Saturday, June 15, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutआलीशान कोठी पर लाइन हाजिर, बिजली चोरी में सस्पेंड

आलीशान कोठी पर लाइन हाजिर, बिजली चोरी में सस्पेंड

- Advertisement -
  • एसओ हस्तिनापुर धर्मेंद्र सिंह की परेशानियां बढ़ी कंकरखेड़ा थाने में मुकदमा दर्ज
  • एसएसपी ने बैठाई जांच, 1.5 लाख का जुर्माना भी

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: एसओ हस्तिनापुर धर्मेंद्र सिंह की परेशानियां कम होने का नाम नहीं ले रही है। वन क्षेत्र में आलीशान कोठी बनाने के कारण लाइन हाजिर किये गए थे। अब बिजली चोरी के आरोप में कंकरखेड़ा थाने में मुकदमा दर्ज होने के बाद एसएसपी ने निलंबित कर दिया है।

जब बाड़ ही खेत को खाने लगे तो कोई क्या कर सकता है। हस्तिनापुर एसओ धर्मेंद्र सिंह आलीशान फार्म हाउस के कारण पहले लाइन हाजिर हुए, बाद में बिजली चोरी में पकड़े गए। पॉवर कॉरपोरेशन ने शास्त्रीनगर स्थित आवास में जब छापा मारा तो बिना कनेक्शन के बिजली चलती मिली।

विद्युत विभााग ने एसओ धर्मेंद्र सिंह के खिलाफ बिजली चोरी का मुकदमा दर्ज करते हुए एक लाख रुपये का जुर्माना लगा दिया है। दोपहर बाद पॉवर कॉरपोरेशन के अधिकारियों के निर्देश पर बनाई गई टीम में उपखंड अधिकारी नवम मनोज कुमार, मुकेश कुमार अवर अभियंता जागृति विहार, संविदाकर्मी राधेश्याम, मनोज कुमार, रामवीर सिंह ने एसओ धर्मेंद्र कुमार के शास्त्रीनगर एस-टू-एस कॉलोनी में बने 50 लाख के फ्लैट नंबर-25 में छापा मारकर भारी मात्रा में बिजली चोरी पकड़ी है।

फ्लैट पर बिना कनेक्शन के ही बिजली का प्रयोग किया जा रहा था। हालांकि पिछले पांच छह माह से फ्लैट में कोई रह नहीं रहा था, लेकिन बिना कनेक्शन बिजली के उपयोग मिलने पर धर्मेंद्र सिंह के खिलाफ अवैध संयोजन की धारा 135 में एफआइआर दर्ज कराई गई है। इस फ्लैट की कीमत भी करीब 50 लाख रुपये बताई जा रही है। बिजली विभाग ने फिलहाल एक साल का एस्टीमेट वसूलने की तैयारी शुरू कर दी है।

वर्षों से होता रहा खेल, विभाग को भनक तक नहीं

बिजली विभाग द्वारा बिजली चोरी रोकने के लिए भले ही स्मार्ट मीटर के साथ-साथ अनेकों अभियान चलाए जा रहे हैं। उसके बावजूद अगर एक फ्लैट में इतने सालों से बिजली चोरी से जल रही थी। तो विभाग पर भी सवाल उठते हैं कि आखिर विभाग अब तक कहां सोया हुआ था। क्योंकि बिना मीटर के फ्लैट में बिजली की व्यवस्था चलती रही और विभाग को भनक तक नहीं लगी। ये भी बडे प्रश्न खड़ा करता हैं।

एसओ हस्तिनापुर के आवास पर बिजली विभाग का छापा

अधीक्षण अभियंता एके सिंह के अनुसार पूर्व एसओ हस्तिनापुर धर्मेंद्र सिंह एसटूएस कारनेशन कालोनी चाणक्यपुरी शास्त्रीनगर स्थित भवन में फ्लैट संख्या-2 एस में रहते हैं। अधिशासी अभियंता द्वितीय सोनू रस्तोगी समेत अन्य बिजली अधिकारियों के साथ जब छापा मारा गया तो फ्लैट में ताला लगा था।

फ्लैट के बाहर एक एसी लगा पाया गया है। भवन में स्थित पैनल से सीधे तार जोड़कर बिजली का उपयोग कर रहे थे। कंकरखेड़ा बिजली थाने में बिजली चोरी का मुकदमा दर्ज कराया गया है। करीब डेढ़ किलोवॉट लोड के आधार पर असेसमेंट किया जाएगा। एक साल की अवधि की लगभग 1.50 लाख रुपये की राजस्व वसूली की जाएगी। अधीक्षण अभियंता शहर ने बताया कि सम्बंधित फ्लैट में बिजली कनेक्शन के लिए भी कोई आवेदन नहीं किया गया है।

हमें सूचना मिली थी कि एसओ हस्तिनापुर धर्मेंद्र सिंह का मेरठ में भी आवास है। उसकी जांच की गई तो कनेक्शन लिया नहीं गया था। एक साल से डायरेक्ट केबल डाला हुआ था। इसके आधार पर एक साल का एक लाख रुपये का बिल वसूला जाएगा। साथ ही धारा 135 में मुकदमा भी दर्ज कराया गया है।                             -अशोक कुमार सिंह, अधीक्षण अभियंता

एसओ हस्तिनापुर लाइन हाजिर

हस्तिनापुर में अकूत संपत्ति का खुलासा होने पर एसएसपी ने एसओ हस्तिनापुर धर्मेंद्र सिंह को लाइन हाजिर कर दिया है। वहीं, सीओ मवाना इस पूरे प्रकरण की जांच करेंगे। हस्तिनापुर के वन क्षेत्र में हस्तिनापुर एसओ धर्मेंद्र सिंह ने आलीशान कोठी बनवाई है। इसमें स्वीमिंग पूल समेत तमाम आधुनिक साजसज्जा मौजूद है।

करोड़ों की इस कोठी को लेकर एसएसपी अजय साहनी ने तत्काल प्रभाव से लाइन हाजिर कर दिया है। वहीं, विभागीय जांच भी बैठा दी गई है। हस्तिनापुर कृषि क्षेत्र की लगभग दो बीघा जमीन में एसओ द्वारा द्रौपदी घाट के निकट बनाए गए आलीशान गेस्ट हाउस का खुलासा किया गया था।

इतना ही नहीं आलीशान गेस्ट हाउस की चौकीदारी के लिए थानेदार ने थाने के एक कांस्टेबल और होमगार्ड की ड्यूटी लगाई हुई थी। मामले का खुलासा होने पर थाना प्रभारी द्वारा बनाए गए इस आलीशान गेस्ट हाउस की कीमत करोड़ों में है। ऐसे में आयकर विभाग की नजर भी थाना प्रभारी पर टेढ़ी हो सकती है। पूरे दिन पुलिस विभाग में एसओ धर्मेंद्र सिंह की चर्चाएं होती रही।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments