Home Delhi NCR गड्ढों में ‘समाधि’ लेकर प्रदर्शन कर रहे थे किसान, प्रशासन ने मिट्टी डालकर जिंदा ‘दफना’ दिया

गड्ढों में ‘समाधि’ लेकर प्रदर्शन कर रहे थे किसान, प्रशासन ने मिट्टी डालकर जिंदा ‘दफना’ दिया

0
गड्ढों में ‘समाधि’ लेकर प्रदर्शन कर रहे थे किसान, प्रशासन ने मिट्टी डालकर जिंदा ‘दफना’ दिया

जनवाणी ब्यूरो |

नई दिल्ली: गाजियाबाद जिले के लोनी में ट्रॉनिका सिटी मंडोला आवास विकास कार्यालय के सामने मुआवजे की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे किसानों ने प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाए हैं।

आरोप है कि प्रशासन शनिवार रात करीब 2:00 बजे दो जेसीबी लेकर भारी पुलिस बल के साथ पहुंचा और गड्ढे भरवाए जाने लगे।

इस दौरान गड्ढों में सो रहे किसानों के ऊपर जेसीबी से मिट्टी डाली गई। इसी दौरान वहां अन्य किसान पहुंच गए। जिन्होंने इसका विरोध किया।

आपको बता दें कि मुआवजे की मांग को लेकर करीब पांच साल से आंदोलन कर रहे मंडोला समेत छह गांवों के किसानों ने विरोध प्रदर्शन का अनूठा तरीका अपनाया और बुधवार को 17 किसान समाधि लेने के लिए गड्ढे में उतर गए थे। किसानों ने आवास विकास कार्यालय के सामने ही गड्ढे खोदे थे।

किसानों से वार्ता करने पहुंचे अधिकारियों ने छह किसानों को नोटिस दिए थे। अधिकारियों के गाजियाबाद चलकर डीएम से वार्ता करने के आश्वासन को भी किसानों ने ठुकरा दिया था।

किसान नेता नीरज त्यागी ने बताया कि किसानों ने 10 दिन पूर्व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नाम एसडीएम लोनी शुभांगी शुक्ला को ज्ञापन सौंपकर किसानों की मांग पूरी करने की चेतावनी दी थी।

किसानों ने कहा था कि 14 सितंबर तक मांग पूरी न होने पर वे जीवित समाधि लेंगे। मंगलवार को प्रशासनिक अधिकारियों ने किसानों से समाधि नहीं लेने को लेकर बैठक की थी।

लेकिन किसानों ने प्रशासनिक अधिकारियों का प्रस्ताव ठुकरा दिया। बुधवार सुबह आवास विकास कार्यालय के सामने किसानों ने 17 गड्ढे समाधि लेने के लिए खोदे थे। किसान नेता मनवीर तेवतिया के नेतृत्व में 17 किसानों ने गड्ढे में उतरकर समाधि ली थी।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
3
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0

Leave a Reply