Tuesday, April 23, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutगलन वाली सर्दी में हाथ-पैर सुन्न, घरों में दुबके लोग

गलन वाली सर्दी में हाथ-पैर सुन्न, घरों में दुबके लोग

- Advertisement -
  • जारी रहेगा सर्दी का सितम, जनजीवन हो रहा प्रभावित
  • छह साल में सबसे सर्द रहा शुक्रवार का दिन

जनवाणी संवाददाता |

मोदीपुरम: सुबह से लेकर शाम तक पड़ रहे कोहरे से जनजीवन प्रभावित हो रहे हैं। मौसम के तेवर तल्ख हो रहे हैं और तापमान गिरता जा रहा है। शुक्रवार को भी तापमान गिरता हुआ 15.4 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। मौसम वैज्ञानिकों की माने तो दो दिन तक ठंड कड़ाके की रहेगी। सर्दी का असर इतना ज्यादा हो गया कि सूर्य देवता के भी दर्शन नहीं हो रहे हैं।

सुबह दोपहर शाम और रात में ठंड से कहीं राहत नहीं मिल रही है। पहाड़ों पर पड़ रही बर्फ के चलते मैदानी क्षेत्रों में मौसम ठंडा बना हुआ है। अधिकतम तापमान 15.4 न्यूनतम तापमान 7.6 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। अधिकतम आर्द्रता 100 व न्यूनतम 84 प्रतिशत दर्ज की गई। मौसम में आ रहे बदलाव के चलते पिछले छह साल में शुक्रवार का दिन सबसे सर्द रहा है।

सामान्य से आठ डिग्री कम रहा तापमान

कृषि विवि के मौसम वैज्ञानिक डा. यूपी शाही का कहना है कि लगातार बनते पश्चिमी विक्षोभ और पहाड़ों को छूकर आ रही हवाओं के चलते दिन रात का तापमान गिर रहा है। शुक्रवार को दिन का तापमान सामान्य से आठ डिग्री कम रहा है। इस सीजन में पहली बार सबसे कम तापमान दर्ज किया गया है। जिस कारण से दिन भर कंपकंपी छूटती रही और सर्दी में लोग ठिठुरते रहे।

04 34

छह साल का अधिकतम तापमान

2018 19.0

2019 17.2

2020 19.8

2021 21.9

2022 18.5

2023 15.4

कोहरे से फसलों को होगा भारी नुकसान

डा. एन सुभाष का कहना है कि रात में पाला पड़ना शुरू हो गया है। पाला व कोहरा पड़ने से फसलों को नुकसान होगा। फसलों को बचाने के लिए हल्की सिंचाई करे। आलू और अन्य सब्जी वाली फसलों के लिए पाला बहुत ही खतरनाक है। किसानों को ऐसे में सबसे ज्यादा ध्यान रखने की जरूरत है।

एक्यूआई 251 दर्ज किया

मेरठ का एक्यूआई 251 दर्ज किया गया। जबकि बागपत में 207, गाजियाबाद में 331, मुजफ्फरनगर में 289, जयभीमनगर में 244, गंगानगर में 288 तथा पल्लवपुरम में 220 दर्ज किया गया। प्रदूषण में फिर से बढ़ोतरी हुई है। एनसीआर में हवा की सेहत फिर से बिगड़ने लगा है। हवा खराब हो रही है और प्रदूषण का स्तर बढ़ता जा रहा है।

ठंड का प्रकोप, कोहरे ने थामी वाहनों की रफ्तार

सरधना: ठंड का प्रकोप लगातार बढ़ता जा रहा है। शुक्रवार को भी सुन कर देने वाली ठंड ने लोगों का बुरा हाल कर दिया। दोपहर तक आसमान पर घना कोहरा छाया रहा। कोहरे ने वाहनों की रफ्तार कम कर दी। दिनभर लोगों को सूर्यदर्शन नहीं हो सके। वहीं ठंड का असर बाजारों में भी देखने को मिला। इतनी ठंड के बाद भी पालिका द्वारा अभी तक अलाव की कोई व्यवस्था नहीं की गई है।

जिसके चलते असहाय लोगों को ठंड की अधिक मार झेलनी पड़ रही है। पिछले कई दिन से ठंड ने जमकर सितम ढहा रखा है। सुन्न कर देने वाली ठंड के साथ जमकर कोहरा पड़ रहा है। दिन ढलते ही कोहरा पड़ना शुरू हो जाता है। वहीं दोपहर तक कोहर की चादर आसमान पर छाई रहती है। शुक्रवार भी दोपहर के घना कोहरा रहा। कोहरे के साथ हाड़ कंपा देने वाली ठंड रही। सुन्न कर देने वाली ठंड ने लोगों को घरों में कैद कर दिया। आसमान पर धुंध छाया रहा। जिससे पूरे दिन सूर्य दर्शन नहीं हो सके।

05 35

ठंड का असर बाजारों में भी देखने को मिला। बाजारों में चहल पहल काफी कम रही। लोग जरूरी काम के लिए ही घरों से बाहर निकले। ठंड के बचने के लिए लोग तरह तरह के जतन करते नजर आए। वहीं इतनी ठंड के बाद भी पालिका द्वारा अभी तक अलाव की कोई व्यवस्था नहीं की गई है। शायद पालिका अधिकारियों को अभी तक ठंड का अहसास नहीं हुआ है। जिसके चलते ठंड की सबसे अधिक मार असहाय लोगों को झेलनी पड़ रही है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments