Wednesday, January 26, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsBijnorवेदों का का सार है गीता: डॉ दीपक

वेदों का का सार है गीता: डॉ दीपक

- Advertisement -
  • गीता जयन्ती पर हुए कार्यक्रम

जनवाणी संवादाता |

नजीबाबाद: गीता जयंती के मौके पर गायत्री परिवार द्वारा गायत्री शक्तिपीठ, नीलकंठ महादेव मंदिर,रमेश नगर व बाजार कल्लू गंज में सारिका अग्रवाल के आवास पर गायत्री यज्ञ, प्रवचन हुए तथा ‘एक अद्भुत ग्रंथ श्रीमद्भागवत गीता ” विषय पर गोष्ठी का आयोजन किया गया।जिसमे गीता को महान ग्रन्थ बताते हुए इस पर विस्तार से जानकारी दी गयी।

शुक्रवार को गोष्ठी में गायत्री शक्तिपीठ के व्यवस्थापक डॉ दीपक कुमार ने कहा कि श्रीमद्भागवत गीता योगेश्वर भगवान श्री कृष्ण द्वारा अर्जुन को दिए गए उपदेश से संपूर्ण विश्व को प्राप्त एक महान ग्रंथ है। गीता एक शास्वत जीवंत चेतना का प्रवाह हैं और एक ऐसा ग्रंथ है जो हर युग में हर व्यक्ति के लिए समाधान देता है। विश्व की लगभग सभी भाषाओं में गीता के सबसे अधिक अनुवाद एवं भाष्य हुए हैं।

गीता संजीवनी विद्या की मार्गदर्शिका है ।गीता की नगरी कुरुक्षेत्र में गीता जयंती को अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव के रूप में मनाया जाता है। इस मौके पर श्रीमती मधुबाला गुप्ता, सारिका अग्रवाल, पुष्पा शर्मा, सुमन वर्मा ,मनोज अग्रवाल, विभा माहेश्वरी कृष्णकांता गोयल, जयप्रकाश सत्य प्रकाश राजपूत, शकुंतला मौजूद रहे परिव्राजक दिनेश चौबे ने गायत्री मंत्र कराया। श्रद्धा रानी व पुष्पा शर्मा ने गीत प्रस्तुत किए।गीता, गंगा,गाय,गुरु ,गायत्री भारतीय संस्कृति का आधार है। इस मौके पर लोगों को गंगाजल वितरित किया गया।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments