Saturday, May 25, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutसदर गुफा वाले मंदिर में लगी रहती है भक्तों की भीड़

सदर गुफा वाले मंदिर में लगी रहती है भक्तों की भीड़

- Advertisement -
  • काफी संख्या में भक्त पहुंचते हैं मां के दरबार

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: माता वैष्णों देवी की पूजा करने वालों के लिये मेरठ में भी मां के साक्षात्कार दर्शन कराये जाते हैं। यहां सदर स्थित गुफा वाले मंदिर में पहुंचकर भक्त मां के दर्शन कर वैष्णो देवी की तरह ही प्रतीत करते हैं। जो आनंद उन्हें वहां जाकर प्राप्त होता है भक्तों को वही आनंद यहां सदर स्थित गुफा वाले मंदिर में भी मिलता है।

मां वैष्णो देवी में आस्था रखने वाले भक्तों के लिए मेरठ में सदर स्थित गुफा वाला मंदिर एक स्थान है, जहां पहुंचकर वह ऐसा महसूस करते हैं कि मानो जम्मू स्थित मां वैष्णो देवी के दरबार में आ गए हैं। मंदिर का निर्माण भी जम्मू स्थित मां वैष्णो देवी मंदिर की तर्ज पर किया गया है। यहां पर भी गुफा बनाई गई है जिससे ऐसा प्रतीत होता है मानों गुफा से होकर मां के दर्शन करने जा रहे हैं।

15 7

यहां भी मुख्य मंदिर में तीन पिंडी माता काली, लक्ष्मी और सरस्वती मां की बनाई गर्इं हैं। नवरात्र में इस मंदिर की छठा कुछ और ही दिखाई पड़ती है। यहां भक्तों का भी तांता लगा रहता है मान्यता है कि जो भी मां से मन्नत मांगता है वो जरूर पूरी होती है। मंदिर की मुख्य पुजारी कुसुम शर्मा ने बताया कि मंदिर का निर्माण 1973 में हुआ। पंजाबी परिवार की कुछ महिलाओं ने मिलकर मंदिर की नींव रखी और इसके बाद मंदिर का निर्माण हुआ।

इसे रघुनाथ मंदिर भी कहा जाता था। वर्ष 2005 में इसका निर्माण फिर से कराया गया था वैष्णो देवी की तरह से मंदिर का निर्माण कराया गया जिसके बाद यहां गुफा भी बनाई गई और इस मंदिर की पहचान गुफा वाले मंदिर के रूप में हो गई। मंदिर में मातारानी की पिंडी प्राण प्रतिष्ठा के बाद स्थापित की गई। नवरात्र में मंदिर में सुबह शाम पूजन होता है। शाम चार बजे से छह बजे तक रामायण पाठ किया जाता है और महिला संकीर्तन भी होता है।

मंदिर परिसर में स्वास्थ्य लाभ के लिए योग कक्षा भी चलाई जाती हैं। पुजारी ने बताया कि मंदिर में सुख, समृद्धि और शांति के लिए भक्त नियमित रूप से मां के दरबार में दर्शन के लिए आते हैं। सूर्योदय के साथ मंदिर में भक्तों का आना आरंभ हो जाता है जो शाम तक जारी रहता है। नवरात्र में मंदिर में भक्तों की संख्या बहुत अधिक रहती है।

मां कात्यायनी की पूजा-अर्चना को उमड़े भक्त

नवरात्र के छठे दिन गुरुवार को मां कात्यायनी की आराधना की गई। मां दुर्गा की छठी शक्ति माता कात्यायनी की पूजा के लिए शहर सभी देव मंदिरों में सुबह से ही श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी। श्रद्धालुओं ने मां का अभिषेक और पूजा-अर्चना कर उपवास रखा और परिवार में सुख शांति एवं समृद्धि के लिए कामना की। श्री रामा संकीर्तन मंदिर लालकुर्ती द्वारा नवरात्रों व आगामी श्रीराम नवमी पर्व के उपलक्ष्य में जनजागरण व कीर्तन का आयोजन बाबा मानसनाथ महादेव मंदिर, मानसरोवर कॉलोनी, मेरठ पर किया गया।

शुरुआत विधि-विधान द्वारा पूजन से की गई। उसके बाद श्री गणेश वंदना प्रथम पूजनीय देवता से की गई। भगवान श्रीराम, जगतजननी मां जगदम्बा, श्रीकृष्ण, बोले शंकर, श्री हनुमान व श्री लक्ष्मी नारायण जी के भजनों ने भक्तों का ध्यान ईश्वर में लीन कर दिया। अशोक त्यागी, नरेंद्र वत्स, प्रमोद कुमार, अजय त्यागी, गौरव मित्तल, मुकुल मित्तल, यशवर्धन, चौहान, अलका गुप्ता, सुरेंद्र गुप्ता, शशि शर्मा, मधु, संतोष, भामा मित्तल, मंजू त्यागी, सुशील गोयल, मनीषा गर्ग, उर्मिला आदि भक्त उपस्थित रहे।

सिविल लाइंस स्पोर्ट्स स्टेडियम के सामने स्थित मां बगलामुखी धाम यज्ञशाला में आचार्य प्रदीप गोस्वामी ने माता का आह्वान कर हवन यज्ञ में आहुतियां दी। इसके अलावा मनसा देवी मंदिर, सदर दुगार्बाड़ी मंदिर, गोल मंदिर, सदर काली माई मंदिर, बाबा मनोहर नाथ, झारखंडी महादेव मंदिर, मनसा देवी मंदिर कमिश्नरी आदि मंदिरों में सुबह से माता का पूजन हुआ।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments