Thursday, October 21, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsBaghpatभारत बंद का क्षेत्र में रहा असर, संपर्क मार्गों व हाईवे पर...

भारत बंद का क्षेत्र में रहा असर, संपर्क मार्गों व हाईवे पर बैठे किसान

- Advertisement -
  • एंबुलेंस, शादी विवाह की गाड़ियां, परीक्षा देने वाले छात्रों को निकाला गया
  • गन्ने की बुग्गी व ट्रैक्टर-ट्रालियों को सड़कों पर लगाया गया था आड़े-तिरछा

जनवाणी संवाददाता |

बड़ौत: भारत बंद को लेकर बड़ौत में आसपास के क्षेत्र में किसान ट्रैक्टर ट्राली लेकर सड़कों पर उतर गई दिल्ली सहारनपुर हाईवे को रमाला किशनपुर बिहार पावली विरोध बंद कर दिया गया था। वही संपर्क मार्ग छपरोली से बड़ौत छपरौली, सिनौली नंगला, मलकपुर लोयन में किसान सड़कों पर बैठे हुए थे।

बड़ौत-बुढ़ाना मार्ग पर बिजरौल, बामनोली, दाहा, पुसार, भड़ल में सड़क जाम थी। बड़ौत-मेरठ मार्ग पर जौहड़ी, दादरी, बिनौली व बरनावा में किसानों ने जाम लगाया। बड़ौत-अमीमगर सराय मार्ग पर फतेहपुर पुट्टी में किसानों ने ट्रैक्टर-ट्राली सड़क पर लगाकर जाम लगाया।

दिल्ली बॉर्डर पर तीन कृषि कानूनों के विरोध में धरने पर बैठे पंजाब, हरियाणा व यूपी के किसानों के आह्वान पर मंगलवार को भारत बंद किया गया। इस भारत बंद का असर बागपत के बड़ौत क्षेत्र में बंद रहा। यहां दिल्ली-सहारनपुर नेशनल हाईवे के साथ ही संपर्क मार्गों पर आवागमन बंद रहा।

सड़कों पर इस तरह जाम लगाया गया था कि बाइक भी नहीं निकल पा रही थी। एंबुलेंस, शादी विवाह की गाड़ियां और परीक्षा देने वाले छात्रों को निकलने दिया जा रहा था। यदि काई कार में बीमार भी था तो उसे भी निकलने नहीं दिया जा रहा था। बड़ौत में पूर्वी यमुना नहर के पुल पर बड़ौत में बड़ौली, गुराना, बड़ावद, बावली आदि गांवों के किसान देशखाप चौधरी सुरेंद्र सिंह के नेतृत्व में सड़क जाम किए हुए थे।

बावली में हाइवे पर भी जाम लगाया गया था। किशनपुर बराल में हाइवे पर भाकियू के प्रदेश उपाध्यक्ष एवं जिला पंचायत सदस्य चौधरी राजेंद्र सिंह व रालोद नेता रविंद्र किसानों ने जाम लगा दिया था। यहां रमाला मिल में जाने वाली ट्रैक्टर-बुग्गी व ट्रैक्टर-ट्रॉली आड़े-तिरछे खड़ी कर चौराहे को चारों ओर से बंद कर दिया गया था।

सड़क के बीच में ही दरे डाल कर किसान धरने पर बैठे थे। किसानों का कहना था कि दिल्ली में बॉर्डर पर धरना देने किसानों के आह्वान पर यह धरना में किया गया है। आगे जो भी वहां से आदेश होगा उसका पालन किया जाएगा। इस मौके पर दे रखा चौधरी सुरेंद्र सिंह ने कहा कि भारत बंद किसानों की मजबूरी है किसानों को जब तक उनका अधिकार नहीं मिलेगा तब तक किसानों का आंदोलन चलता रहेगा।

दिल्ली में बॉर्डर पर धरने पर बैठे किसानों के आह्वान पर भारत बंद किया गया है। पूरे देश का किसान साथ है। उन्होंने कहा कि यदि 9 दिसंबर को बातचीत का कोई हल नहीं निकलता तो यहां से किसान दिल्ली बॉर्डर के लिए कूच करेंगे। उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल के जिलाध्यक्ष अरुण तोमर उर्फ बोबी ने कहा कि सभी व्यापारियों का हित किसानों के हित के साथ है।

किसानों की आर्थिक रीढ़ तोड़ने का काम सरकार ने तीन कृषि कानून बनाकर किया है। इसे किसान ही प्रभावित नहीं होगा, बाल्कि व्यापारी और आम आदमी भी प्रभावित होगा। इसलिए वह किसानों के बंद में शामिल है।संचालन कर रहे किसान नेता मुनेश बरवाला ने कहा कि किसान व किसान का परिवार अपने हकों के लिए कुर्बानी के लिए तैयार हैं।

इस मौके पर कालूराम हिलवाड़ी, लोकेंद्र तोमर, अमित, गौरव बड़ौत, संजू चौधरी,सतेन्द्र प्रमुख, अर्जुन अवॉर्डी शौकेंद्र तोमर, नरेश ठेकेदार, अमरपाल लुहारी, हरेन्द्र दांगी,विपिन तोमर बिल्लू आदि मौजूद थे।

बड़ौत-बुढाना मार्ग जाम कर यज्ञ किया

बड़ौत-बुढाना मार्ग पर बिजरौल में थांबा चौधरी यशपाल सिंह के नेतृत्व में किसानों ने जाम लगाया। सरकार की बुद्धि-शुद्धि के लिए बीच सड़क पर जाम लगाया। किसानों ने कहा कि वह चाहते है कि केन्द्र सरकार के मंत्रियों को बुद्धि आए और किसानों का आस्तित्व बचाए। इस मौके पर रविन्द्र पोसा, यशपाल सिंह, विनोद, सुभाष प्रधान, उपेन्द्र प्रधान, सुधीर पहलवान, कुसुमपाल, रणवीर सिंह, विनीत आदि मौजूद थे।

छ्परौली-बड़ौत मार्ग रहा पूरी तरह बंद

बड़ौत-छपरौली मार्ग पर लोयन मलकपुर में रालोद कार्यकर्ताओं व किसानों ने जाम लगाया। मलकपुर मिल में भी गन्ने के वहां नहीं जाने दिया। इस मौके पर किसानों ने कहा कि भारत बंद में किसान भी कोई काम नहीं कर रहें हैं। किसानों के लिए सरकार ने कोई काम किया।काम किया है तो वह तीन काले कानून लाद दिए। किसानों ने खेतों में भी काम नहीं किया। न ही किसान गन्ने को मिल में लेकर गए।

काफी देर तक जाम लगा रहा। किसान आंदोलन के चलते ग्रामीण मलकपुर में राष्ट्रीय लोक दल कार्यकर्ताओं एवं किसानों ने रालोद कार्यकर्ता संजू तोमर और दीपक प्रधान के नेतृत्व में जाम लगाकर बड़ौत छपरौली रोड जाम कर दिया।इस मौके पर बड़ौत की सभासद रेनू तोमर, आशुतोष तोमर, बबली तोमर, भूषण तोमर, बृजपाल दरोगा, भोपाल, चंद्रपाल, देवेंद्र, जगबीर,तेजा, राजेंदर, रमेश तोमर, अरविंद, सत्यवीर, अशोक, बलवान गौरव, सोबिनदर, ब्रह्मसिह, शिवकुमार, मांगे, रणधीर, राजबहादुर बोबी, विरेन्द्र आदि सैकड़ों किसान मौजूद रहे।

नेशनल हाइवे 709 बी पर रमाला में लगाया जाम

किसान विरोधी कानून के विरोध मे रमाला बस स्टैण्ड दिल्ली-सहारनपुर हाईवे पर रालोद नेताओं और किसानों मे मार्ग अवरूद्ध कर शांतिपूर्ण तरीके से बैठक की। संचालन डा. ओमपाल सिंह व अध्यक्षता सुरेन्द्र प्रधान ने की। धरने मे रालोद नेता संजीव मान पूर्व जिला पंचायत सदस्य, जिला पंचायत सदस्य विनोद तुगाना, पूर्व जिला पंचायत सदस्य विवेक चौधरी, मोहित मुखिया, यशवंत सिंह, सूबे सिंह, जयप्रकाश, सतबीर, देवेन्द्र, किरणपाल, किशन, शोकिनपाल, पप्पु लूम्ब, उपेन्द्र लूम्ब, धर्मेन्द्र प्रधान, संजय फौजी, चौधरी जगमेहर, ओमबीर लम्बरदार, मौजूद रहे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments