Sunday, July 21, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutमुल्तान नगर में पांच साल की बच्ची का अपहरण

मुल्तान नगर में पांच साल की बच्ची का अपहरण

- Advertisement -

सीसी कैमरे में बच्ची को ले जाते दिख रहा युवक

जगह जगह कांबिंग और कैमरों की पड़ताल शुरू


जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: टीपी नगर थाना क्षेत्र में स्थित न्यू मुल्तान नगर में रहने वाले ड्राइवर की पांच साल की बेटी मानवी पुत्री धीरेंद्र घर से रात 11 बजे बाहर निकली तभी एक युवक उसे गोद में लेकर चला गया।

पुलिस ने आसपास के इलाकों में कांबिंग की और सीसी कैमरे खंगाले लेकिन, कहीं मानवी का पता नहीं चला। मानवी के पिता ने अज्ञात युवक के खिलाफ अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया है।

59 1

न्यू मुल्तान नगर निवासी धीरेंद्र सिंह अरिहंत पब्लिकेशन में ड्राइवर है। उसकी शादी बुलंदशहर के ज्वारगढ़ी निवासी पुष्पा के साथ हुई थी। दंपति की मानवी इकलौती बेटी है। मानवी की मां रात के वक्त किसी अस्पताल में जॉब करती है। पिता धीरेंद्र सिंह ने बताया कि मानवी दस बजे से पहले सो गई थी और वह साढ़े दस बजे सो गया था। पत्नी काम पर गई थी।

रात दो बजे के करीब जब उसकी नींद टूटी तो उसने देखा कि मानवी बिस्तर से गायब थी। जब वो बाहर निकला तो बेटी नहीं मिली। धीरेंद्र ने आसपास काफी तलाश की लेकिन वो नहीं मिली। चिंता में परेशान पिता ने सुबह पांच बजे थाने को सूचना दी। मौके पर एसपी सिटी पीयूष कुमार सिंह और सीओ ब्रह्मपुरी शुचिता सिंह मौके पर पहुंचे।

एसएसपी रोहित सिंह सजवान भी पहुंचे 

एसएसपी रोहित सिंह सजवान भी पीड़ित के घर गए और पूछताछ की। पुलिस सूचना मिलते ही एक्टिव हो गई और बाटा फोम फैक्ट्री के पीछे के इलाकों में और खाली प्लाटों में बच्ची को ढूंढ़ने के लिए कई टीम लगा दी गई।

सीसी कैमरे की फुटेज

60 1

गायब बेटी को ढूंढने के लिए पुलिस ने जब पीड़ित के घर से 200 मीटर दूर के सीसी कैमरे को खंगाला तो रात 11 बजे के करीब मानवी घर से निकल कर गली में जाती हुई दिखी। एक बार वो थोड़ा आगे गई इसके बाद वो उस गली की तरफ मुड़ गई जहां धीरेंद्र मकान बनवा रहा था।

मानवी फिर लौट कर आई तभी एक युवक मुंह में कपड़ा बांधे हुए आया और मानवी को गोद में आने को कहा। मानवी ने युवक की गोद में आने के लिए हाथ बढ़ा दिए और उसकी गोद में चली गई।

युवक मानवी को लेकर निकल गया। पुलिस अधिकारियों का मानना है कि जिस तरह मानवी युवक के साथ गई है उससे लग रहा है कि मानवी उस युवक को जानती होगी। मुंह में कपड़ा बंधा होने के कारण युवक की पहचान नहीं हो पा
रही है।

58 1

पत्नी की नौकरी पर संदेह

अपह्त बेटी मानवी की मां पुष्पा रोज रात घर से जाकर अलसुबह लौट कर आती है। पुलिस ने जब पुष्पा से पूछा कि कहां जॉब करती हो तो बोली किसी अस्पताल में लेकिन पुष्पा अस्पताल का नाम नही बता पाई।

पति और पत्नी की दूसरी शादी

मानवी के अपहरण के मामले में पुलिस को ये जानकारी भी मिली कि धीरेंद्र सिंह और पुष्पा की दूसरी शादी है। पुष्पा की पहले पति से चार बच्चे है। जबकि धीरेंद्र की पहली पत्नी निशा से तीन बच्चे है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
3
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments