Tuesday, May 28, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutकड़ी सुरक्षा: गैर जनपदों से 5398 पुलिसकर्मी आएंगे मतदान में

कड़ी सुरक्षा: गैर जनपदों से 5398 पुलिसकर्मी आएंगे मतदान में

- Advertisement -
  • 804 दारोगा और 4594 सिपाही तैनात रहेंगे 2047 बूथों पर

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: विधानसभा चुनाव के दस फरवरी को होने वाले पहले चरण के मतदान के लिये सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये गए हैं। मेरठ के 1171 पोलिंग सेंटरों के 2047 बूथों के लिये गैरजनपदों से 804 इंस्पेक्टर या दारोगा और 4594 सिपाहियों को लगाया जा रहा है। इसमें 4178 सशस्त्र और 495 बिना शस्त्र वाले जवान भी शामिल है। इसके अलावा स्थानीय पुलिसकर्मी तैनात रहेंगे।

पुलिस महानिरीक्षक कानून व्यवस्था डा. संजीव गुप्ता ने बताया कि पहले चरण के लिये मेरठ में होने वाले मतदान के लिये बाराबंकी से 171 दारोगा, 778 हेड कांस्टेबल, रायबरेली से 76 दारोगा, 507 सिपाही, लखनऊ कमिश्नरेट से 317 दारोगा, 1930 सिपाही, लखनऊ ग्रामीण से 47 दारोगा, 296 सिपाही, फतेहगढ़ से 85 दारोगा, 466 सिपाही, औरेया से 69 दारोगा, 384 सिपाही और पावर कारपोरेशन से 86 दारोगा और 312 सिपाही दिये जा रहे हैं। आईजी ने बताया कि सिविल पुलिस बल के न्यूनतम मानक के अनुसार विधानसभा सामान्य निर्वाचन-2022 के प्रथम एवं द्वितीय चरण के जनपदों की आवश्यकता के क्रम में सिविल पुलिस बल की तैनाती को लेकर निर्देश जारी कर दिये गए हैं।

दूसरे जनपद द्वारा भेजे जाने वाले पुलिस बल की नामवार सूची पीएनओ नंबर सहित प्रत्येक दशा में प्राप्तकर्ता जनपद को (प्रथम व द्वितीय चरण के चुनाव के लिए) समय से उपलब्ध करायेगे। इस नामवार सूची में सशस्त्र एवं नि:शस्त्र कर्मचारियों का स्पष्ट उल्लेख किया जाये। इस सूची में किसी भी दशा में अन्तिम क्षणों में परिवर्तन न किया जाये। अपरिहार्य परिस्थितियों में किये जाने वाले परिवर्तनों की सूचना तत्काल सम्बन्धित जनपदों को उपलब्ध करायेंगे।

उक्त नामवार सूची भेजते समय इस बात का ध्यान रखा जाये कि किसी भी दशा में सम्बन्धित कर्मचारी को उसके गृह जनपद के लिए नामित न किया जाये। उपरोक्त सम्बन्ध में यह भी स्पष्ट किया जाता है कि जिस जनपद से पुलिस बल उपलब्ध कराया जायेगा, उसी जनपद द्वारा बस उपलब्ध कराई जायेगी।

सम्बन्धित कर्मियों की रवानगी थानेवार न करके पुलिस लाइन से रवाना किया जाये तथा रवाना करते समय आवश्यक फोटोग्राफी/वीडियोग्राफी करावी जाये तय की जाने वाली कुल दूरी 400 किमी या उससे अधिक की है तो मध्य रास्ते में पुलिस बल के ठहरने एवं उनके भोजन के सम्बन्ध में।

यदि दूरी 400 किमी या उससे अधिक की है तो पुलिस बल के ठहरने एवं उनके भोजन के लिए संबंधित जनपद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक/पुलिस अधीक्षक, रास्ते के मध्य के जनपद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक/पुलिस अधीक्षक से समन्वय स्थापित कर रात्रि विश्राम के लिए उचित स्थान की व्यवस्था करायेंगे। जनपद स्तर पर नागवार ड्यूटी लगाते समय इस बात का विशेष ध्यान रखा जाये कि मतदान केन्द्र/मतदेय स्थल ड्यूटी पर अन्य जनपदों/इकाइयों से प्राप्त पुलिस बल को ही व्यवस्थापित किया जाये इस के लिए चुनावी जनपदों को पर्याप्त संख्या में पुलिस बल का आवंटन किया गया है।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments