Monday, May 27, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutगंगा के जलस्तर में वृद्धि से खादर में बाढ़ का खतरा

गंगा के जलस्तर में वृद्धि से खादर में बाढ़ का खतरा

- Advertisement -
  • बिजनौर बैराज से डिस्चार्ज बढ़कर हुआ 1 लाख 57 हजार क्यूसेक, एसडीएम ने किया बाढ़ क्षेत्र का दौरा

जनवाणी संवाददाता |

हस्तिनापुर: पहाड़ी क्षेत्रों में रुक-रुक कर हो रही बरसात के चलते गंगा फिर से रौद्र रूप दिखाने लगी है। गंगा नदी के जलस्तर में चार दिन से लगातार हो रही वृद्धि के कारण गंगा किनारे बसे दर्जनों गांवों के ग्रामीणों के लिए चिंता का सबब बनी है। एसडीएम अखिलेश यादव ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्र और तटबंध का निरीक्षण किया।

04 8

बिजनौर बैराज पर तैनाज जेई पीयूष कुमार ने बताया कि बुधवार को गंगा नदी में चल रहे डिस्चार्ज में वृद्धि होने के चलते डिस्चार्ज बढ़कर 1 लाख 57 हजार और हरिद्वार से डिस्चार्ज 1 लाख 31 हजार क्यूसेक हो गया। बरसात के दिनों में गंगा नदी में चला रहा डिस्चार्ज सामान्य ही है, लकिन फिर भी खादर के निचले इलाकों में बाढ़ के हालत बन सकते हैं।

अब भी है कई गांव बाढ़ की चपेट में

गंगा के जलस्तर में हो रहे उतार-चढ़ाव के बाद गंगा के जलस्तर में आई कमी के बाद भी खादर क्षेत्र के गांव खेड़ीकलां, बधुवा, मनोहरपुर, दुपेड़ीचाव आदि लगभग आधा दर्जन गांव पानी से घिरे हुए हैं। गांवों को एक-दूसरे से सम्पर्क करने के लिए नावों का सहारा लेना पड़ रहा है।

हवा शांत, चढ़ रहा पारा

मोदीपुरम: हवा का रुख शांत होने के कारण गर्मी का रुख बढ़ रहा है। उमस भरी गर्मी कम नहीं हो रही है। जिसके चलते लोगों को गर्मी में परेशानी झेलनी पड़ रही है। हालांकि मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि मौसम में परिवर्तन होगा। गर्मी का रुख बढ़ने के कारण आई फ्लू की बीमारी ने अपने पैर पसार लिए है। जिसके चलते लोगों को परेशानी उठानी पड़ रही है। ऐसे में लोगों को बेहद सावधानी बरतनी होगी।

03 10

इसलिए लोगों को घरों से बाहर निकलते समय काले चश्मे का प्रयोग करना बेहद आवश्यक है। बुधवार को राजकीय मौसम वैधशाला पर दिन का अधिकतम तापमान 34.4 डिग्री एवं न्यूनतम तापमान 26.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। अधिकतम आर्र्र्द्रता 77 एवं न्यूनतम आर्द्रता 67 प्रतिशत दर्ज की गई। मौसम विशेषज्ञ डा. यूपी शाही का कहना है कि आने वाले दिनों में गर्मी का प्रकोप बढ़ेगा, फिलहाल मौसम में फिर परिवर्तन होने की संभावना है।

पीडब्ल्यूडी: नए मार्गों के निर्माण के लिए मंत्री संग चर्चा

मेरठ: लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) के अधिशासी अभियंता सतेन्द्र सिंह व संजय सिंह ने केन्द्रीय मंत्री संजीव बालियान से शिष्टाचार भेंट की। इस अवसर पर मंत्री संजीव बालियान व लोक निर्माण विभाग के दोनों अधिशासी अभियंताओं द्वारा विभाग द्वारा बनाए जाने वाले नए मार्गों व कुछ क्षतिग्रस्त मार्गोें के जीर्णोद्धार को लेकर चर्चा की गई। सूत्रों के अनुसार चूंकि यह दोनों अधिकारी मेरठ में अभी नए हैं।

लिहाजा शिष्टाचार के रूप में भी उक्त अधिकारियों ने मंत्री से मुलाकात की। बताया जाता है कि इस बातचीत के दौरान मंत्री संजीव बालियान के लोकसभा क्षेत्र के अन्तर्गत आने वाली क्षतिग्रस्त सड़कों पर भी चर्चा हुई। बताते चलें कि अधिशासी अभियंता संजय सिंह के क्षेत्र की अधिकतर सड़कें मंत्री संजीव बालियान के लोकसभा क्षेत्र में आती हैं, इसलिए इन सड़कों पर ज्यादा फोकस रहा। फलावदा-घटायन मार्ग पर भी फोकस रहा।

जबकि विभिन्न सेतु और नाबार्ड के अंतर्गन आने वाली विभिन्न सड़कों पर भी चर्चा की गई। सूत्रों के अनुसार उक्त मुलाकात संक्षिप्त थी। बताया जाता है कि मंत्री ने उक्त अभियंताओं को अगली बैठक में विस्तार से उक्त मार्गों पर चर्चा के लिए समय देने की बात कही है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments