Saturday, June 15, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutशहर में दिनदहाड़े दो हत्याओं से फैली सनसनी

शहर में दिनदहाड़े दो हत्याओं से फैली सनसनी

- Advertisement -
  • चाय विक्रेता की गोली मारकर की हत्या
  • बुलेट सवार बदमाशों ने दिया वारदात को अंजाम, परिजनों में मचा कोहराम

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: मेडिकल क्षेत्र एमआइटी स्कूल के समीप बाइक सवार दो युवकों ने चाय बेचने वाले की गोली मारकर हत्या कर दी। हत्यारों ने दो गोली मारी और मौके से फरार हो गए। घटना की जानकारी पर थाना पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर मेडिकल मोर्चरी भिजवाया। मेडिकल थाना क्षेत्र कुटी शास्त्रीनगर निवासी ओमकार सिंह पुत्र बीरबल जाग्रति विहार एक्सटेंशन एमआइटी स्कूल के समीप सड़क किनारे खोखा लगाकर चाय बेचता था। ओमकार मूल रुप से परीक्षितगढ़ क्षेत्र गांव गांवड़ा का रहने वाला था।

12 21

लेकिन वह कई वर्षों से मेडिकल क्षेत्र कु टी शास्त्रीनगर में परिवार के साथ रहने लगा था। परिवार में तीन बेटे और एक बेटी है। ओमकार शुक्रवार दोपहर अपने चाय के खोखे पर बैठा था। करीब सवा 12 बजे बुलेट बाइक पर दो युवक आये और ओमकार से कुछ बात करने लगे। इस बीच एक युवक ने बात करते हुए पिस्टल निकाली और ओमकार के सीने में गोली मार दी। ओमकार गोली लगते ही वहां से भागने लगा तो हमलावर ने दूसरी गोली उसकी पीठ में मार दी।

गोली लगते ही ओमकार खून में लथपथ होकर वहीं गिर गया। घटना की जानकारी स्थानीय लोगों ने थाना पुलिस को दी। सूचना मिलते ही मेडिकल पुलिस मौके पर पहुंची और घटना की छानबीन की। पुलिस ने आसपास खड़े प्रत्यक्षदर्शियों से हमलावरों के बारे में पूछताछ की। पुलिस को लोगों ने बताया कि बुलेट पर दो युवक आये और पहले बात की। फि र उसके बाद गोली मारकर चाय वाले की हत्या कर दी।

सूचना पर एसपी सिटी मौके पर पहुंचे और घटना की जानकारी की। पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर मेडिकल मोर्चरी भिजवा दिया। पुलिस ने मृतक के परिवार के सदस्यों से घटना के बारे में बातचीत की। परिजनों ने बताया कि उनकी किसी से रंजिश नहीं थी। पुलिस हत्यारों की तलाश में जुटी है।

मृतक का भाई होमगार्ड भावनपुर में तैनात

मेडिकल क्षेत्र में ओमकार की हत्या के बाद परिजनों ने बताया कि उसका एक भाई मुन्ना भारती भावनपुर थाने में तैनात है। ओमकार तीन भाईयों में मंझला था। भाई की मौत की खबर सुनकर मुन्ना भारती ने हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग की।

स्कूल संचालक ने पत्नी की गला रेतकर कर दी हत्या

मेरठ: लिसाड़ी गेट थाना क्षेत्र के तारापुरी जाटव वाली गली में स्कूल संचालक ने देर रात अपनी पत्नी की गला रेतकर हत्या कर दी। घटना के बाद से आरोपी फरार है। घटना की जानकारी आसपास के लोगों ने पुलिस को दी, जिसके बाद ही मौके पर पहुंची पुलिस ने घटना की जानकारी ली और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया हैं। उधर, पुलिस ने आरोपी की तलाश में दबिश दी, लेकिन आरोपी पुलिस के हाथ नहीं लगा।

पुलिस के मुताबिक तस्लीम की शादी 35 साल पहले तारापुरी जाटव वाली गली निवासी इसरार पुत्र रियाजुद्दीन के साथ हुई थी। पति इसरार स्कूल संचालक है। वकार पब्लिक स्कूल के नाम से स्कूल चलते हैं तथा मृतक तस्लीम से दो बेटे है। पति इसरार पत्नी तस्लीम पर शक करता था। गुरुवार को देर रात पत्नी के सोते समय पति इसरार ने धारदार हथियार से गला रेत कर हत्या कर दी। खून से लटपट शव को छोड़कर मौके से फरार हो गया।

कुछ देर के बाद मोहल्ले के लोगों ने पुलिस को घटना की जानकारी दी। मौके पर पहुंची थाना पुलिस ने घटना की जानकारी ली और शव को कब्जे में लेकर पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस ने बेटी की तहरीर के आधार पर पिता के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस ने आरोपी की तलाश शुरू कर दी हैं। सीओ कोतवाली अमित राय का कहना है कि तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है और आरोपी पति की गिरफ्तार के लिए दबिश दी जा रही हैं।

पबरसा गांव में फांसी पर झूला युवक

दौराला: क्षेत्र के एक गांव में शुक्रवार दोपहर एक युवक ने घर की छत में लगे पंखे पर चुनरी से फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। युवक को फांसी पर झूला देख परिवार में चीख-पुकार मच गई। सूचना पर आनन-फानन में पहुंची पुलिस ने शव को फंदे से नीचे उतारा। परिजनों और ग्रामीणों ने पुलिस कार्रवाई से इंकार कर दिया। थाना क्षेत्र के गांव पबरसा निवासी 22 वर्षीय अक्षय पुत्र स्व. विनोद दो बहनों और मां के साथ रहता था।

बताया गया कि शुक्रवार दोपहर को मां और बहनें के घर से बाहर जाने पर अक्षय ने घर की छत में लगे पंखे से चुनरी का फंदा लगा आत्महत्या कर ली। घर पहुंची मां-बहनों ने युवक को फांसी पर झूलते देखा तो उनकी चीख निकल गई। चीख सुनकर ग्रामीण मौके पर एकत्र हो गए। युवक के फांसी लगाने की जानकारी मिलने पर गांव में सनसनी फैल गई। आनन-फानन में पहुंची पुलिस ने युवक के शव को नीचे उतारते हुए पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेजने का प्रयास किया,

लेकिन परिजनों ने कार्रवाई से इंकार करते हुए शव को सुपुर्द करने की मांग की। जिस पर पुलिस ने शव को परिजनों के सुपुर्द कर दिया। परिजनों ने देर सायं शव का गमगीन माहौल में अंतिम संस्कार किया। बता दे कि बीते गुरुवार सुबह पबरसा गांव में एक महिला निकिता का शव भी फांसी पर झूलता मिला था। मामले में मृतक महिला के भाई गौरव ने मृतक की दो ननद और सास के खिलाफ थाने पर हत्या का मुकदमा दर्ज कराया।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments