Wednesday, May 25, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -spot_img
HomeUttar Pradesh NewsMeerutरोहटा रोड: टेंट की पर्देदारी में चल रहा अवैध निर्माण

रोहटा रोड: टेंट की पर्देदारी में चल रहा अवैध निर्माण

- Advertisement -
  • यह कोई विवाह समारोह के लिए टेंट नहीं लगा है
  • बल्कि अवैध निर्माण छुपाने के लिए दूसरी मंजिल पर टेंट लगाया है

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: कमिश्नर सुरेन्द्र सिंह और प्राधिकरण उपाध्यक्ष मृदुल चौधरी की सख्ती के बाद भी अवैध निर्माण नहीं रुक पा रहे हैं। रोहटा रोड पर दूसरी मंजिल पर एक मकान का रात में लिंटर डाल दिया गया। लिंटर डालने से पहले टेंट लगाकर निर्माण को छुपाया गया। एक किलोमीटर की दूरी से ही ये मकान पर लगा टेंट दिख जाएगा। एक दिन नहीं, बल्कि पन्द्रह दिन से ये टेंट लगा हुआ हैं।

यहां कोई विवाह समारोह या फिर अन्य कार्यक्रम नहीं हैं, बल्कि अवैध निर्माण चल रहा हैं, जिसे छुपाने के लिए टेंट की पर्देदारी की गई हैं। यह भी एमडीए के इंजीनियरों को नहीं दिखता। इस पर कोई कार्रवाई एमडीए की तरफ से नहीं की गई, जिसके चलते अवैध निर्माणकर्ता के हौंसले इतने बुलंद है कि पन्द्रह दिन से टेंट लगाकर लगातार अवैध निर्माण किये जा रहे हैं। एमडीए इंजीनियरों की टीम यहां से हर रोज निकलती हैं, मगर इस अवैध निर्माण को नहीं रुकवाया गया।

निर्माण किया जा रहा हैं। लिंटर भी दूसरी मंजिल पर डल गया, लेकिन निर्माण को रुकवाने की जहमत एमडीए इंजीनियरों ने नहीं उठाई हैं। यही नहीं, रोहटा रोड पर दर्जन भर से ज्यादा बड़े निर्माण चल रहे हैं, जिसमें से एक का भी मानचित्र एमडीए से स्वीकृत नहीं हैं। इस तरह से अवैध निर्माण की रोहटा रोड पर बाढ़ आ गयी हैं। कंकरखेड़ा में लक्ष्य हॉस्पिटल के सामने तीन मंजिल कॉपलेक्स बना दिया गया हैं।

जब भी दो दिन की छूट्टी होती हैं, तभी इसका लिंटर डाल दिया जाता हैं। मुख्य सड़क पर यह अवैध निर्माण चल रहा हैं, लेकिन इस पर भी एमडीए कोई कार्रवाई नहीं कर रहा हैं। ग्राउंड स्तर से तीन मंजिल तक निर्माण मुख्य रोड पर कंकरखेड़ा में पहुंच गया, मगर एमडीए के इंजीनियरों को यह निर्माण नहीं दिखा। यही से कमिश्नर और एमडीए वीसी भी निकलते हैं, मगर इसका भी खौफ एमडीए के इंजीनियरों को नहीं हैं। यही वजह है कि अवैध निर्माणकर्ता को खुली छूट मिली हुई हैं।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
3
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -
spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments