्यक्तियों के नाम मुकदमा पंजीकृत किया था।

गुरुवार को स्वाट टीम व कोतवाली शहर पुलिस ने आकाश राठी उर्फ राजीव पुत्र बिजेंद्र निवासी ग्राम धीराहेड़ी थाना भोपा मुजफ्फरनगर, सुमित पुत्र स्वर्गीय राकेश निवासी ग्राम राना नंगला थाना स्योहारा, कृष्णा पुत्र अमल निवासी धौकलपुर को मुठभेड़ के दौरान नगीना रोड रेलवे फाटक से गिरफ्तार किया है। अभियुक्तों के पास से से दो बंदूक 12 बोर, एक तमंचा 12 बोर व तीन जिंदा कारतूस बरामद किए गए है।

एसपी ने घटना की गंभीरता को लेकर घटना में शामिल अभियुक्तों की शीघ्र गिरफ्तारी के लिए 25 हजार रूपये का पुरस्कार घोषित किया था। जिसमे पुलिस उपमहानिरीक्षक मुरादाबाद ने कृष्णा, सुमित तथा अनुज की पुरस्कार राशि बढ़ाकर 50 हजार रूपये कर दी गई थी।

इस दौरान घटना में शामिल अभियुक्त आकाश राठी उर्फ राजीव टिंकल पुत्र बिजेद्र निवासी ग्राम धीराहेड़ी थाना भोपा, सुमित पुत्र स्वर्गीय राकेश निवासी ग्राम किठौली थाना जॉनी मेरठ, कृष्णा पुत्र अमन निवासी धौकलपुर प्रकाश में आए है। एसपी डा. धर्मवीर सिंह ने बताया है कि अभियुक्तों पर मुकदमा पंजीकृत कर जेल भेजा जा रहा है।

पिता की हत्या का बदला लेने की लिए की गई हत्या

पूछताछ में कृष्णा ने बताया कि उसके भाई अनुज का मृतक धीर सिंह की लड़की से प्रेम प्रसंग चल रहा था। जिसमें अनुज उसकी लड़की को लेकर चला गया था। मृतक धीर सिंह व उसके परिवार ने लड़की ले जाने की शिकायत हमारे परिवार से की। लड़की को वापस करने के बाद अनुज ने धीर सिंह के परिवार से लड़की को ले जाने पर अनावश्यक टिप्पणी की जिसमे उन्होंने आवेश में आकर उनके पिता अमन सिंह की हत्या कर दी।

जिसमें धीर सिंह, जगवीर सिंह तथा अंकुर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। अपने पिता की हत्या का बदला लेने के लिए अनुज व नितिन फौजी हमारे साथ मिलकर हत्या करने की योजना बनाई। छह मई को यह कहकर भाई नितिन अपनी डयूटी पर चला गया और कह गया कि तुम योजनाबद्ध तरीके से अपना काम कर लेना। भाई अनुज ने अपने घनिष्ठ साथी विवेक एवं आकाश को सात मई को अपने महादेवपुरम नगर में स्थित किराए के मकान पर बुलाकर सुमित व अनुज तथा लवली ने उनके साथ बैठकर पूरा घटनाचक्र रचा। नौ मई को धीर सिंह व अंकुर की खेत से लौटते समय गोली मारकर हत्या कर दी।


What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments