Sunday, January 23, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutटंकी पर चढ़े किसान, नई नीति पर मुआवजे की मांग

टंकी पर चढ़े किसान, नई नीति पर मुआवजे की मांग

- Advertisement -
  • किसानों और एसडीएम के बीच वार्ता असफल

जनवाणी संवाददाता |

परतापुर: थाना क्षेत्र के घोपला गांव में नई नीति के तहत एमडीए द्वारा अधिग्रहित की गई किसानों की जमीन के मुआवजे की मांग और बुधवार को किसान व उनकी महिलाओं से बदसलूकी करने वाले एमडीए व वनविभाग की टीम द्वारा माफी मांगने की मांग को लेकर गुरुवार को कई किसान शताब्दीनगर सेक्टर-चार बी स्थित धरनास्थल के पास टंकी पर चढ़ गए।

दोपहर बाद एसडीएम और एएसपी किसानों के बीच पहुंचे, लेकिन उनकी किसानों से ठीक ढंग से वार्ता नहीं हो सकी।
बुधवार को गूमी गांव के समीप कंचनपुर घोपला के किसानों पर खेतों से कब्जा हटाने के लिए एमडीए व वनविभाग की टीम भारी पुलिस बल के साथ पहुंचे थे। एमडीए को वनविभाग को यहां साढ़े 12 बीघा जमीन देनी थी। इस दौरान जैसे ही जमीन पर जेसीबी चली तो काफी किसान एकत्र हो गए और जमीन अपनी बता विरोध करने लगे थे।

आरोप है कि विरोध करने पर अफसरों और पुलिस ने किसानों और उनकी महिलाओं के साथ हाथापाई और अभद्रता की। गुरुवार को टंकी पर चढ़े किसानों ने कहा कि हम टंकी से तभी उतरेंगे जब एमडीए व वनविभाग के अफसरों सहित पुलिस किसानों व उनकी महिलाओं से माफी मांगे। इसके अलावा किसानों ने कहा कि कई साल नई नीति के तहत मुआवजे की मांग करते हुए हो गए अब किसान चुप बैठने वाला नहीं है।

अब नई नीति के तहत मुआवजा लेकर ही टंकी से उतरेंगे। दोपहर बाद एसडीएम व एएसपी किसानों के बीच पहुंचे, लेकिन उनकी सकारात्मक बात नहीं हो सकी। इस बीच सपा नेता पवन गुर्जर कार्यकर्ताओं के साथ किसानों के बीच पहुंचे और आंदोलन में सहयोग करने का आष्वासन दिया। इस अवसर पर भाकियू नेता सुभाष, डा. अमरवीर सिंह, लक्ष्मण, मदनपाल, पवन, दीपक चौधरी मौजूद रहे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments