Sunday, October 24, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsBaghpatएसपी कार्यालय के बाहर दुष्कर्म पीड़िता की दादी ने किया आत्मदाह का...

एसपी कार्यालय के बाहर दुष्कर्म पीड़िता की दादी ने किया आत्मदाह का प्रयास

- Advertisement -
  • पुलिस पर पीड़ितों के विरूद्ध झूठा मुकदमा दर्ज कर परेशान करने का आरोप
  • पीड़िता के परिजनों पर फैसले के लिए दबाव बना रहे हैं आरोपी

जनवाणी संवाददाता |

बागपत: दुष्कर्म पीड़िता के परिजनों के विरूद्ध एससी/एसटी एक्ट में फर्जी मुकदमा दर्ज करने से संम्प्रदाय विशेष के लोगों में रोष व्याप्त है। पीड़ितों ने पुलिस पर भी उन्हें परेशान करने का आरोप लगाया। इसके विरोध में शनिवार को समाज के लोगों ने एसपी आफिस पर धरना दिया और दुष्कर्म पीड़िता किशोरी की दादी ने एसपी कार्यालय के बाहर पेट्रोल छिड़कर आत्मदाह का प्रयास किया।

इससे एसपी कार्यालय पर मौजूद पुलिस कर्मियों में हड़कम्प मच गया। सूचना मिलने पर कोतवाली प्रभारी अजय शर्मा भी मय फोर्स के मौके पर पहुंच गए। उन्होंने किसी प्रकार समझा बुझाकर लोगों को घर भेजा। इस दौरान मौके मौजूद सीओ हरीश भदौरिया ने हंगामा कर रहे लोगों को आश्वासन दिया कि इस प्रकरण की जांच कराकर उनके विरूद्ध दर्ज मुकदमा निरस्त कर दिया जाएगा।

थाना बिनौली क्षेत्र के एक गांव में गांव के ही एक दलित युवक पर गत 9 अगस्त को घर में घुसकर एक 14 वर्षीय किशोरी के साथ दुष्कर्म का आरोप है। पीड़िता के परिजनों की तहरीर पर इस मामले में गत 15 अगस्त को मुकदमा दर्ज कर लिया था।

पुलिस ने गत 25 अगस्त को आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। आरोपी के जेल जाने के बाद उसके परिजनों ने अपनी एक महिला के साथ छेड़छाड़ करने व एसी/एसटी एक्ट में पीड़िता के चार परिजनों के विरूद्ध मुकदमा दर्ज करा दिया। इनमे पीड़िता के तीन चाचा व दादा शामिल हैं। इनमें एक आरोपी यूपी पुलिस में है और मुरादाबाद में तैनात बताया गया है।

पीड़ितों का आरोप है कि आरोपी के परिजन उन पर मुकदमा वापस लेने के दबाव बना रहे हैं और मुकदमा वापस न लेने पर जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। आरोप है कि पीड़िता के मुकदमे को कमजोर करने के लिए आरोपियों ने पीड़ितों के विरूद्ध फर्जी मुकदमा दर्ज कराया है। इसके विरोध में शनिवार को एक सम्प्रदाय विशेष के लोगों ने एसपी कार्यालय पर जमकर हंगामा किया और धरना दिया।

इस दौरान पीड़ितों ने फर्जी मुकदमा निरस्त करने की भी मांग की। इस दौरान सीओ के उत्तर से संतुष्ट न होने पर दुष्कर्म पीड़िता की दादी अनीसा ने एसपी मुकदमा निरस्त करने की मांग को लेकर एसपी आफिस के बाहर पेट्रोल छिड़कर आत्मदाह का प्रयास किया। इस दौरान परिजनों ने उसे पकड़ लिया और आग नहीं लगाने दी।

तमाशबीन बनीं रहीं पुलिस

इस दौरान मौके पर मौजूद पुलिसकर्मी तमाशबीन बनें रहे और लोग हंगामा करते रहे । सूचना मिलने पर कोतवाली प्रभारी मय फोर्स के मौके पर पहुंचे और समझा बुझाकर हंगामा कर रहे लोगों को शांत किया। सीओ क्राइम व कोतवाली प्रभारी ने आश्वासन दिया कि इस मामले की निष्पक्ष जांच कराई जाएगी और जांच के बाद मुकदमा निरस्त कर दिया जाएगा।

सीओ क्राइम को सौंपी जांच

इस संबंध में एसपी नीरज कुमार जादौन का कहना है कि थाना बिनौली में गत 15 अगस्त को एक किशोरी के साथ दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराया गया था। इस में आरोपी को गिरफ्तार कर पुलिस ने जेल भेज दिया है।

आरोपी के परिजनों ने किशोरी के परिजनों के विरूद्ध एससी/एसटी एक्ट में मुकदमा दर्ज कराया है। इस मुकदमें को किशोरी के परिजन झूठा बता रहे हैं। इस मामले को लेकर एक महिला ने आत्मदाह का प्रयास किया । उन्होंने बताया कि इस मामले की जांच सीओ क्राइम को सौंपी गई है। जांच रिपोर्ट आने के बाद ही कोई कार्रवाई की जाएगी।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments