Saturday, June 19, 2021
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsSaharanpurटापू घाट से जमकर हो रहा है अवैध खनन और परिवहन

टापू घाट से जमकर हो रहा है अवैध खनन और परिवहन

- Advertisement -
0
  • ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने सीज किए अवैध खनन से भरे सात ट्रक
  • रायल्टी के फर्जी दस्तावेज तैयार करने वाले दो अभियुक्त गिरफ्तार

वरिष्ठ संवाददाता |

सहारनपुर: खनन माफिया, कुछ ठेकेदार और ट्रांसपोर्टर मिलजुल कर उप्र सरकार को राजस्व का चूना लगा रहे हैं। हाल ये है कि हरियाणा से फर्जी रायल्टी पर इन दिनों खनन सामग्री उप्र में बेची जा रही है। हरियाणा का टापू घाट इन दिनों चर्चाओं में है।

हालांकि, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/उपजिलाधिकारी हिमांशु नागपाल ने अवैध खनन से भरे सात ट्रक सीज किए और रायल्टी के फर्जी कागज तैयार करने वाले दो लोगों को गिरफ्तार भी किया। गिरफ्तार किये गये लोगों के कब्जे से रायल्टी के फर्जी दस्तावेज और लैपटॉप भी बरामद किया है।

बता दें कि इन दिनों फिर हरियाणा के माफिया सक्रिय हैं। यमुना नगर के टापू घाट से बालू के रवन्नों के बिनाह पर भंडारण लाइसेंस की आड़ में गिट्टी बजरी को कोरसेंट में बदल कर सहारनपुर की सीमा में सप्लाई किया जा रहा है। इससे और कुछ हो न हो किंतु सरकार को राजस्व की बड़ी क्षति हो रही है।

चूंकि टापू घाट पर आमतौर पर चेकिंग नहीं होती लिहाजा यहां जमकर नियमों की अवहेलना हो रही और अवैध खनन व उसकी सप्लाई की जा रही है। यहां रेत खनन की आड़ में गिट्टी, बजरी और कोरसेंट का परिवहन किया जा रहा है जो कि नियम विरुद्ध है। यही नहीं, इन दिनों फर्जी रवन्नों पर नानौता के नेशनल हाईवे पर सैकड़ों ट्रक कभी भी देखे जा सकते हैं।

ये ट्रक अवैध खनन से भरे होते हैं। इससे उप्र सरकार को करोड़ों की राजस्व हानि हो रही है। बहरहाल, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने बुधवार को सख्त कदम उठाया। उन्होंने बताया कि टीम सहित अवैध खनन के ट्रकों की जांच की गई। इस बाबत पहले ही शिकायत मिली थी।

बताया कि जांच के दौरान ट्रकों के रायल्टी के कागज कुछ संदिग्ध प्रतीत होने पर ट्रक चालकों से पूछताछ की गई। ट्रक चालकों ने बताया कि शाहजहांपुर की एक इकाई द्वारा यह कार्य किया जा रहा है। उन्होंने ट्रक चालक की निशानदेही पर शाहजहांपुर में छापा मारा। यहां रायल्टी के फर्जी कागज बनाते हुए लैपटॉप सहित एक व्यक्ति पकड़ा गया।

पकड़े गये लोगों से पूछताछ और जांच में पता चला कि यह कार्य हरियाणा-यूपी बार्डर पर भी किया जा रहा है। उन्होंने टीम सहित बताये गये स्थान पर भी छापा मारा। यहां से दो लोगों रसीद पुत्र जीमल और रईस अहमद पुत्र मतलूब निवासी ग्राम समसपुर थाना सरसावां को मौके पर गिरफ्तार किया गया।

ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने बताया कि रायल्टी के फर्जी तैयार दस्तावेज, लैपटॉप और 07 ट्रकों को सीज कर अपराधियों के विरुद्ध सुसंगत धाराओं में थाना सरसावा में अभियोग पंजीकृत करा दिया गया है। हालांकि, यह मुकदमा सिर्फ चालकों पर दर्ज है।

ज्ञातव्य है कि रायल्टी के फर्जी कागजों के आधार पर सरकार को प्रतिदिन लाखों रुपए के राजस्व की हानि पहुंचाई जा रही है। खनन अधिकारी आशीष कुमार का कहना है कि हरियाणा के अवैध खनन का यूपी सीमा में परिवहन नहीं होने दिया जाएगा। इस बाबत संबंधित थाना पुलिस का भी सहयोग लिया गया है।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments