Wednesday, April 21, 2021
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsBaghpatफर्जी एनसीआर नहीं हुई वापस, अनिश्चितकालीन हड़ताल होगा शुरू

फर्जी एनसीआर नहीं हुई वापस, अनिश्चितकालीन हड़ताल होगा शुरू

- Advertisement -
0
  • ग्राम विकास अधिकारी/ग्राम पंचायत अधिकारी संघ के बैनर तले विकास भवन पर हड़ताल
  • राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद ने भी दिया समर्थन, पंचायत चुनाव हड़ताल के चलते होगा बाधित
  • कर्मचारियों ने कोतवाली में किया हंगामा, कार्रवाई करने की उठायी मांग, डीएम को भेजा ज्ञापन

जनवाणी संवाददाता |

बागपत: कोतवाली में कानूनगो पर एनसीआर दर्ज कराने का आरोप लगाते हुए ग्राम विकास अधिकारी/ग्राम पंचायत अधिकारी संघ में आक्रोश बढ़ता जा रहा है और अब वह अपना निर्णय वापस लेने के लिए तैयार नहीं है। उन्होंने रविवार से विकास में अनिश्चताकलीन हड़ताल शुरू करने का निर्णय लिया है, क्योंकि सीडीओ द्वारा शुक्रवार की शाम तक एनसीआर वापस लेने का आश्वासन दिया था, जो वापस तक नहीं ली गयी है।

साथ ही राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद ने भी सचिवों को अपना समर्थन दे दिया है और चेतावनी दी कि यदि एसडीएम व कानूनगो के खिलाफ कार्रवाई नहीं होती है तो वह चुनाव में किसी भी तरह का कार्य नहीं करेंंगे। इससे चुनाव को पूरी तरह से बाधित किया जाएगा। सचिवों ने शाम को कोतवाली में पहुंचकर हंगामा किया और कानूनगो, लेखपाल के खिलाफ तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की।

ग्राम विकास अधिकारी/ग्राम पंचायत अधिकारी संघ के अध्यक्ष प्रमोद कुमार के खिलाफ कानूनगो भूपेन्द्र सिंह द्वारा रिपोर्ट दर्ज कराकर एनसीआर कटवाने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है और एनसीआर कटने के बाद पुलिस द्वारा दबिश देने से प्रमोद की सास का सदमे में निधन हो गया।

इसके चलते सचिवों में आक्रोश पनप गया है और शुक्रवार को विकास भवन में धरना देकर कार्रवाई की मांग की थी। उसके बाद शनिवार की शाम पांच बजे सचिवों ने कोतवाली में पहुंचकर हंगामा शुरू कर दिया।

वीडीओ प्रमोद कुमार ने कोतवाली में तहरीर देकर दो कानूनगो, लेखपाल के खिलाफ मारपीट करने, जान से मारने की धमकी देने, सरकारी कागज फाडने के मामले में कार्रवाई करने की मांग की। आरोप है कि पुलिस द्वारा उनकी तहरीर नहीं ली जा रही है।

साथ ही कहा कि सीडीओ के आश्वासन पर भी कानूनगो ने एनसीआर वापस नहीं ली। सचिवों ने चेतावनी दी कि वह रविवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू कर देंगे और जब तक एसडीएम, कानूनगो, लेखपाल पर कार्रवाई नहीें होती तब तक वह शांत नहीं बैठने वाले।

इस मौके पर प्रमोद कुमार, जोनी चौधरी, गंगाराम, प्रेम कुमार, भूपेन्द्र सिंह, सुधीर रूहेला, रोहित, सुनील बंसल आदि मौजूद रहे। इसके अलावा उन्होंने अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू करने के लिए डीएम को ज्ञापन भेजकर अवगत करा दिया। वहीं राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के अध्यक्ष सतपाल सिंह त्यागी ने भी सचिवों को समर्थन दे दिया है।

कहा कि वह भी उनके साथ मिलकर आंदोलन करेंगे और कहा कि पंचायत चुनाव शांतिपूर्ण कराने में कर्मचारियों का काफी योगदान रहता है और यदि एसडीएम, कानूनगो पर कार्रवाई नहीं होती है तो वह चुनाव का बहिष्कार करेंगे।

यदि पंचायत सचिव कार्य बहिष्कार कर हड़ताल करते है तो मामले से डीएम को अवगत करा दिया जाएगा। एसडीएम से वार्ता कर एनसीआर वापस लेने के लिए कहा गया था, लेकिन जानकारी नहीं है कि एनसीआर वापस हुई है या नहीं।                                                                   -अभिराम त्रिवेदी सीडीओ बागपत


यदि पंचायत सचिव व राज्य कर्मचारी हड़ताल कर चुनाव में बाधा पहुंचाते है तो उनके खिलाफ आयोग की गाइडलाइन के अनुसार कार्रवाई की जाएगी। किसी को भी चुनाव में बाधा पहुंचाने नहीं दी जाएगी।
                                                                                                            -अनुभव सिंह एसडीएम बागपत

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments