Friday, January 27, 2023
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh Newsप्रमुख सचिव माध्यमिक, बेसिक शिक्षा विभाग और संयुक्त शिक्षा निदेशक ने की...

प्रमुख सचिव माध्यमिक, बेसिक शिक्षा विभाग और संयुक्त शिक्षा निदेशक ने की मुख्यमंत्री से भेंट

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

लखनऊ: स्कूल गेम्स फेडरेशन ऑफ इंडिया के प्रदेश से नवनिर्वाचित पदाधिकारियों दीपक कुमार, प्रमुख सचिव, माध्यमिक और बेसिक शिक्षा विभाग और संयुक्त शिक्षा निदेशक भगवती सिंह के द्वारा मुख्यमंत्री से भेंट की गई। इस अवसर पर मुख्यमंत्री द्वारा पदाधिकारियों को बधाई दी गई तथा प्रदेश के खेलों के विकास के लिए विभिन्न विभागों -युवा कल्याण, खेल विभाग तथा स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया के साथ समन्वय स्थापित करते हुए एक समन्वित कार्य योजना बनाने की अपेक्षा की गई।

मुख्यमंत्री द्वारा जमीनी स्तर पर खेलों की सुविधाओं को सुदृढ़ करने के लिए तथा विद्यार्थियों की कौशल क्षमता को बढ़ाने के लिए कार्य करने पर जोर दिया गया। उनके द्वारा यह भी अपेक्षा की गई कि ऐसे खेलों को बढ़ावा दिया जाए जो सर्व सुलभ हो तथा जिन से खिलाड़ी विद्यार्थियों को अपना कैरियर बनाने में योगदान मिल सके और सफलता की ऊंचाइयों को प्राप्त कर देश और प्रदेश का मान बढ़ा सकें।

स्कूल गेम्स फेडरेशन ऑफ इंडिया के चुनाव 17 जनवरी को जवाहरलाल नेहरू स्पोर्ट्स स्टेडियम में चुनाव अधिकारी उमेश सिन्हा रिटायर्ड आईएएस की देखरेख में संपन्न चुनाव में अध्यक्ष पद के लिए उत्तर प्रदेश के माध्यमिक और बेसिक शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव 1990 बैच के आईएएस अधिकारी दीपक कुमार निर्वाचित हुए हैं।

उपाध्यक्ष रवि कुमार गुप्ता (मध्य प्रदेश ), मुक्तेश सिंह भदेशा (छत्तीसगढ़), महासचिव कीर्ति पवार(नवोदय विद्यालय संगठन) कोषाध्यक्ष विस्मय व्यास (गुजरात)निर्वाचित हुए और सदस्यों में उत्तर प्रदेश से संयुक्त शिक्षा निदेशक भगवती सिंह, त्रिपुरा से पाइमग मोंग, एन आर मुरली, एम रामचंद्र (तमिलनाडु), डॉक्टर विजय दत्ता निर्वाचित हुए हैं।

SGFI का मुख्य उद्देश्य जमीनी स्तर (Grassroot level) पर खेलों का विकास करना है। यह पहले से खेल कैलेंडर तैयार करता है। कैलेंडर के आधार पर यह हर साल राष्ट्रीय स्तर पर अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग आयु समूहों जैसे अंडर 14, 17, 19 में लड़कों और लड़कियों के लिए राष्ट्रीय स्कूल खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन करता है। इन खेलों में बड़ी संख्या में खिलाड़ी भाग लेते हैं। यह संघ विभिन्न खेलों में अन्तर्राष्ट्रीय प्रतिभागिता के लिए अपनी टीमें भी भेजता है।

इन खेलों के संचालन के लिए भारत सरकार आर्थिक मदद भी देती है। स्कूल गेम्स फेडरेशन ऑफ इंडिया द्वारा आयोजित स्कूली खेलों की सफलता और प्रचार-प्रसार में राज्य सरकार और भारत सरकार के सहयोग प्रदान किया जाता है जिसके कारण खेलों के स्तर को ऊपर उठाने में मदद की है।

खेल मंत्रालय, भारत सरकार के द्वारा विहित नेशनल स्पोर्ट्स डेवलपमेंट कोड ऑफ़ इंडिया 2011 में प्रदत्त दिशा निर्देशों के अनुरूप इस संस्था की कार्यकारिणी के सदस्यों के चुनाव में देश के प्रत्येक प्रदेश से स्कूली खेलों का संचालन/आयोजन करने वाले विभाग के 02 प्रतिनिधि वोटरों द्वारा मतदान किया गया।

स्कूल गेम्स फेडरेशन ऑफ इंडिया की स्थापना 1954-55 में हुई थी। यह खेल और युवा मामलों के मंत्रालय भारत सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त है । यह भारतीय ओलंपिक संघ से भी संबद्ध है। सभी राज्यों के प्रतिनिधि इस कार्यकारी परिषद के सदस्य होते हैं। SGFI एशियन स्कूल स्पोर्ट्स फेडरेशन और इंटरनेशनल स्कूल स्पोर्ट्स फेडरेशन से संबद्ध है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments