Sunday, June 4, 2023
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutगर्मी भारी पड़ने लगी मासूमों पर

गर्मी भारी पड़ने लगी मासूमों पर

- Advertisement -
  • मौसम में लगातार हो रहे परिवर्तन का असर मासूमों पर कहर बरपा रहा

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: लगातार बदलते मौसम की वजह से डायरिया व वायरल बढ़ रहा है। इसका सबसे ज्यादा शिकार मासूम बच्चे हो रहें है। जिला अस्पताल में रोजाना 200 से अधिक बच्चे उल्टी-दस्त व बुखार ग्रस्त होकर इलाज के लिए पहुंच रहे है। जबकि बच्चा वार्ड के सभी बैड फुल हो चुके है, बच्चों को दूसरे वार्डो में भर्ती किया जा रहा है। डाक्टरों का कहना है मौसम में लगातार होने वाले बदलाव की वजह से वायरल बढ़ रहा है।

जिला अस्पताल की पीडियॉट्रिक ओपीडी में रोजना 200 से 250 बच्चे इलाज के लिए पहुंच रहें है। इनमें बुखार, उल्टी-दस्त व वॉयरल से ग्रसित बच्चे हैं। वहीं बच्चा वार्ड के सभी बैड फुल हो चुके है जिस वजह से बच्चों को दूसरे वार्डो में भर्ती कराया जा रहा है। इनमें से ज्यादातर बच्चों नवजात तो काफी की आयु एक से पांच साल है। जिला अस्पताल के चाइल्ड स्पेशलिस्ट का कहना है पहले जहां मई के महिनें में सूरज की तपिश बढ़ जाती थी जिससे मौसम काफी गर्म हो जाता था।

ऐसे में गर्मी के मौसम में पनपने वाले मच्छर लू की वजह से मर जाते थे। वहीं इस बार बार-बार मौसम बदल रहा है, कभी बरसात तो कभी तेज हवा चल रही है जो मच्छरों के लिए काफी मुफीद साबित हो रहा है। इसी वजह से वायरल व संचारी रोगों में बढ़ोत्तरी हो रही है जिसका सबसे ज्यादा शिकार मासूम बच्चे हो रहें है। शहर में स्थित निजी अस्पतालों में भी वायरल व डायरिया से ग्रसित बच्चे इलाज के लिए पहुंच रहें हैं।

वहीं निजी चिकित्सकों के यहां भी उल्टी-दस्त व वारयल से पीड़ित बच्चों की भीड़ लग रही है। इनमें ऐसे बच्चे ज्यादा है जो नवजात है या जिनकी उम्र एक से पांच साल के भीतर है। जिला अस्पताल में बच्चों के डाक्टर राजीव गुप्ता का कहना है बच्चों के बीमार होने की मुख्य वजह लगातार बदलता मौसम है। दिन में गर्मी रहती है तो रात को मौसम ठंडा हो जाता है। इससे लगातार वायरल इन्फैक्शन फैल रहा है।

इसकी मुख्य वजह यह भी है कि छोटे बच्चों को मां अपना दूध नही पिलाती है जिससे बच्चों की इम्युनिटि कमजोर हो रही है। साथ ही मच्छरों की वजह से मां को वायरल होने पर जब वह बच्चों को दूध पिलाती है तो इससे बच्चा भी वायरल की चपेट में आ जाता है। इसलिए बीमार बच्चों को मां का दूध जरूरी है लेकिन मां को यह भी ध्यान रखना चाहिए कि वह खुद वायरल से ग्रस्त तो नहीं है।

चढ़ते पारे से बढ़ रही गर्मी आगे भी परेशान करेगी गर्मी

मोदीपुरम: तापमान राहत देने के बाद बढ़ता जा रहा है। बढ़ोतरी की ओर चल रहा पारा गर्मी को बढ़ा रहा है। आने वाले तीन-चार दिन में फिर से तापमान बढ़ने के साथ 40 पर पहुंच सकता है। बारिश के बाद कई दिन तक मौसम ने काफी राहत दी। मई माह में गर्मी का असर शुरुआत में दिखाई नहीं दिया। अब धीरे-धीरे गर्मी बढ़ती जा रही है। मौसम बदल रहा है। मई के आने वाले दिनों में मौसम ओर भी गर्म होगा।

पिछले कई दिन से मौसम में बदलाव देखने को मिल रहा है। मौसम कार्यालय पर दिन का अधिकतम तापमान 36.4 डिग्री व रात का न्यूनतम तापमान 20.1 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। अधिकतम आर्द्रता 39 व न्यूनतम 28 प्रतिशत दर्ज की गई। मौसम वैज्ञानिक डा. यूपी शाही का कहना है कि चार-पांच दिन गर्मी ज्यादा रहेगी और तापमान बढ़ेगा।

साथ ही रात के तापमान में भी बढ़ोतरी होगी। दिन में धूप का असर तेज रहेगा। फिलहाल कोई सिस्टम बनता हुआ नहीं दिख रहा है। वहीं, मेरठ का एक्यूआई 154 और बागपत में 306, गाजियाबाद में 162, मुजफ्फरनगर में 137 रहा। जबकि जयभीमनगर में 166, गंगानगर में 114, पल्लवपुरम में 149 दर्ज किया गया।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
3
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments