Tuesday, September 21, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsBaghpatसिपाही के हमलावरों की तलाश में पुलिस ने जंगल में घंटों की...

सिपाही के हमलावरों की तलाश में पुलिस ने जंगल में घंटों की काम्बिंग

- Advertisement -
  • बदमाशों की तलाश में ड्रोन कैमरों की भी ली गई सहायता
  • पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पूरा दिन डाले रहे डेरा

जनवाणी संवाददाता |

बागपत: सिपाही के हमलावरों की तलाश में एसपी नीरज जादौन के नेतृत्व में गुरूवार को पुलिस ने घंटों जंगल में काम्बिंग की। इस दौरान ड्रोन कैमरों से बदमाशों की तलाश की गई लेकिन हमलावरों का कोई सुराग नहीं लगा है। गुरूवार को जनपद के सभी आला अधिकारी व करीब दस थानों की पुलिस जंगल में ही डेरा डाले रही और बदमाशों को तलाश में लगी रही। इस दौरान बंदपुर का पूरा जंगल एक प्रकार से पुलिस छावनी में तब्दील रहा । समाचार लिखे जाने तक काम्बिंग जारी थी।

बुधवार की रात 112 नम्बर पर तैनात सिपाही अरूण का बदमाशों ने गोली मार दी थी। उसका गाजियाबाद के एक अस्पताल में उपचार चल रहा है। गुरूवार को पुलिस को हमलारों के बंदपुर के जंगल में छिपे होने की सूचना मिली थी। इसके बाद पुलिस अलर्ट हो गई और जनपद के सभी थानों की पुलिस व पुलिस अधिकारियों को बंदपुर पहुंचने के आदेश दिए गए।

इसके बाद एसपी के नेतृत्व में पुलिस ने हमलावरों की तलाश में जंगल की नाकाबंदी कर काम्बिंग शुरू की गई। इस दौरान ड्रोन कैमरों की भी मद्द ली गई। हमालवरों की तलाश में जंगल में घंटों काम्बिंग चली लेकिन बदमाशों का काई सुराग नहीं लगा। समाचार लिखे जाने तक अधिकारी जंगल में डेरा डाले हुए थे और काम्बिंग जारी थी।

सीसीटी कैमरों की खंगाली जा रही है फुटेज

एसपी का कहना है कि हमलावरों का पता लगाने के लिए क्षेत्र में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज भी खंगाली जा रही है और हमलावरों की पहचान कर उन्हें शीघ्र ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

हमलावरों की तलाश ड्रोन कैमरे भी उड़ाए गए

काम्बिंग के अलावा हमलावरों का पता लगाने के ड्रोन कैमरों की भी मद्द ली जा रही है। इसके बाद भी अभी तक हमलावरों का कोई सुराग नहीं लगा है। सिपाही हमलावरों का पता लगाने के लिए पुलिस हर संभव प्रयास कर रही है। काम्बिंग के दौरान जंगल में पूरी सुरक्षा व्यवस्था की गई थी ताकि आरोपी भागने में सफल न हो सकें। इसके लिए करीब दस थानों की पुलिस के अलावा सात कम्पनी पीएसी लगाई गई थी। काम्बिंग के दौरान एक प्रकार से पूरे जंंगल की नाकाबंदी की गई थी।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments