Tuesday, June 18, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutअमानवीयता: मरने के बाद कूड़े में दबा दी गाय

अमानवीयता: मरने के बाद कूड़े में दबा दी गाय

- Advertisement -
  • कान्हा उपवन में गाय की मौत से निगम में मचा हड़कंप
  • भूख से मरने की बात से इनकार कर रहे अधिकारी
  • मृत गोवंश को कूड़े में फेंकने का वीडियो भी हुआ वायरल

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: परतापुर स्थित कान्हा उपवन में निराश्रित गायों की मौत होने पर महकमे में हड़कंप मच गया है। गोवंश के भूख से मरने की बात से नगर निगम प्रशासन साफ इनकार कर रहा है। विभागीय अधिकारियों का कहना है कि शेल्टर होम में केवल दो गाय की ही मौत हुई है और वह भूखा रहने से नहीं नेचुरल मौत है। मृत गोवंश का पोस्टमार्टम करने के बाद ही डाक्टर ने उनको दफनाने के लिए हापुड़ रोड डंपिंग ग्राउंड भिजवाया था। हालांकि कुछ ऐसी बात सामने आ रही थी कि गायों की मौत होने की मुख्य वजह उनका लंबी समय तक भूखा रहना है। उनको समय पर चारा नहीं मिलने के कारण उन्होंने दम तोड़ा है, मगर इस तरह की खबरों का विभाग ने खंडन किया है।

गौरतलब है कि, सूबे में सीएम योगी आदित्यनाथ की सरकार बनने के बाद शहरों से लेकर ग्रामीणों इलाकों तक में बड़े पैमाने पर गोवंश संरक्षण के लिए गौशालाएं स्थापित की गई थी। इसी दौरान परतापुर में कान्हा उपवन के नाम से गायों के लिए शेल्टर होम स्थापित किया गया। इसमें गोवंश के रहन-सहन के साथ ही उनके खानपान के लिए स्टॉफ और स्वास्थ्य की देखभाल के लिए डाक्टरों की तैनाती की गई थी।

01 7

कान्हा उपवन में रहने वाले गोवंश की देखरेख की जिम्मेदारी नगर निगम के पास है। मंगलवार को कान्हा उपवन में गायों के मरने की खबर जैसी ही बाहर आई, तो विभाग में हड़कंप मच गया। खबर थी गायों को समय से चारा नहीं मिल रहा था और भूख के कारण कई गायों ने दम तोड़ दिया। इसके बाद आनन-फानन में मृत गोवंश की मौत की वजह जानने के लिए डाक्टरों द्वारा उनका पोस्टमार्टम किया गया।

पशु चिकित्सा एवं कल्याण अधिकारी डा. हरपाल सिंह ने बताया कि पोस्टमार्टम में गायों की मौत नेचुरल होने की बात सामने आई है। बताया कि शेल्टर होम के डा. अजय प्रताप के अनुसार भूख के कारण गायों के मरने की बात गलत और बेबुनियाद है। केवल दो गाय की मौत कान्हा उपवन में हुई है। दोनों गायों को जेसीबी से 50 फीट गहरे गड्ढा खुदवाकर दफनाया गया। हापुड़ डंपिंग ग्राउंड में मिले अन्य मृत गोवंश को बाहरी लोगों द्वारा वहां फेंका गया है। उनमें से किसी गाय की शेल्टर होम में मौत नहीं हुई है।

डंपिंग ग्राउंड में मिले कई शव

सोशल मीडिया पर वायरल हुए एक वीडियो में हापुड़ रोड स्थित डंपिंग ग्राउंड में गाय के कई शव दिखाई दे रहे हैं। शवों को जेसीबी द्वारा यहां पड़ने वाला गंदा कूड़ा डालकर ढका जा रहा है। इसी वीडियो में नगर निगम की गाड़ी से गाय के शव को कूड़े में उतारे भी दिखाया गया है। गाड़ी चालक और जेसीबी चालक के बीच होती आपसी बातचीत भी वीडियो में सुनाई पड़ रही है। जिसमें एक ओर से मृत गाय को यहां न लेने की बात कही जा रही है।

जेसीबी चालक पर गिरी गाज

डंपिंग ग्राउंड में कूड़े के ढेर में दबी मिली गायों का मामला सामने आने के बाद नगरायुक्त मनीष बंसल ने जेसीबी चालक पर गाज गिरा दी है। पशु चिकित्साधिकारी डा. हरपाल सिंह ने बताया कि जेसीबी चालक आशीष को कार्य से हटा दिया गया है। चालक आशीष नगर निगम में आउटसोर्सिंग पर कार्यरत था। इस तरह की लापरवाही का मामला सामने आने पर कुछ और विभागीय स्टॉफ पर कार्रवाई हो सकती है। इस घटना के बाद से विभाग में हड़कंप मचा है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
3
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments