Thursday, April 25, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutसड़क क्षतिग्रस्त, कैसे बनेगा शहर स्मार्ट?

सड़क क्षतिग्रस्त, कैसे बनेगा शहर स्मार्ट?

- Advertisement -
  • मवाना रोड से सिखेड़ा जाने वाले मार्ग की हालत खस्ताहाल

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: सड़कों को नगर निगम गड्ढा मुक्त नहीं कर पा रहा हैं, दावे स्मार्ट सिटी के किये जा रहे हैं। ऐसे कैसे स्मार्ट बनेगा शहर? कबाड़ से सौंदर्यीकरण करना अच्छी पहल हैं, मगर नगर निगम के अधिकारियों ने क्या कभी सड़कों को गड्ढा मुक्त करने की दिशा में भी कदम बढ़ाये। शहर की सड़कें अच्छी हो, सफाई व्यवस्था बेहतर हो, हर कोई यही चाहता हैं, लेकिन नगर निगम के अफसर सड़कों के नाम पर फर्जी तरीके से खजाना तो ढीला कर रहे हैं, लेकिन शहर को साफ-सुथरा बनाने की दिशा में कोई काम नहीं कर रहे हैं। सिर्फ बोलने मात्र से शहर को साफ-सुथरा नहीं बनाया जा सकता।

गंगानगर के वार्ड-20 डिफेंस कॉलोनी के ठीक पीछे की सड़क के हालात देखे हैं, सडक को नगर निगम अफसरों ने गड्ढा मुक्त करने की दिशा में कोई काम नहीं किया। सड़क का बुरा हाल हैं, इसको कोई देखता नहीं हैं। निगम के अफसरों ने लगता है खराब सड़कों की तरफ से आंखें मूंद ली हैं। पहले कहा जा रहा था कि बारिश पड़ रही हैं, इसके बाद सड़कों का निर्माण किया जाएगा।

18 2

इसके बाद अब क्यों सड़कों का निर्माण नहीं किया जा रहा हैं। मवाना रोड से सिखेड़ा गांव तक जाने वाली सड़क की हालत देखने लायक हैं। उस सड़क का निमार्ण कार्य नगर निगम द्वारा अभी तक भी पूरा नहीं कराया गया। सड़क पर चलने वाले वाहन चालको को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। धूल का गुब्बार पैदल चलने वाले राहगीरों के लिया परेशानी का सबब बन रहा है।

वार्ड-20 से भाजपा पार्षद विजय सोनकर ने बताया कि 1800 मीटर आरसीसी की सड़क का प्रस्ताव पास हो गया हैं, लेकिन बारिश के कारण कार्य रुक गया था। बजट भी पूरा आ गया है। ठेकेदार ने पेमेंट पूरा होने पर ही कार्य पूरा करने की बात कही थी। इसी कारण बजट आने के बाद कार्य शुरू हुआ। अब काम क्यों रुका हैं, पता नहीं हैं। नगर निगम के अफसर भी काम क्यों रुका है, इसे नहीं देख रहे हैं।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments