Saturday, June 15, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutभैंसाली रोडवेज पर 12 करोड़ का बकाया

भैंसाली रोडवेज पर 12 करोड़ का बकाया

- Advertisement -
  • सीसीएसयू पर वर्ष 2021-22 तक का 5 करोड़ 35 लाख रुपये का बकाया
  • रोडवेज बस अड्डे पर सीलिंग की कार्रवाई हुई तो यात्रियों को होगी परेशानी

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: नगर निगम जल्द ही गृहकर की बड़ी बकायेदारी को लेकर भैंसाली रोडवेज बस अड्डे पर सीलिंग की कार्रवाई करने जा रही है। वहीं, दूसरी तरफ सीसीएसयू पर भी वर्ष-2021-22 तक की बकायेदारी को देखा जाए तो वह पांच करोड़ 35 लाख रुपये की थी। यदि इस वर्ष की बकायेदारी को जोड़ दिया जाए तो वह रकम और भी बढ़ जायेगी।

नगर निगम द्वारा बडेÞ बकायेदारों के खिलाफ गृहकर की वसूली का बड़े स्तर पर अभियान चलाया हुआ है। सबसे बड़ा सवाल है कि आखिर निगम के अफसर बडेÞ बकायेदारों पर आखिर अब तक मेहरबान क्यों रहे। निगम के अधिकारियों का कहना है कि जल्द ही बकाया जमा नहीं करने पर भैंसाली रोडवेज बस अड्डे पर सीलिंग की कार्रवाई की जायेगी।

नगर निगम के द्वारा वित्तीय वर्ष 2023-24 की गृहकर वसूली के लिए अभियान चलाया हुआ है। इस वसूली अभियान की सफलता पर निगम के अधिकारियों के दोहरे मापदंड के चलते एक बार फिर से सवाल उठने लगे हैं कि बडेÞ बकायदारों पर पूर्व में निगम के अधिकारी मेहरबानी करते चले आ रहे हैं। इस वर्ष भी बकाया वसूली अभियान निष्पक्षता से चलेगा या फिर पूर्व अभियानों की भांति बडेÞ बकायेदारों पर वसूली के नाम पर खानापूर्ति कर ठंडे बस्ते मेें डाल दिया जाए

और छोटे बकायदारों पर कुर्की एवं सीलिंग की कार्रवाई तक ही सीमित न होकर रह जाए। इस बार गृहकर की वसूली को निगम की टीम ने छह दुकानों पर सीलिंग की कार्रवाई पूर्व में की थी। जिसमें व्यापारियों ने हंगामा खड़ा कर दिया और खुद महापौर के हस्तक्षेप के बाद बिना रुपया जमा किए ही निगम के अधिकारियों को सीलिंग की कार्रवाई पर खुद को बैकपुट पर आना पड़ा और सुबह को लगाई सील दोपहर बात तक खोलनी पड़ी थी। वहीं, गुरुवार को भी भाजपा की एमएलसी कांता कर्दम पर हाउस टैक्स बकाए में गैस एजेंसी पर कार्रवाई की तो हड़कंप मच गया। जिसमें खुद महापौर हरिकांत अहलूवालिया को मध्यस्ता में आना पड़ा।

जिसके बाद निगम की वसूली को गई टीम लीपापोती कर वहां से बैरंग लौट गई। हालांकि तमाम आरोप-प्रत्यारोपों के बीच निगम के अधिकारियों का कहना है कि इस बार अभियान पूरी पार्दशिता से चलाया गया है। बडेÞ बकायदारों से वसूली की कार्रवाई की जायेगी। जिसमें भैंसाली रोडवेज बस अड्डे पर वर्ष-2021-22 तक का वैसे तो भारी भरकम बकाया था, लेकिन बाद में जांच के बाद 12 करोड़ रुपये से अधिक का बकाया शेष रहा था। यदि इस वर्ष का बकाया भी जोड़ दिया जाए तो वह 12 करोड़ से कहीं अधिक तक जा पहुंचा है।

इसको लेकर कर निर्धारण अधिकारी राजेश कुमार का कहना है कि जल्द ही भैंसाली रोडवेज बस अड्डे पर बकाया वसूली को लेकर सीलिंग की कार्रवाई की जायेगी। वहीं आबकारी पर भी सत्तर लाख से अधिक का उन्होंने बकाया बताया। उधर दूसरी तरफ मुख्यालय जोन के प्रभारी एवं मुख्य कर निर्धारण अधिकारी अवधेश कुमार ने बताया कि बडेÞ बकायेदारों में सीसीएसयू पर भी निगम के 5 करोड़ 35 लाख रुपया बकाया है। जिसमें यह बकाया गत वर्ष तक का था, यदि इस वित्तीय वर्ष का भी जोड़ दिया जाए तो और भी बढ़ सकता है।

यदि जल्द यह बकाया राशि सीसीएसयू की तरफ से जमा नहीं की गई तो निगम की तरफ से बडा एक्शन लिए जाने की तैयारी की जा रही है। वहीं यदि भैंसाली रोडवेज बस अड्डे पर सीलिंग की कार्रवाई हुई तो यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ेगा। बड़ा सवाल है कि अब अधिकारी इतनी बड़े बकायेदारी पर आखिर खामोश क्यों रहे? जिसमें अब वसूली के लिए अभियान चलाकर सीलिंग की कार्रवाई की बात करनी पड़ रही है।

गृहकर की वसूली के लिए निगम द्वारा अभियान चलाया हुआ है। जिसमें भैंसाली रोडवेज, सीसीएसयू भी बड़े बकायेदारों में शामिल है। जल्द ही बकायेदारी जमा नहीं करने पर सीलिंग की कार्रवाई की जायेगी। -अवधेश कुमार, मुख्य कर निर्धारण अधिकारी, नगर निगम

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments