Saturday, February 24, 2024
HomeUttar Pradesh NewsMeerutधाराओं में खेल, दारोगा पर होगा एक्शन

धाराओं में खेल, दारोगा पर होगा एक्शन

- Advertisement -
  • दारोगा ने हटाई धारा, मजिस्ट्रेट ने दिये कार्रवाई आदेश

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: हत्या के प्रयास के एक मामले में धारा हटाने पर अपर मुख्य न्यायिक मजिस्टेÑट दारोगा से खफा हो गये। मजिस्ट्रेट ने दारोगा के खिलाफ कार्रवाई करने के आदेश कर दिये। दरअसल, न्यायालय अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट कोर्ट संख्या एक शैलेश पांडे की अदालत में ये मामला आया था। विवेचना सही तरीके से नही करने पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को दारोगा उमेश चंद शर्मा के खिलाफ अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट कार्रवाई करने के आदेश दिये हैं।

पीड़ित के अधिवक्ता मोहम्मद शाहिद सैफी ने बताया कि वादी मुकदमा अजीम ने गत 18 फरवरी 2022 को थाना नौचंदी मेरठ में रिपोर्ट दर्ज कराई कि वह अपने पिता हाजी यासीन के साथ अपने घर वापस जा रहा था। तभी रास्ते में आरोपी फहीमुद्दीन आ गया और उसने कहा कि यह लोग मुसलमान के दुश्मन सोमेंद्र तोमर की तारीफ कर रहे हैं। यह कहते हुए आरोपी ने अपने पास से चाकू निकालकर जान से मारने की नीयत से उसके पिता पर हमला कर दिया।

जिससे उसके हाथ की नस कट गई थी और उसके पिता गंभीर रूप से घायल हो गए थे। इसके बाद आरोपी के खिलाफ धारा 307 आईपीसी में मुकदमा दर्ज हो गया था। इसके कुछ समय बाद दारोगा उमेश चंद शर्मा ने जांच करते हुए मामले में अपनी ओर से अंतिम रिपोर्ट दाखिल कर दी थी और मुकदमा से गंभीर धाराएं हटा दी थी। इसके बाद पीड़ित के अधिवक्ता ने न्यायालय में साक्ष्य देते हुए कहा कि दारोगा उमेश चंद शर्मा ने मुकदमे में निष्पक्ष जांच नहीं की है।

इसके बाद न्यायालय ने पत्रावली पर उपलब्ध साक्ष को देखकर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को आदेशित किया है कि उपरोक्त मुकदमे में निष्पक्ष तरीके से जांच करने के आदेश देते हुए दारोगा उमेश चंद शर्मा के खिलाफ आवश्यक कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं।

प्रतिबंधित कारतूस बेचने वाले दो आरोपी गिरफ्तार

सरधना: प्रतिबंधित 9 एमएम के कारतूस बेचने वालों की पुलिस ने चेन तोड़नी शुरू कर दी है। पुलिस ने मामले में दो और आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जिनमें से एक राहुल खट्टा गैंग का सदस्य रह चुका है। पुलिस ने आरोपियों के पास से दो तमंचे व जिंदा कारतूस बरामद किए हैं। साथ ही सैंपल के लिए लाए एक 9 एमएम का कारतूस भी आरोपियों से मिला है। बुधवार को पुलिस ने पूछताछ के बाद मुकदमा दर्ज करके आरोपियों का चालान कर दिया।

बता दें कि दो दिन पूर्व सरधना पुलिस ने नवादा गांव से एक युवक को पकड़ा था। जिसके पास से पुलिस ने प्रतिबंधित 9 एमएम के 56 कारतूस बरामद किए थे। पूछताछ करने पर सामने आया था। करीब 10 वर्ष पूर्व उसने खट्टा प्रहलादपुर निवासी चंदर से कारतूस खरीदे थे। तभी से पुलिस आरोपियों की तलाश में लगी हुई है। मामले में पुलिस ने दो और आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

08 17

जिनमें से एक आरोपी चंदर राहुल खट्टा गैंग का सदस्य रह चुका है। पुलिस ने उसके पास से एक तमंचा, 315 बोर का कारतूस व सैंपल के लिए लेकर घूम रहे 9 एमएम का एक सैंपल का कारतूस बरामद किया है। यानी आरोपी सैंपल दिखाकर और कारतूस तस्करी करने की फिराक में था। इसके अलावा पुलिस ने मामले में शामिल दूसरा आरोपी प्रमोद पुत्र ब्रह्म सिंह निवासी खट्टा प्रहलादपुर को भी गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने उसके पास से भी एक तमंचा व कारतूस बरामद किया है। अब पुलिस इस बात को पता लगाने में जुटी है कि आरोपी कारतूस कहां से ला रहे थे। बुधवार को पूछताछ के बाद पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके चालान कर दिया।

खिर्वा में युवक से डेढ़ लाख की आॅनलाइन ठगी

सरधना: कोतवाली क्षेत्र के खिर्वा जलालपुर गांव निवासी राजा जैदी पुत्र हैदर जैदी के पास कुछ दिन पूर्व अज्ञात नंबर से उसके मोबाइल पर फोन आया था। आरोपियों ने उसको किसी कंपनी का कर्मचारी बताते पैसे दोगुने करने की बात कही। युवक ठगों की बातों में आ गया। आरोपियों ने पहली किश्त में युवक से 50 हजार रुपये अपने खाते में आॅनलाइन ट्रांसफर कराए। इसके बाद फिर 50 और इसी तरह करीब 1.53 लाख रुपये ठग लिए। मगर उसके पैसे वापस नहीं आए। दोगुना होना तो दूरी की बात है।

आरोपी लगातार उससे और पैसे भेजने को कहते रहे। तब जाकर युवक को ठगी का अहसास हुआ। जिससे युवक के होश उड़ गए। परिजनों को उसका पता चला तो युवक को डाट दिया। जिससे डर के चलते युवक घर से गायब हो गया। परिजनों ने उसे काफी तलाश किया, लेकिन पता नहीं चल सका। शाम को परिजनों ने कोतवाली पहुंच कर घटना की तहरीर दी। मगर तभी थाने में परिजनों को फोन आया कि युवक वापस लौट आया है। तब जाकर परिजनों ने राहत की सांस ली।

गंगनहर पुल पर तैनात होमगार्ड से मोबाइल लूटा

सरधना: बुधवार को दौराला गंगनहर पुल पर तैनात एक होमगार्ड से ट्रक चालक ने मोबाइल लूट लिया। इसके बाद ट्रक लेकर गंगनहर पटरी से फरार हो गया। मूलरूप से लावड़ निवासी सिकंदर होमगार्ड है। बुधवार को उसकी ड्यूटी दौराला गंगनहर पुल पर थी। दोपहर के समय एक ट्रक सरधना की ओर से आया। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार होमगार्ड ने अपने मोबाइल से ट्रक का फोटो खींचने की कोशिश की।

जिस पर ट्रक चालक ने होमगार्ड का मोबाइल छीन लिया। इसके बाद कांवड़ मार्ग गंगनहर पटरी पर ट्रक दौड़ा दिया। होमगार्ड ने घटना की पुलिस थाना पुलिस को दी। फोन घनघनाने के बाद पुलिस हरकत में आ गई। पुलिस ने ट्रक की घेराबंदी शुरू कर दी। सलावा पुलिस चौकी के निकट पुलिस ने ट्रक को थाम लिया। इसके बाद आरोपी चालक की जमकर खबर ली। समाचार लिखे जाने तक मामले में कोई लिखा पढ़ी नहीं हो सकी थी।

करोड़ों का सोना लेकर फरार कारीगरों का सुराग नहीं

मेरठ: सदर बाजार थाना क्षेत्र सदर सराफा बाजार से दो ज्वेलर्स का दो किलो सोना लेकर फरार होने वाली घटना में पुलिस को अभी कोई सफलता हाथ नहीं लगी है। पुलिस ने कारीगरों की तलाश में कई टीमों को कोलकाता भेजा है।
सदर बाजार निवासी विवेक जैन और मनोज वर्मा की सदर सराफा बाजार में ज्वेलरी शॉप है। दोनों सर्राफ ने मेहबूब के बेटे अमीन को दो किलो सोने के जेवरात बनाने के लिए दिये थे, लेकिन मेहबूब पश्चिम बंगाल चला गया था।

इसलिए उसके बेटे अमीन ने जेवरात बनाने के लिए राजा व हरविंदर नाम के कारीगरों को बुलाकर उनसे जेवरात बनाने के लिए कहा था, लेकिन दोनों ने दो किलो सोना अमीन से लूटकर फरार हो गये थे, लेकिन सदर पुलिस को अभी तक दोनों बंगाली कारीगर के बारे में कोई पुख्ता जानकारी हासिल नहीं हो पाई है। घटना को लेकर सराफा व्यापारी ने एसपी सिटी से भी मुलाकात कर सोना बरामद करने की मांग की थी।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments