Wednesday, July 24, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutरक्षकों की अनदेखी...देश की धरोहर तिरंगे का अपमान?

रक्षकों की अनदेखी…देश की धरोहर तिरंगे का अपमान?

- Advertisement -
  • मीडिया ने तस्वीरों को कैद किया, पुलिस ने उतारकर झंडे को रखा सुरक्षित
  • मवाना थाना परिसर में लगाया गया था अभियान के तहत तिरंगा

जनवाणी संवाददाता |

मवाना: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं मुख्यमंत्री आदित्यानाथ योगी के निर्देश पर आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर बनाए गए अमृत महोत्सव के तहत देश ही नहीं अपितु पूरे प्रदेश में तिरंगा यात्रा को भले ही सकुशल संपन्न करा दिया गया हो, लेकिन बुधवार को शासनादेश के निर्देश पर लगाये गये सभी तिरंगो को उतार कर सुरक्षित रखने के लिए कहा गया था, लेकिन कुछ जगह अभी भी तिरंगे लोगों के घर से लेकर दुकानों, थाना परिसर में लगें दिखाई दिये जा रहे हैं।

ऐसा ही एक मामला प्रकाश में आया है, जोकि बहुत ही निंदनीय है। देश की रक्षकों के बीच देश की आन बान और शान तिरंगा झंडे का प्रदर्शन दिखने के बजाय अपमान होता नजर आया। मवाना थाना परिसर के बराबर में बने अंबेडकर पार्क में खडे एक पेड़ पर तिरंगा झंडे को लगाया गया था, लेकिन अमृत महोत्सव पूरा होने के बाद तिरंगे का अपमान भी इससे इतर नहीं है। तिरंगा झंडा पेड पर उल्टा पड़ा देख मीडिया की नजर मे आ गया ओर उसको अपने कैमरे में कैद कर लिया।

25 19

देश की आन बान और शान तिरंगे झंडे का अपमान कैमरे में कैद कर लिये जाने के बाद पुलिस हरकत में आ गयी और आनन-फानन पुलिसकर्मियों ने तिरंगे का अपमान होता देख पेड़ से झंडे को उतार कर सुरक्षित थाने में रख दिया है।
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं मुख्यमंत्री आदित्यानाथ योगी ने आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर अमृत महोत्सव के तहत 11 से 17 अगस्त तक हर घर तिरंगा फहराने के साथ पुलिस प्रशासनिक अधिकारियों, जनप्रतिनिधियों एवं सरकारी व गैर सरकारी संस्थाओं ने तिरंगा यात्रा निकाली और सभी को अपने अपने घरों पर तिरंगा फहराने की अपील की थी।

इसी क्रम में जगह-जगह लगे तिरंगे लगा दिया था तो वही अमृत महोत्सव के बुधवार को समापन होने पर शासनादेश के निर्देश पर लगाये गये तिरंगे झंडे को उतार कर सुरक्षित रखने के लिए प्रेरित किया गया था, लेकिन ऐसा देखने को नहीं मिला। ऐसा ही जिला मेरठ के मामला थाना मवाना परिसर में प्रकाश में आया है। मवाना थाना के बराबर में बने अंबेडकर पार्क में खड़े एक पेड़ पर तिरंगा झंडा फहराने के लिए लगाया गया था,

लेकिन इसको उतारने की जहमत किसी ने नहीं उठाई। जिस पर देश की आन बान और शान तिरंगा झंडे का अपमान देखने को मिला। थाना मवाना परिसर में तिरंगे झंडे को उल्टा देख मौके पर मौजूद मीडियाकर्मियों ने सभी तस्वीरें कैमरे में कैद कर ली। रक्षकों की अनदेखी के चलते देश की आन बान और शान तिरंगा झंडा का अपमान को कैमरे में कैद करते हुए देख पुलिसकर्मियो में हड़कंप मच गया और आनन-फानन हरकत में आने के बाद उल्टा लटक रहे तिरंगे को उतार कर सुरक्षित थाने में रख दिया है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
3
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments