Sunday, July 25, 2021
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeINDIA NEWSखुलेगा झूठ का पोल: अब बोलेगा मेहुल चोकसी भागने किसने की थी...

खुलेगा झूठ का पोल: अब बोलेगा मेहुल चोकसी भागने किसने की थी मदद ?

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

नई दिल्ली: एंटीगुआ और बारबुडा से हाल में फरार हुए भगोड़े हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी को पड़ोस के डोमिनिका में पकड़ लिया गया। उसके खिलाफ इंटरपोल ने ‘यलो नोटिस’ जारी किया था। स्थानीय मीडिया की खबरों में बुधवार को इस बारे में बताया गया।

एंटीगुआ और बारबुडा द्वारा इंटरपोल का ‘यलो नोटिस’ जारी किए जाने के बाद डोमिनिका में पुलिस ने मंगलवार रात (स्थानीय समयानुसार) चोकसी को पकड़ लिया। ‘एंटीगुआ न्यूज रूम’ के मुताबिक, चोकसी एंटीगुआ और बारबुडा की नागरिकता लेने के बाद 2018 से यहां रह रहा था।

एंटीगुआ पीएमओ ने समाचार एजेंसी एएनआई से कहा कि हमने डोमिनिका से कहा है कि वो गैरकानूनी रूप से डोमिनिका में प्रवेश करने पर मेहुल चोकसी पर सख्त कार्रवाई करे और उसे सीधे भारत को प्रत्यर्पित कर दे।

एंटीगुआ के पीएम गैस्टन ब्राउन ने कहा कि हम चोकसी को वापस नहीं लेंगे। उसने यहां से फरार होकर बड़ी गलती की है। डोमिनिकन सरकार और वहां के कानूनी अधिकारी हमसे सहयोग कर रहे हैं।

हमने इस बारे में भारत सरकार को सूचना दे दी है ताकि उसे सौंपा जा सके। उन्होंने कहा कि शायद चोकसी नाव के जरिए डोमिनिका पहुंचा था। वहां की सरकार हमसे और भारत सरकार के साथ सहयोग कर रही है। डोमिनिका उसे सीधे भारत भेज सकती है।

चोकसी के वकील विजय अग्रवाल ने कहा कि मैंने चोकसी के परिवार से बात की है और उन्हें इस बात की संतुष्टि है कि मेहुल के ठिकाने का पता चल गया है। मेहुल से बात करने की कोशिशें लगातार जारी है ताकि पता लग सके कि किन हालात में वह एंटीगुआ से चले गए थे और डोमिनिका में पकड़े गए।

लापता लोगों की तलाश के लिए इंटरपोल यलो नोटिस जारी करता है। खबरों में बताया गया है कि उसे एंटीगुआ और बारबुडा की रॉयल पुलिस फोर्स को सौंपने की कवायद चल रही है।

पंजाब नेशनल बैंक से 13,500 करोड़ रुपये की कर्ज जालसाजी मामले में चोकसी वांछित है और उसे आखिरी बार रविवार को एंटीगुआ और बारबुडा में अपनी कार में भोजन करने के लिए जाते हुए देखा गया था।

चोकसी की कार मिलने के बाद उसके कर्मचारियों ने लापता होने की सूचना दी। चोकसी के वकील विजय अग्रवाल ने पुष्टि की थी कि चोकसी रविवार से लापता था।

क्या है मामला 

एंटीगुआ एवं बारबुडा की नागरिकता ले चुके चोकसी को रविवार को दक्षिण इलाके में गाड़ी चलाते देखा गया था। बाद में उसका वाहन बरामद हो गया लेकिन चोकसी का कुछ पता नहीं चल पाया था।

मेहुल चोकसी नीरव मोदी का मामा है। नीरव 13,000 करोड़ रुपये से अधिक के पीएनबी धोखाधड़ी मामले में एक मुख्य आरोपी है। चोकसी भारत से भाग गया था और जांच एजेंसियों के मुताबिक वह एंटीगुआ और बारबुडा में रह रहा है।

मार्च में मेहुल चोकसी को कैरेबियाई राष्ट्र के निवेश कार्यक्रम (सीआईपी) के तहत मिली नागरिकता को एंटीगुआ और बारबुडा द्वारा रद्द करने की खबरें आईं थीं।

एंटीगुआ और बारबुडा की ओर से भगोड़े कारोबारी मेहुल चोकसी की नागरिकता रद्द करने की खबरों पर उसके वकील विजय अग्रवाल ने कहा था कि मेरे मुवक्किल मेहुल चोकसी एंटीगुआ के नागरिक हैं। उनकी नागरिकता को रद्द नहीं किया गया है।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments