Tuesday, May 21, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutसोतीगंज: वाहनों के पार्ट्स ले जाते पांच लोग गिरफ्तार

सोतीगंज: वाहनों के पार्ट्स ले जाते पांच लोग गिरफ्तार

- Advertisement -
  • पकड़े गए पांचों लोगों के पास से भारी मात्रा में पार्ट्स बरामद
  • कई सालों से पार्ट्स ले जाकर बेच रहे थे दिल्ली
  • पुलिस टीम सोतीगंज के कबाड़ियों की तलाश में जुटी, कई जगह दी दबिश

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: सोतीगंज को बंद हुए करीब डेढ़ माह बीत चुका है। इसके बावजूद सोतीगंज से चोरी के वाहनों के पार्ट्स की बिक्री बंद नहीं हो रही है। कबाड़ी पुलिस की आंखों में धूल झोंककर अभी भी अपना कारोबार जमकर कर रहे है। सोतीगंज से वाहनों के पार्ट्स ले जाते हुए पुलिस ने दिल्ली के पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए इन पांचों लोगों के पास से पुलिस ने भारी मात्रा में पार्ट्स बरामद किए हैं। हालांकि पुलिस इन लोगों से जुड़े सोतीगंज के कबाड़ियों की तलाश में दबिशे दें रही है।

एनसीआर समेत आसपास के कई राज्यों में बदनाम सोतीगंज बाजार को लेकर शहर पुलिस कर किरकिरी होती रहती थी। यही नहीं सोतीगंज के कबाड़ी पुलिस पर इतने भारी हो चुके थे कि आसपास के जनपदों से छापेमारी करने आई पुलिस टीम के साथ मारपीट तक कर देते थे। जिसको लेकर शहर पुलिस को भी शर्मिंदगी उठानी पड़ती थी। हालांकि एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने जब सोतीगंज में सख्ती दिखानी शुरू की तो अपने एक फरमान पर ही पूरे बाजार को बंद कर दिया है। हालात ऐसे बनें कि कबाड़ियों को अपना पुराना धंधा छोड़कर जूते-चप्पल, कपड़े और ढाबे खोलने शुरू कर दिए। यही नहीं पुलिस ने कबाड़ियों के द्वारा अवैध रूप से कमाई गई संपत्ति को भी कब्जाना शुरू कर दिया है।

जिसके चलते अब तक पुलिस कबाड़ियों की करीब 55 करोड़ की संपत्ति को कुर्क कर चुकी है। इसके बावजूद सोतीगंज के कबाड़ी पुलिस की आंखों में धूल झोंककर चोरी के वाहनों के पार्ट्स की खरीद-फरोख्त कर रहे है। मंगलवार रात में इस्लामाबाद चौकी इंचार्ज हापुड़ रोड पर वाहन चेकिंग कर रहे थे। इस दौरान उन्हें हापुड़ अड्ड़ा की ओर से बिजली बंबा की ओर को जाती हुई एक संदिग्ध गाड़ी दिखाई दी।

पुलिस ने गाड़ी को रुकने का इशारा किया तो चालक ने उसकी रफ्तार बढ़ा दी। पुलिस ने पीछा कर गाड़ी को पकड़ लिया और उसमे सवार पांच लोगों को हिरासत में ले लिया। इसके बाद पुलिस ने गाड़ी की तलाशी ली तो उसमे से भारी मात्रा में वाहनों के पार्ट्स बरामद हुए। चौकी इंचार्ज ने पकड़े गए पांचों लोगों से पूछताछ की तो उन्होंने बताया कि वह यह पार्ट्स सोतीगंज से खरीदकर दिल्ली में बेचते है और वह लोग यह कारोबार पिछले कई सालों से कर रहे है। पुलिस फिलहाल पकड़े गए पांचों लोगों से पूछताछ करने में जुटी है और उनसे जुड़े सोतीगंज के कबाड़ियों के बारे में भी पूछताछ कर रही है।

पार्ट्स की खरीद-फरोख्त बड़े स्तर पर

सोतीगंज से दिल्ली पार्ट्स ले जाते हुए पकड़े गए पांचों लोगों से पूछताछ करने के बाद लिसाड़ी गेट पुलिस ने कबाड़ियों की तलाश शुरू कर दी है। जिसके चलते थाना पुलिस ने दिल्ली से जुड़े कबाड़ियों की तलाश में सोतीगंज में कई जगहों पर दबिशें मारी, लेकिन उनका कोई पता नहीं चल सका है। वहीं, पुलिस जांच में सामने आया है कि सोतीगंज से अभी भी चोरी के वाहनों के पार्ट्स की खरीद-फरोख्त बड़े स्तर पर की जा रही है।

वाहन चोरों ने सोतीगंज के सात कबाड़ियों को बताया मददगार

सिविल लाइन थाना क्षेत्र से चोरी हुई आठ कारों का खुलासा करते हुए पुलिस ने तीन बदमाशों को गिरफ्तार कर उनके पास से सात गाड़ियों के पार्टस और एक कार बरामद करने के बाद जेल भेज दिया। गिरफ्तार बदमाशों ने बताया कि उनके द्वारा चोरी की गई कारों के पार्टस व नंबर बदलने में सोतीगंज के आठ कबाड़ी मदद करते थे।

एसपी सिटी विनीत भटनागर ने बताया कि तालिब पुत्र मुस्तकीम निवासी शाहपुर, साजिद पुत्र नजीर अहमद निवासी बुढ़ाना और वाजिद पुत्र इलियास को गिरफ्तार कर उनके पास से बिना नंबर की चोरी की बालेनो कार, सेंट्रो, वैगनआर, मास्टर चाबी, फर्जी आरसी, तमंचे और चाकू बरामद किये गए है। पूछताछ में वाजिद ने बताया कि चोरी किये गए वाहन काटकर कबाड़ में बेचने तथा कुछ वाहनों की पहचान, रंग, इंजन नंबर बदलने में सोतीगंज के कबाड़ी युनुस, आबिद लड्डू, साजिद और आशिक अली पुत्र समन निवासी स्कूल वाली गली सोतीगंज और हाजी शमशाद पुत्र जीजू, कासिम पुत्र युसुफ निवासी मस्जिद के पीछे और सलमान पुत्र शफीक अहमद निवासी गंज बाजार करते थे।

वहीं पकड़े गए बदमाशों ने बताया कि उनकी मदद कमाल पुत्र जहीर निवासी पलड़ा दोघट, सरफराज पुत्र मौजुदद्ीन निवासी समरगार्डन लिसाड़ीगेट और इमरान के साथ मिलकर कारें चोरी करते थे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments