Sunday, May 26, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutआनलाइन खरीदारी, बाजारों पर पड़ रही भारी

आनलाइन खरीदारी, बाजारों पर पड़ रही भारी

- Advertisement -
  • आनलाइन खरीदारी ने बदल दी बाजार की तस्वीर
  • नो कॉस्ट ईएमआई से बढ़ा आॅनलाइन शॉपिंग का क्रेज
  • त्योहारी सीजन पर कई आइटमों पर मिल रहा है भारी कैश बैक

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: लोगों में आॅनलाइन खरीदारी का क्रेज दिनोंदिन बढ़ रहा है। आॅनलाइन खरीदारी ने बाजार की तस्वीर ही बदलकर रख दी है। कपड़े व जूते तो छोड़िए, लोग घरों तक को सजाने के लिए आॅनलाइन खरीदारी कर रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया का सपना धीरे-धीरे पूरा होने लगा है। कुछ दिन पहले तक युवा आॅनलाइन खरीदारी करते थे, लेकिन अब हर उम्र के लोग इस तरफ आकर्षित हो रहे हैं। कारण है आॅनलाइन खरीदारी का बेहद आसान और सुविधाजनक होना।

लोग बाजार में जाने के बजाय सामान को आॅनलाइन लेना ही पसंद करते हैं और रंग व साइज के अनुसार आर्डर कर देते हैं। दो चार दिन के अंदर सामान खरीदार के घर तक पहुंच जाता है। इसमें न कहीं घूमना और न भीड़ की चिंता। युवाओं का कहना है कि आॅनलाइन हरेक वस्तु की खरीदारी हो जाती है, जबकि दुकानों पर चुनिंदा सामान मिलते हैं। कपड़े, जूते, शृंगार सामान व मकान की साज सज्जा संग अन्य सामान भी बेहद कम दाम पर मिल जाते हैं। कुछ कंपनी तो आॅनलाइन खरीदारी पर कैश बैक भी देती हैं।

आॅनलाइन शॉपिंग की तरफ लोगों का रुझान बढ़ा है। आॅनलाइन मार्केट में दमदार दखल रखने वाली कंपनियों ने बेहतरीन आॅफर भी दे रखे हैं। कंपनियां आकर्षक आॅफर और डिस्काउंट देकर ग्राहकों को लुभा रही हैं। उधर, बाजार में स्थानीय व्यापारी ग्राहकों को लुभा नहीं पा रहे हैं। जानकारों की माने तो आॅनलाइन शॉपिंग में मोबाइल फोन की जमकर खरीदारी होती है। इसमें सबसे ज्यादा घड़ी, कपड़े, जूते, परफ्यूम, कॉस्मेटिक प्रोडक्ट, खिलौने, पर्स, बेल्ट, फ्रेम, साड़ी-सूट, आर्टिफिशियल ज्वैलरी समेत कई इलेक्ट्रानिक्स आइटम खरीदे जा रहे हैं।

आॅनलाइन शॉपिंग वेबसाइट, एप्लीकेशन पर नो कॉस्ट ईएमआई के कारण युवाओं में आॅनलाइन शॉपिंग का क्रेज बढ़ता जा रहा है। आॅनलाइन शॉपिंग के क्रेज के कारण युवा बाजार से सामान खरीदने के बजाए घर बैठे शॉपिंग कर रहे हैं। आॅनलाइन शॉपिंग पर लोगों को बड़ा कैशबैक, डिस्काउंट भी दिया जा रहा है।

इसलिए पसंद बन रही आॅनलाइन शॉपिंग

बाजार की तुलना में प्रोडक्ट की कीमत कम, पसंद की सैकड़ों डिजाइन और ब्रांड के प्रोडक्ट चुनना आसान, डिस्काउंट आॅफर के अलावा कार्ड से स्वैप करने पर अतिरिक्त लाभ, प्रोडक्ट डिलीवरी का शॉर्ट टाइम, पसंद नहीं आने पर एक्सचेंज करने का मौका, प्रोडक्स खरीदने से पहले लोगों के विचार जानने का अवसर, निमार्ता कंपनियों से सीधे ग्राहक तक आपूर्ति करने से आॅनलाइन शॉपिंग प्लेटफार्म सस्ते आदि कारणों से लोगों की पसंद बन रही है आॅनलाइन शॉपिंग।

फर्जी कंपनियों से सावधान

आॅनलाइन शॉपिंग में जरा सी चूक भारी पड़ सकती है। फर्जी कंपनियां भी आॅनलाइन ट्रेंड करती हैं, जो ग्राहकों की ओर से मंगवाए गए प्रोडक्ट में घटिया प्रोडक्ट भेज देती हैं। कुछ ग्राहकों के साथ आॅनलाइन एडवांस पेमेंट लेने के बाद भी प्रोडक्ट की आपूर्ति नहीं होती। वहीं, फेक कॉल से देकर ठगी भी हो रही है। एक्सपर्ट की मानें तो आॅनलाइन पेमेंट में सावधानी की जरूरत है। कई ऐसी कंपनियां भी हैं जो दिग्गज कंपनियों की हूबहू नकल कर आपकी जेब पर भारी पड़ सकती है। आॅनलाइन खरीदारी करते समय पहले कंपनी को जांच परख कर ही करें।

सामान पसंद न आए तो पैसे वापस

नेट पर कई साइट ऐसी भी मौजूद हैं जिनपर सामान आॅर्डर करने पर आपको पैसे नहीं देने पड़ते हैं। जब सामान आपके दरवाजे पर आ जाए और आप उससे संतुष्ट हों तभी उस चीज के पैसे दें और साथ ही सामान को भी सही से जांच लें।

ई-शॉपिंग के दौरान रखें सावधानी

  1. आॅर्डर करते समय खरीदी जा रही वस्तु की सही डीटेल दें। रंग, साइज के संबंध में भी सही-सही जानकारी डालें।
  2. कभी भी अपनी निजी जानकारी ई-शॉपिंग के दौरान न दें।
  3. शॉपिंग के दौरान डेबिट कार्ड से ज्यादा क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करें।
  4. प्रोडक्ट की गारंटी को आॅर्डर से पहले ही सुनिश्चित कर लें।
What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments