Tuesday, May 28, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutचौधरी चरणसिंह विश्वविद्यालय में फिर हुई फायरिंग

चौधरी चरणसिंह विश्वविद्यालय में फिर हुई फायरिंग

- Advertisement -
  • थार सवार युवकों पर कैंपस में एमबीए डिपोर्टमेंट के सामने की फायरिंग

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: चौधरी चरणसिंह विश्वविद्यालय सोमवार को एक बार फिर फायरिंग से गूंज उठा। थार सवार कुछ युवकों पर कैंपस में दो युवकों ने अचानक फायरिंग शुरू कर दी। फायरिंग की वारदात से जहां वहां मौजूद छात्रों में भगदड़ मच गयी वहीं दूसरी ओर इसको लेकर पूरे दिन छात्रों में हड़कंप मचा रहा। सबसे हैरानी की बात तो यह है कि कैंपस के भीतर फायरिंग हो गयी और कैंपस की सुरक्षा की जिम्मेदारी संभल रहे सिक्योरिटी सर्विस के गार्डों तथा सीसीएसयू प्रशासन को इसकी भनक तक नहीं लगी।

वहीं दूसरी ओर पुलिस ने भी फायरिंग की बात को एक सिरे से खारिज कर दिया है। इसके इतर अपनी पहचान न जाहिर करते हुए अनेक छात्र-छात्राओं ने थार सवारों पर दो युवकों द्वारा फायरिंग की पुष्टि की है। सबसे चौंकाने वाली बात तो यह है कि एक छात्र ने फायरिंग करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर मेडिकल थाना पर तहरीर भी दी है फिर भी पुलिस इंकार कर रही है।

एमबीए के सामने की घटना

सोमवार को सीसीएसयू कैंपस ब्लैक रंग की थार में आए युवकों पर दो युवक जो बताया जाता है कि फेयरवेल पार्टी से आए थे और जैसे ही एमबीए डिपार्टमेंट के सामने पहुंचे तो अचानक जाकर थार के सामने खडेÞ हो गए। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार महिन्द्रा थार गाड़ी को कैंपस में एमबीए डिपार्टमेंट के सामने रोक लिया गया। नौचंदी थाना क्षेत्र के सेक्टर-8 निवासी विकुल चपराणा शाम 4 बजे करीब अपने दोस्त अंकित के साथ अपनी महिंद्रा थार में तपोवन के पास दोस्त शम्भू पहलवान से मिलने जा रहा था। इस दौरान जैसे ही विकुल एमबीए डिपार्टमेंट के सामने पहुंचा

20 6

तो फेयरवेल पार्टी से बाहर आए दो युवक कार के सामने खड़े हो गए हॉर्न बजाने पर भी सामने से नही हटे जिसके बाद कार सवार विकुल की कहासुनी हो गई। कहासुनी होते ही दोनो युवक हवाई दो राउंड हवाई फायर कर गाली देते हुए भाग गए। विकुल ने फायरिंग की सूचना 112 पर दी मौके पर पहुंची मेडिकल थाना पुलिस ने घटना की जानकारी ली और जांच में जुट गई है। पुलिस ने सीसीटीवी भी खंगाले, लेकिन सीसीटीवी में हमलावर कैद नहीं हुए है। पीड़ित विकुल की तरफ से मेडिकल थाने में तहरीर दे दी गई है।

कैंपस में फायरिंग की तीसरी वारदात

पिछले करीब एक माह में सीसीएसयू कैंपस में फायरिंग की सोमवार को तीसरी वारदात सामने आयी है। पहली वारदात न्यू ईयर के मौके पर कैंपस में मौजूद हॉस्टल में छात्र गुटों में नॉनवेज बनाने को लेकर जमकर संघर्ष हुआ था। उसमें फायरिंग भी की गयी थी। उसके बाद बीते सप्ताह कैंपस के सर छोटू राम में भी छात्र गुटों में टकराव हो गया था। तब भी फायरिंग की वारदात हुई थी। इसके अलावा तीसरी वारदात आज हुई है, जिसमें थार सवारों पर फायरिंग की बात कही जा रही है।

सिक्योरिटी की खुली पोल

कैंपस की सिक्योरिटी के नाम पर सीसीएसयू प्रशासन एक भारी भरकम रकम खर्च करने का दावा करता है। इतनी बड़ी रकम खर्च किए जाने के बाद भी वहां सिक्योरिटी कैसे की जा रही है इसका अंदाजा करीब एक माह के भीतर फायरिंग की तीन घटनाओं से लगाया जा सकता है। जिन्हें सिक्योरिटी का जिम्मा सौंपा गया है वो केवल शोपीस नजर आते हैं इससे अधिक कुछ नहीं।

21 6

पुलिस का इनकार

सीसीएसयू में फायरिंग की घटना के संबंध में जब सीओ सिविल लाइन अभिषेक तिवारी से जानकारी की तो उन्होंने बताया कि सूचना पर जांच करायी गयी। कहीं से भी फायरिंग का कोई साक्ष्य नहीं मिला है।

खेत के विवाद में फायरिंग

परतापुर: बराल परतापुर गांव में सोमवार दोपहर दो पक्षों में खेत के बीच से नाली निकालने पर देखते ही देखते लाठी-डंडे निकल आए और फायरिंग कर दी। इस दौरान दोनों पक्षों की ओर से आधा दर्जन लोग घायल हो गए। सूचना पर पुलिस पहुंची तब तक हमलावर भाग चुके थे। दोनों पक्षों की ओर से तहरीर दी गई है।

बराल परतापुर निवासी रणबीर का कहना है कि गांव के ही रहने वाले गजेंद्र और उसके परिवार के लोगों ने उसकी जमीन पर कब्जा कर रखा है, जिसको लेकर पहले भी थाने में शिकायत की थी, लेकिन ग्रामीणों व समाज के गणमान्य लोगों के समझाने पर दोनों पक्षों के बीच समझौता हो गया था। सोमवार सुबह रणवीर पत्नी संतोष बेटी बाला बेटे अरुण के साथ खेत पर काम कर रहे थे।

20 7

उसी दौरान गजेंद्र अपने भाई और परिवार के साथ पहुंच गया और सभी लोग हमारे खेत के बीचों बीच से नाली बनाने लगे जब रणबीर के परिजनों ने इसका विरोध किया तो गजेंद्र पक्ष के लोगों लाठी-डंडे लेकर पहुंच गए। देखते ही देखते दोनों पक्षों के लोग आमने-सामने आ गए और लाठी-डंडे चलने लगे। इसी दौरान कुछ युवकों ने आकर फायरिंग कर दी।

जिससे भगदड़ मच गई। सूचना पर पुलिस पहुंची तब तक फायरिंग करने वाले भाग चुके थे। दोनों पक्षों ने एक-दूसरे के परिवारजनों को नामजद करते हुए तहरीर दी है। इंस्पेक्टर जयकरण सिंह का कहना है कि मामला जमीनी है, बाकी मारपीट व फायरिंग करने वालों की शीघ्र गिरफ्तारी की जाएगी।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments