Tuesday, January 18, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutऊफ! हर तरफ जाम ही जाम

ऊफ! हर तरफ जाम ही जाम

- Advertisement -

जनवाणी संवाददाता |

मोदीपुरम: हाइवे पर सोमवार को वाहनों की संख्या में कई गुना इजाफा हो जाता है। टोल के दोनों ओर आधा-आधा किमी दूर तक वाहन खड़े रहे। एनएच-58 स्थित सिवाया टोल प्लाजा पर जाम की समस्या ने लोगों को हलकान कर दिया। आए दिन जाम की समस्या रहने के कारण लोगों को परेशानी से जूझना पड़ रहा है।

जिसके चलते लोगों को घंटों तक लाइन में ही खड़े रहना पड़ता है। टोल पर लगने वाले इस जाम से निपटने के लिए कोई उचित व्यवस्था अभी तक टोल प्रबंधन द्वारा नहीं की गई है। जिसके चलते लोगों को परेशनी से जूझना पड़ रहा है।

हालांकि टोल के इस जाम को खुलवाने में टोल प्रबंधन अतिरिक्त कर्मचारी लगाने का दावा करता है, लेकिन उसका यह दावा सिर्फ जाम के कारण फेल होता नजर आ रहा है। जाम की इस समस्या को देखते हुए देहात क्षेत्र के रास्तों का हाइवे से गुजरने वाले यात्री सहारा ले रहे हैं, लेकिन वहां भी जाम की शिकायत होने लगी है। जिसके चलते आए दिन छोटे-छोटे रास्ते होने के कारण हादसे बढ़Þ रहे हैं।

देहात के रास्ते हुए बदहाल

देहात के रास्तों से यात्रियों के गुजरने से मार्ग पूरी तरह ध्वस्त हो गए हैं। ऐसे में इन मार्गों से गुजरने वाले लोग अब चोटिल होने लगे हैं। टोल प्लाजा के शुल्क से बचने के लिए लोग इन रास्तों से गुजर रहे हैं।

सड़कों की बदहाली ने क्षेत्रीय वाशिंदों का चैन छीन लिया। दुकानदारों की दुकानदारी ठप हो गई तो राहगीरों का राह निकलना मुश्किल हो गया। आमजन यही बोले कि जिला प्रशासन के साथ जनप्रतिनिधियों को मार्गों की खस्ता हालत सुधारने की पहल करनी चाहिए।

ताकि आए दिन होने वाली दुर्घटनाओं से बचा जा सके। शहर ही नहीं बल्कि गांव देहात की सड़कें बदहाल हो गयी । दोपहिया वाहन स्वामी हो अथवा चार पहिया वाहन चालक हर कोई हिचकोले खाकर सफर पूरा करने को विवश हैं। क्योंकि सड़कें गड्ढों में तब्दील हो गई।

पूरे दिन भीषण जाम से जूझता रहा शहर

माल रोड, गढ़ रोड और दिल्ली रोड पर लगे जाम ने निकाला पसीना

मेरठ: सप्ताह के पहले दिन शहर को भीषण जाम कर सामना करना पड़ा। सुबह से लेकर देर शाम तक वाहनों की लंबी कतारों ने सर्दी के मौसम में भी पसीना निकाल दिया। ऐसी कोई सड़क नहीं थी जिसमें दिन भर में कई बार जाम न लगा हो। देर शाम के वक्त माल रोड पर वाहनों की लगी लंबी कतारों के कारण यातायात पूरी तरह से ध्वस्त हो गया। यही हाल हाईवे का भी रहा।

दीपावली और उससे जुड़े त्योहारों के बाद सोमवार को जब सरकारी कार्यालय खुले तो सड़कों पर अतिरिक्त भीड़ दिखाई दी। कचहरी पुल पर सुबह दस बजे से लेकर तीन बजे तक कई चरणों में जाम लगने के कारण लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

यही हाल मेघदूत पुलिया पर रहा। नेहरु रोड से वाहन निकल कर ईस्टर्न कचहरी रोड पर जब गए तो वहां उनको जाम से जूझना पड़ा। खैरनगर तिराहे से लेकर छतरी वाले पीर तक लगे जाम ने लोगों का पसीना निकाल दिया।

रेलवे रोड चौराहे पर होमगार्ड ट्रैफिक को संभाल नहीं पाये और कई बार इनकी नादानी जाम का कारण बन गई। रेपिड के कार्य के कारण दिल्ली रोड पर जाम लगना आम बात हो गई है लेकिन दोपहर के वक्त फुटबाल चौराहे पर रोडवेज की कई बसों के आ जाने से लगा जाम काफी देर बाद खुल सका।

शारदा रोड मोड पर खड़े ट्रैफिक पुलिसकर्मी सिर्फ मूकदर्शक बने खड़े रहे। बेगमपुल पर पीपी मोटर्स के पास और जीरो माइल तिराहे पर लगे जाम का असर माल रोड पर दिखाई दिया। रात के वक्त सैंकड़ों कारे माल रोड पर जाम का कारण बन गई।

वायरलेस पर जब जाम की सूचना फ्लैश हुई तब जाकर ट्रैफिक पुलिस अलर्ट हुई और जाम को खुलवाया गया। यही हाल बच्चा पार्क पर रहा। जब से कट बंद किया गया है तब से इस प्वाइंट पर जाम लगना आम बात हो गई है।

रानी अवंती बाई लोधी चौराहे पर बुढ़ानागेट से आने वाले वाहनों ने पहले बुढ़ानागेट चौकी के पास काफी देर तक जाम लगाया फिर बच्चा पार्क पर मुसीबत खड़ी कर दी।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments