Monday, January 24, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeINDIA NEWSभारतीय वायु सेना के तेजस ने चीन और पाक के जेएफ-17 को...

भारतीय वायु सेना के तेजस ने चीन और पाक के जेएफ-17 को छोड़ा पीछे

- Advertisement -

जनवाणी ब्यूरो |

नई दिल्ली: भारत का स्वदेशी फाइटर जेट लाइट कॉम्बेट एयरक्राफ्ट तेजस (LCA Tejas) अब और भी ज्यादा मारक होने जा रहा है। अब यह एयरक्राफ्ट युद्ध जैसे हालातों में पलक झपकते ही 70 किलोमीटर दूर बैठे दुश्मन के बंकरों को नेस्तनाबूत कर देगा।

दरअसल, भारतीय वायु सेना तेजस की मारक क्षमता को बढ़ाने जा रही है, इसके लिए फ्रांस से है हैमर मिसाइल का ऑर्डर दिया गया है, जो तेजस में तैनात होंगी।

चीन-पाक को दो टूक संकेत 

भारतीय वायु सेना तेजस की क्षमताओं में उस समय वृद्धि कर रही है, जब चीन और पाकिस्तान से भारत का गतिरोध बढ़ गया है। चीन एलएसी पर हर रोज  हिंसक स्थितियां उत्पन्न कर रहा है। ऐसे में भारतीय वायु सेना तेजस की क्षमताओं में वृद्धि करते हुए पाकिस्तान और चीन को दो टूक जवाब देना चाहती है।

हवा से जमीन पर हमला करने की बढ़ेगी क्षमता

फ्रांस की हैमर मिसाइल हवा से जमीन पर हमला करने में सक्षम है। यह मिसाइल 70 किमी दूर दुश्मन के कठोर से कठोर लक्ष्य को भेद सकती है। भारत को हैमर मिसाइल की पहली खेप तब मिली थी जब राफेल विमान भारत आया था।

अब भारत और हैमर मिसाइलों को मंगाकर इसे तेजस में तैनात करेगा, इससे भारतीय वायु सेना की हवा से जमीन पर मार करने की क्षमता में बढ़ोत्तरी होगी।

चीन-पाक के विमान से तेजस होगा और खतरनाक

भारत के तेजस लड़ाकू विमान को पहले से ही चीन और पाकिस्तान के जेएफ-17 विमान से अधिक सक्षम और उन्नत माना जाता है। ऐसे में हैमर मिसाइल जैसे नए अपडेट से यह विमान परिचालन और मारक क्षमताओं में जेएफ-17 को कहीं पीछे छोड़ देगा।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments