Sunday, February 25, 2024
HomeUttar Pradesh NewsMeerutईंट से पीट-पीटकर ले ली युवक की जान

ईंट से पीट-पीटकर ले ली युवक की जान

- Advertisement -
  • दोस्तों के साथ शराब पीने के दौरान हुआ था झगड़ा

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: जिन दोस्तों के साथ वह दिन रात उठता बैठता था, वहीं दोस्त खून के प्यासे हो गए और पीट-पीटकर जान ले ली। वाक्या टीपीनगर थाना क्षेत्र का है जहां बुधवार की दोपहर शराब पीने के बाद हुए विवाद में दोस्तों ने ही एक युवक को ईंट से पीट-पीट कर मौत के घाट उतार दिया। युवक का शव घर के सामने ही एक खाली प्लॉट में बरामद होने के बाद हड़कंप मच गया। प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि अभी इस मामले में कोई तहरीर नहीं मिली है।

 

14 22

रेलवे रोड पर जीवन रक्षा हॉस्पिटल के सामने रहने वाला 22 वर्षीय नितिन उर्फ पव्वा बुधवार दोपहर घर से निकला था। काफी देर बाद क्षेत्रवासियों ने नितिन के घर के सामने ही खाली प्लॉट में खून से लथपथ नितिन का शव पड़ा देखा तो इलाके में हड़कंप मच गया। घटना की जानकारी मिलने के बाद मृतक के परिवार में कोहराम मच गया। घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने जांच-पड़ताल की।

युवक की हत्या ईंट से पीट-पीट कर की गई थी। शव के पास ही खून से सनी डिस्पोजल प्लेट और खाली गिलास आदि भी बरामद हुए। अनुमान लगाया जा रहा है कि जिन लोगों के साथ नितिन ने बैठकर शराब पी, उन्होंने ही विवाद के दौरान पीट-पीट कर नितिन की हत्या कर दी। प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। अभी मृतक के परिजनों ने कोई तहरीर नहीं दी है। सीओ सुचिता सिंह ने बताया कि पुलिस कार्रवाई कर रही है।

हादसे में किसान की मौत

सरूरपुर: कस्बा करनावल निवासी अमित उर्फ नीटू पुत्र (35) आजाद देर शाम खेत में ट्रैक्टर से जुताई करवा रहा था। बताया गया है कि ट्रैक्टर उसका दूसरा भाई चल रहा था। जबकि वह ट्रैक्टर पर पीछे बैठा हुआ था। परिजनों ने बताया कि खेत में रूटरी से जुताई की जा रही थी। इस दौरान अचानक असंतुलित होकर अमित ट्रैक्टर से नीचे जा गिरा और रूटरी की चपेट में आ गया।

13 23

जिसके चलते तेज धारदार रूटरी की चपेट में आने से कटकर मौत हो गई। इससे पहले कि चालक कुछ समझ पाता, जब तक युवक काटकर बुरी तरह से मौत के मुंह में जा चुका था। हादसे को लेकर मौके पर मौजूद अन्य लोगों के भी दिल दहल गए। सूचना पाकर मौके पर कभी भीड़ जमा हो गई और परिवार वालों में कोहराम मच गया। उधर, युवक की मौत की खबर को लेकर कस्बे में भी गम का माहौल बना रहा।

ट्रेन की चपेट में आकर सिपाही की मौत

दौराला: दिल्ली-हरिद्वार रेलवे ट्रेक पर सकौती स्टेशन के पास बुधवार की सायं मालगाड़ी ट्रेन की चपेट में आकर एक सिपाही की मौत हो गई। सिपाही की जेब रखे मोबाइल पर कॉल आने पर शिनाख्त हुई। पुलिस ने सिपाही के परिजनों को जानकारी दी। पुलिस ने शिनाख्त होने पर सिपाही के शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। वहीं, देर रात पोस्टमार्टम मांग को लेकर सपाइयों ने हंगामा किया।

सकौती चौकी क्षेत्र के शाहपुर जजीद निवासी 48 वर्षीय अशोक कुमार पुत्र महाराज सिंह सहारनपुर के बड़ागांव थाने पर सिपाही के पद पर तैनात थे। बताया गया कि बुधवार शाम अशोक कुमार सहारनपुर डयूटी जाने के लिए शाहपुर जजीद स्थित घर से निकला था। सकौती स्टेशन पर पहुंचने पर मालगाड़ी की चपेट में आकर मौत हो गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने सिपाही की शिनाख्त का प्रयास किया, लेकिन शिनाख्त नहीं हो पाई।

सिपाही की जेब में रखे मोबाइल पर आई कॉल से मृतक की शिनाख्त हुई। कॉल करने सिपाही की मोदीपुरम निवासी बहन उर्मिला ने शिनाख्त हुई। सिपाही की मौत की जानकारी मिलने पर परिवार में कोहराम मच गया। सिपाही की बेटी रिया देहरादून कालेज में और बेटा वाशू सिंह कानपुर में बीटेक की पढ़ाई कर रहा है। मृतक की पत्नी सतेश देवी का रो-रोकर बुरा हाल हो रहा था। पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया।

ट्रेन की चपेट में आया युवक, मौत

मेरठ: ब्रहमपुरी थाना क्षेत्र नूरनगर रेलवे ट्रैक पर एक युवक का शव मिलने पर क्षेत्र में सनसनी फैल गई। शव मिलते ही क्षेत्र के तमाम लोग एकत्र हो गये। सूचना के बाद परिजन भी मौके पर पहुंचे। शव देख परिजनों में कोहराम मच गया। सूचना मिलते ही पुलिस मृतक के आवास पर पहुंची और घटना की जांच पड़ताल की। ब्रहमपुरी थाना क्षेत्र नूर नगर रेलवे हाल्ट के पास एक युवक का रेलवे ट्रेक पर शव मिला तो स्थानीय लोगों ने पुलिस को सूचना दी।

लोगों के अनुसार बुधवार सुबह करीब आठ बजे युवक रेलवे लाइन क्रास कर रहा था। जिसके चलते वह ट्रेन की चपेट में आ गया। जिसकी मौके पर मौत हो गई। उधर, स्थानीय लोगों की सूचना पर ब्रहमपुरी पुलिस मौके पर पहुंची और घटना की जांचपड़ताल की। सूचना मिलते ही परिजन भी मौके पर पहुंचे और शव की शिनाख्त प्रवीण के रूप में की। परिजन शव को कब्जे में लेकर घर आ गये।

पुलिस के अनुसार प्रवीण मंदबुद्धि था। उसकी पत्नी एक साल पहले उसे छोड़कर चली गई थी। तभी से उसके दिमागी की हालत सही नहीं थी। वह मंदबुद्धि था। उधर, परिजनों ने पुलिस को शव का पोस्टमार्टम कराने से इनकार कर दिया। पुलिस ने औपचारिकता कर शव परिजनों को सौंप दिया।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments