Friday, May 7, 2021
- Advertisement -
HomeCoronavirusबंगाल चुनाव: छठे चरण के मतदान से पहले हिंसा, फेंके गए बम,...

बंगाल चुनाव: छठे चरण के मतदान से पहले हिंसा, फेंके गए बम, एक की मौत

- Advertisement -
0

जनवाणी ब्यूरो |

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल में आज बृहस्पतिवार को छठे चरण के विधानसभा चुनाव के लिए मतदान होना है लेकिन इससे पहले मंगलवार को राज्य में तीन जगहों पर बम फेंके जाने की घटना से एक बार फिर से खौफ का माहौल बना हुआ है। जानकारी के अनुसार तीनों घटनाएं उन निर्वाचन क्षेत्रों में हुईं जहां पर बृहस्पतिवार को वोटिंग की जानी है। विस्फोट के कारण एक व्यक्ति की जान तक चली गई।

टीटागढ़                                                                                     

उत्तर 24 परगना जिले के अंतर्गत आने वाले टीटागढ़ में मंगलवार की रात को एक डंपिंग ग्राउंड में क्रूड बम फेंका गया। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और मलबे के नीचे दबे दो व्यक्तियों को निकालकर बीएन बोस अस्पताल पहुंचाया, जहां 28 वर्षीय राजकिशोर जादव ने बुधवार तड़के सुबह दम तोड़ दिया। वहीं, दूसरे घायल शख्स को कोलकाता के एक अस्पताल में स्थानांतरित किया गया।

बैरकपुर                                                                                  

टीटागढ़ में ही एक अन्य घटना में मंगलवार रात को उपद्रवियों ने शहर के एनजेएमसी जूट मिल क्षेत्र में कथित तौर पर कच्चे बम फेंके। टीटागढ़ बैरकपुर विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आता है। यह क्षेत्र भाजपा नेता संतोष जेना के घर के करीब है। पुलिस बुधवार सुबह क्षेत्र में गई और दो जिंदा क्रूड बम बरामद किए। इन दो घटनाओं के बाद क्षेत्र तनाव में का माहौल बना हुआ है।

जगतदल                                                                        

बम फटने की एक और घटना मंगलवार की रात को करीब एक बजे भाटापारा में भी हुई। यह एक नगरपालिका है जो जगतदल विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आती है। यह क्षेत्र भाजपा सांसद अर्जुन सिंह का गढ़ है। वह पहले सत्तारूढ़ अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के सदस्य थे।

इधर, जब पुलिस मौके पर पहुंची तो उसे कोई बम बरामद नहीं हुआ। इलाके के लोगों का आरोप है कि इस घटना के पीछे भाजपा का हाथ है। उन्होंने कहा कि विपक्षी पार्टी बृहस्पतिवार के दिन मतदान के दौरान उन्हें वोट डालने से रोकने के लिए दहशत पैदा करने की कोशिश कर रही है।

सुरक्षा के कड़े इंतजाम                                                                

इन घटनाओं के बाद टीटागढ़ और जगतदल में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। सुरक्षा बल मतदाताओं में फिर से विश्वास जगाने की कोशिश कर रहे हैं ताकि वे बृहस्पतिवार को अपना वोट डालें। बताते चलें कि बैरकपुर और जगतदल दोनों ही निर्वाचन क्षेत्रों में 2016 में टीएमसी ने जीत हासिल की थी। जगतदल में टीएमसी ने सोमनाथ श्याम इचिनी को मैदान में उतारा है जबकि अरिंदम भट्टाचार्य भाजपा के उम्मीदवार हैं।

वहीं, बैरकपुर में फिल्म निर्माता राज चक्रवर्ती टीएमसी के उम्मीदवार हैं और चंद्रमणि शुक्ला भाजपा की ओर से चुनाव लड़ रहे हैं। बंगाल में विधानसभा चुनाव के अंतिम चरण का मतदान 29 अप्रैल को होगा। इसके बाद 2 मई को चुनाव के नतीजे घोषित किए जाएंगे।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments