Thursday, April 25, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutएक घंटा पहले पहुंचे परीक्षा केंद्र पर

एक घंटा पहले पहुंचे परीक्षा केंद्र पर

- Advertisement -
  • केंद्र अधीक्षकों को कंट्रोल रूम पर वीडियो कांफे्रेंसिंग से दिये निर्देश, समस्याओं का किया समाधान

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद् द्वारा आज से शुरू होने वाले हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षा की तैयारियों को बुधवार को अंतिम रूप दिया गया। बोर्ड के क्षेत्रीय सचिव और जिला विद्यालय निरीक्षक ने डीआईओएस कार्यालय पर बने कंट्रोल रूम से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से परीक्षा केंद्र व्यवस्थापकों को सभी तैयारियों का परीक्षण और निरीक्षण करने के निर्देश दिये।

इस दौरान उन्होंने परीक्षा से संबंधित सभी अधिकारियों को केंद्रों पर परीक्षा से एक घंटा पहले पहुंचकर व्यवस्था को दुरुस्त करने के निर्देश दिये। इस दौरान केंद्र व्यवस्थापकों की समस्याओं का भी निस्तारण किया गया। जिले के 102 परीक्षा केंद्रों पर आज से 09 मार्च तक चलने वाली परीक्षाओं की तैयारियों की जिला विद्यालय निरीक्षक राजेश कुमार और क्षेत्रीय सचिव कमलेश कुमार ने समीक्षा की।

बोर्ड से प्राप्त दिशा-निर्देशों को दोहराते हुये परीक्षा केंद्रों के व्यवस्थापकों, स्टेटिंग मजिस्ट्रेट, जोनल मजिस्ट्रेट और कक्ष निरीक्षकों को परीक्षा से एक घंटे पहले पहुंचने के निर्देश दिये गये। स्ट्रांग रूम की सुरक्षा में रात के लिये लगाई गई पुलिसकर्मियों की ड्यूटी का भी जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने परीक्षा केंद्रों के स्ट्रांग रूम पर प्रश्नपत्रों और उत्तर पुस्तिका पहुंचने से लेकर परीक्षा के दौरान वितरण और वापस संकलन के संबंध में जानकारी ली।

इस दौरान खजूूरी इंटर कालेज की प्रधानाचार्य द्वारा विषय परिवर्तन को लेकर किये गये सवाल का जवाब देते हुये कहा कि विषय परिवर्तन केवल प्रश्न पत्र उपलब्ध होने की दशा में परीक्षार्थी की अंडरटेकिंग देने के बाद किया जा सकेगा, जबकि वर्ग परिवर्तन किसी भी दशा में नहीं किया जायेगा।

कक्ष निरीक्षकों की आईकार्ड पर काउंटर साइन कराने के लिये उन्होंने जीआईसी प्रधानाचार्य से संपर्क करने को कहा। इस दौरान दुर्गा बाड़ी स्कूल की प्रधानाचार्या ने कक्ष निरीक्षकों की संख्या पूरी न होने की बात कही, जिसे पूरा कराने की बात क्षेत्रीय सचिव द्वारा कही गयी।

परीक्षा केंद्र देखने पहुंचे परीक्षार्थी

परीक्षा से एक दिन पहले बुधवार को मोदीपुरम से कुछ छात्र गवर्मेंट इंटर कालेज पर परीक्षा केंद्र देखने आये। बताया परीक्षा सुबह जल्दी शुरू होने के कारण सेंटर को ढंूढने में दिक्कत आ सकती थी, इसलिये वह एक दिन पहले ही निर्धारित परीक्षा केंद्र देखने आये हैं।

आईकार्ड पर काउंटर साइन कराने पहुंचे परीक्षा कक्ष निरीक्षक

जीआईसी में बुधवार को बड़ी संख्या में कक्ष निरीक्षक आईकार्ड पर काउंटर साइन के लिये पहुंचे। अधोहस्ताक्षरी जीआईसी कालेज के प्रिंसिपल उपेंद्र सिंह ने बताया कि डीआईओएस कार्यालय से जिन्हें भेजा जा रहा है उनके आईकार्ड पर कांउटर साईन किये गये हैं।

ईयरफोन लगाकर नकल करते धरा गया एमबीबीएस छात्र

चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय स्थित मा. काशीराम शोधपीठ के परीक्षा केंद्र पर बुधवार को गाजियाबाद और हापुड़ के निजी कालेजों के एमबीबीएस छात्रों की परीक्षा के दौरान एक छात्र को ईयरफोन लगाकर नकल करते हुये चेकिंग स्टाफ ने दबोच लिया। बाहर से सवालों का जवाब फोन पर बता रहे साथी पकड़े जाने से पहले ही भाग निकले। परीक्षा के दौरान पकड़े गये छात्रों में से सात के खिलाफ अनफेयर मीन्स यूएफएम की कार्रवाई की गयी।

दोपहर दो बजे से शाम पांच बजे तक एमबीबीएस की जनरल मेडिसिन ओल्ड, न्यू कोर्स कोड 402 की परीक्षा करायी गई। परीक्षा में हापुड़ के सरस्वती मेडिकल कालेज और गाजियाबाद के जीएस और रामा मेडिकल कालेज के कुल 389 छात्र उपस्थित हुये। इस दौरान चेकिंग स्टाफ द्वारा नियंत्रण कक्ष में लगी स्क्रीन से परीक्षा हॉल में लगे सीसीटीवी कैमरो की निगरानी की।

परीक्षा के दौरान कक्ष संख्या 303 में एक छात्र के होठ हिलते हुये देखने पर संदेह हुआ तो उसकी कक्ष में जाकर चेकिंग की गयी। उसके पास ईयरफोन मिला, जिसके माध्यम से उसे प्रश्नों के उत्तर जानने में मदद दी जा रही थी। प्रभारी डा. डीके चौहान ने चेकिंग टीम के साथ पहुंचकर छात्र को रंगे हाथों पकड़ लिया।

इसस पहले की उसे बाहर से मदद देने वालों को पकड़ने के लिये सुरक्षाकर्मी पहुंचते सभी वहां से भाग खड़े हुये। डा. चौहान ने बताया कि उनकी टीम ने सीसीटीवी की मॉनिटरिंग के दौरान कुल 12 छात्रों को पकड़ा। जिसमें से पांच को कड़ी चेतावनी देकर छोड़ दिया गया, जबकि सात के खिलाफ यूएफएम की कार्रवाई की गयी।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments