Thursday, August 18, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutविधायक ने सीएम को सुनाया दर्द, अफसर नहीं मानते आदेश

विधायक ने सीएम को सुनाया दर्द, अफसर नहीं मानते आदेश

- Advertisement -
  • इटायरा में सरकारी जमीन पर कब्जे को लेकर दक्षिण विधायक मिले सीएम से
  • गगोल में राजकीय इंटर कॉलेज, इनर रिंग रोड की मांग

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से सोमवार को मेरठ दक्षिण विधानसभा क्षेत्र से भाजपा विधायक डा. सोमेन्द्र तोमर एवं पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष शिवकुमार राणा ने मुलाकात की और मलियाना में सरकारी भूूमि एवं इटायरा में कोतवाल खाते में दर्ज भूमि को कब्जामुक्त, गगोल में राजकीय इंटर कॉॅलेज, हवाई अड्डा, इनर रिंग रोड, शहीद स्मारक पर अमर जवान ज्योति आदि प्रमुख मांगों को लेकर मांग पत्र सौंपा।

विधायक डा. सोमेन्द्र तोमर ने मुख्यमंत्री को अवगत कराते हुए बताया कि ग्राम मलियाना तहसील सदर मेरठ में एक बहुत बड़ा बंजर भूमि का गाटा है। उक्त सरकारी सम्पत्ति पर संकमणीय व अंसकमणीय पट्टों को तहसील व नगर निगम के कर्मचारियों के साथ मिलकर भूमाफियाओं द्वारा अवैध रूप से कब्जा कर विक्रय कर दिया गया है।

ग्राम इटायरा में लगभग 400 व 500 बीघे भूमि कोतवाल खाता में दर्ज चली आ रही है। भूमाफियाओं द्वारा पूर्ववर्ती सरकारों के संरक्षण में सरकारी भूमि पर अनाधिकृत कब्जे कर लिये गये हैं। जनहित में भूमि को भूमाफियाओं से कब्जामुक्त कराकर दोषियों एवं संलिप्त अधिकारियों के खिलाफ कठोरतम कार्रवाई की जानी चाहिए। आगे कहा कि आपके आदेश करने के बाद भी कोई संतोषजनक कार्रवाई नहीं हो पायी है।

ग्राम गगोल की आबादी लगभग 15 हजार है तथा ग्रामीणों की सुविधाओं के लिए ग्राम तथा आसपास में वर्तमान में कोई भी इंटर कॉलेज नहीं है। जिससे यहां के बच्चों को शिक्षा ग्रहण करने के लिये अधिक खर्च करके गांव से लगभग आठ से 12 किमी दूर शहर में शिक्षा ग्रहण करने के लिये जाना पड़ रहा है। गांव में दुर्लभ आय वर्ग के लोग अधिक निवास करते हैं।

अधिकतर ग्रामीण अपनी बेटियों को दूर भेजे जाने के कारण उनकी पढ़ाई मध्य में ही छुड़वा देते हैं। जनहित में ग्राम गगोल में राजकीय इंटर कॉलेज की स्थापना अति आवश्यक है। गांव मोहिउद्दीनपुर मिल की किसान रैली के दौरान मेरठ में एयरपोर्ट बनाये जाने की घोषणा की गई थी परन्तु अभी तक यह कार्य लम्बित है। मेरठ में एयरपोर्ट होने से पूरे पश्चिम उत्तर प्रदेश में विकास की गति तीव्र होगी।

सरकार द्वारा इनर रिंग रोड को पास किया गया परन्तु अभी तक उसका निर्माण कार्य कई वर्षों से रुका हुआ है, शहर में यातायात का दबाव लगातार बढ़ने के कारण बाहरी क्षेत्रों से आने वाले वाहन शहर के अंदर जाम की स्थिति उत्पन्न कर देते हैं। जिससे व्यापारी व आमजन का अपना काफी समय यात्रा में ही लग जाता है। जनहित में इनर रिंग रोड के निर्माण के लिये सरकार द्वारा धनराशि स्वीकृत की जानी चाहिए। शहीद स्मारक पर दिल्ली इंडिया गेट की तरह अमर जवान ज्योति जलाने की तरह मांग की जा रही है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments