Saturday, June 22, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutमहंगाई का फैला भ्रम, किसान भरवा रहे डीजल के ड्रम

महंगाई का फैला भ्रम, किसान भरवा रहे डीजल के ड्रम

- Advertisement -
  • महंगाई को लेकर सोशल मीडिया पर चल रही तमाम सूचना
  • महंगाई के डर से लोग खाद्य सामग्री भी कर रहे स्टोर

जनवाणी संवाददाता |

सरधना: विधानसभा चुनाव के बाद महंगाई होने की आशंका को देखते हुए लोगों में हड़कंप मचा हुआ है। महंगाई को लेकर आम जनता सतर्क हो गई है। जहां एक ओर किसान डीजल के ड्रम भरवा कर स्टॉक लगा रहे हैं। वहीं, आम आदमी भी राजमर्रा का सामान खरीदकर जमा कर रहा है। ताकि कुछ समय तक के लिए महंगाई से बचा जा सके। पेट्रोल पंप से लेकर किराना की दुकानों पर भी बिक्री में इजाफा हो गया है। वहीं, पेट्रोल पंप पर किसान ड्रम में डीजल भरवाते दे जा रहे हैं।

30 2

बाजारों में अभी तक महंगाई भले ही न बढ़ी हो। मगर सोशल मीडिया पर महंगाई ने आग लगा रखी है। जिसके चलते आम जनता महंगाई बढ़ने से पहले ही चिंता में पड़ती दिख रही है। दरअसल, पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर सूचनाएं चल रही हैं कि विधानसभा चुनाव के तुरंत बाद एक बार फिर महंगाई आम जनता की जेब काटेगी। फेसबुक से लेकर वाट्सऐप और अन्य सोशल साइट पर इस तरह की पोस्ट घूम रही हैं।

एक ओर क्रूड के दाम लगातार बढ़ने और तेल के रेट वहीं रुके होने का कारण चुनाव बताया जा रहा है। वहीं रूस-यूक्रेन युद्ध के मद्देनजर भी महंगाई बढ़ने की आशंका जताई जा रही है। सोशल मीडिया पर चल रही सूचनाओं पर नजर डालें तो दावा किया जा रहा है कि चुनाव के तुरंत बाद पेट्रोल-डीजल के दाम 12 से 15 रुपये तक बढ़ेंगे। इसी तरह अन्य रोजमर्रा की वस्तुओं के दाम भी जरूर बढ़ेंगे। इन्हीं सुचनाओं को लेकर लोग सतर्क हो गए हैं।

आम आदमी ने राजमर्रा का सामान स्टॉक करना शुरू कर दिया है। दुकानों पर सामान की खपत बढ़ गई है। वहीं, किसान भी डीजल स्टोर कर रहे हैं। अपनी क्षमता के हिसाब से किसान दो से 500 लीटर तक स्टॉक में लगा रहे हैं। पेट्रोल पंप पर किसान ड्रम में डीजल भरवाते देखे जा रहे हैं। कुल मिलाकर महंगाई बढ़ने से पहले ही महंगाई बढ़ने की सूचना ने ही आम आदगी को डरा रखा है।

सोशल मीडिया पर बढ़ रही महंगाई

वर्तमान में भले ही किसी वस्तु के दाम बढ़ते नजर नहीं आ रहे हों। मगर सोशल मीडिया पर महंगाई ने आग लगा रखी है। फेसबुक से लेकर वाट्सऐप आदि सोशल साइट पर चुनाव के बाद महंगाई बढ़ने का दावा किया जा रहा है। यहां तक कि नेता भी पोस्ट डालकर लोगों को महंगाई का डर दिखा रहे हैं।

लगातार बढ़ रहे कू्रड के दाम

पिछले कुछ दिनों से क्रूड के दाम लगातार बढ़ते जा रहे हैं। वर्तमान में कू्रड के दाम 100 डोलर प्रति बैरल के पार जा चुके हैं। मगर पेट्रोल-डीजल के दाम वहीं रुके हुए हैं। जिसके पीछे का कारण पांच राज्यों में हो रहे विधानसभा चुनाव बताए जा रहे हैं। दावा किया जा रहा है कि चुनाव संपन्न होते ही पेट्रोल-डीजल के दाम जरूर बढ़ेंगे। मूल्य वृद्धि भी एक या दो रुपये नहीं, बल्कि 10-15 रुपये प्रति लीटर बढ़ने का दावा किया जा रहा है।

रूस-यूक्रेन युद्ध का भी पड़ रहा असर

इसके अलावा रूस और यूक्रेन के बीच चल रहे युद्ध से भी महंगाई बढ़ने की आशंका जताई जा रही है। जिससे रोजमर्रा की वस्तुओं के दाम बढ़ने की डर लोगों को सता रहा है। यही कारण है कि लोग अपनी क्षमता के हिसाब से एक से दो महीने तक का राशन स्टोर कर रहे हैं। ताकि कुछ समय के लिए महंगाई से बचा जा सके।

राहुल गांधी तक कर रहे सतर्क

सोशल मीडिया पर महंगाई की आग ऐसे ही नहीं लगी हुई है। खुद को बुद्धिजीवी बताने वालों से लेकर विभिन्न पार्टियों के नेता तक चुनाव के बाद महंगाई बढ़ने की बात कह रहे हैं। यहां तक की कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी तक ने ट्वीट करते हुए कहा कि विधानसभा चुनाव के बाद पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ने जा रहे हैं। उन्होंने तो लोगों को चुनाव संपन्न होने से पहले ही पेट्रोल-डीजल भरवाने की सलाह तक दे डाली।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
3
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments