Saturday, June 15, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsSaharanpurकोविड काल में बच्चों में बढ़ गया मोटापा

कोविड काल में बच्चों में बढ़ गया मोटापा

- Advertisement -
  • मोटे बच्चों में डायबिटीज व हड्डियों की कमजोरी का खतरा
  • बच्चों को फिजीकल एक्टिविटी कराएं, फास्ड फूड से बचाएं

जनवाणी संवाददाता  |

सहारनपुर: आउटडोर एक्टिविटी न कर पाने के कारण कोविड काल में बच्चों में मोटापे की समस्या बढ़ गई है। अस्पतालों की ओपीडी में हर रोज ऐसे बच्चे पहुंच रहे हैं जो मोटापे के चलते परेशान हैं।

दरअसल, कोविड के चलते बच्चों के जीवन में कई तरह के परिवर्तन हुए हैं। शारीरिक गतिविसधियां एकदम रुक गईं और मानसिक रूप से भी बच्चों को परेशानी हुई। अचानक बदलाव से यह समस्या गंभीर हो रही है।

सीएमओ डा. संजीव मांगलिक ने बताया कोविड काल में बच्चों का खेलना-कूदना बंद हो गया। बच्चे घरों में कैद होकर रह गए हैं। यूं तो सरकार की ओर से स्कूल खोले जाने की अनुमति मिल गई है लेकिन अभी भी अधिकतर स्कूलों में ऑनलाइन पढ़ाई हो रही है।

घंटों कम्प्यूटर व मोबाइल के सामने बैठने व फास्ट फूड का अत्याधिक सेवन बच्चों की सेहत के लिए घातक हो रहा है। वजन तेजी से बढ़ रहा है। उन्होंने बताया कि कई अभिभावकों ने दो साल में बच्चों का वजन आठ से 15 किलो तक बढ़ने की बात कही है।

उधर, मोटापे की वजह से पनपी समस्या लेकर ओपीडी में रोजाना 10 से 15 मरीज आ रहे हैं। कोविड से पहले ऐसे बच्चों की संख्या रोजाना केवल दो से तीन तक रहती थी। पहले ज्यादातर लोगों में डायबिटीज 40 साल की उम्र के बाद देखने को मिलती थी। मोटापे के शिकार बच्चों का आसानी से डायबिटीज की जद में आने का खतरा रहता है।

इसके अलावा मोटापा अपने आप में बीमारी है। इसकी वजह से व्यक्ति दिल, डायबिटीज, गठिया, बांझपन, हड्डियों की कमजोरी और ब्लड प्रेशर समेत दूसरी बीमारियों की चपेट में आ सकता है।

डा. मांगलिक के मुताबिक मोटापा अधिक होगा, तो बच्चे की शारीरिक क्रिया उतनी ही खराब होगी। ऐसे बच्चों में सांस संबंधी तकलीफ का खतरा ज्यादा रहता है। कोरोना वायरस जो सांस संबंधी तकलीफ का कारण है|

वह मुश्किल खड़ी कर सकता है। वजन बढ़ने से बच्चे आलसी हो गए हैं। जिला अस्पताल की डाइटीशियन नजमा ईरम का कहना है कि बच्चों के खान-पान पर नियंत्रण रखें। कसरत कराएं। यदि फिर भी वजन में कमी नहीं आ रही है तो डायटीशियन से परामर्श लें।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments