Saturday, June 10, 2023
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutशराब का ठेका खुलने पर महिलाओं का हंगामा

शराब का ठेका खुलने पर महिलाओं का हंगामा

- Advertisement -
  • आक्रोशित लोगों ने गंगानगर थाने का किया घेराव

जनवाणी संवाददाता |

गंगानगर: थाना क्षेत्र के कसेरूखेड़ा सीवरेज प्लांट पुल के सामने अंग्रेजी शराब का ठेका खोलने पर शनिवार रात को महिलाओं ने जमकर हंगामा किया। स्थानीय महिला सावित्री शर्मा, हरेंद्र देवी, काजल, मुन्नी देवी, कुमकुम ने बताया कि शनिवार शाम को पुल के सामने अंग्रेजी शराब ठेका खोलने की जानकारी मिली दुकान मालिक नीटू से जब शराब का ठेके खुलने का विरोध किया तो उसने महिलाओं के साथ गाली-गलौज कर दी

जिस पर महिलाओं का आक्रोश बढ़ गया। महिलाओं ने प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करनी शुरू कर दी। स्थानीय लोगों ने बताया कि पूर्व में यह है ठेका खटकाना पुल के पास था। ठेके का लाइसेंस गाजियाबाद निवासी गौरव गुप्ता के नाम है। महिलाओं का साफ तौर पर कहना है कि शराब का ठेका खोलने पर लड़की और महिलाओं का निकलना दुश्वार हो जाएगा। शराब का ठेका खुलते ही आसपास मीट की दुकान और शराबियों का जमघट लगना शुरू होगा

जिससे लोगों को आने जानें में परेशानी का सामना करना पड़ेगा। सूचना पर गंगानगर थाना प्रभारी दिनेश प्रताप सिंह फोर्स सहित मौके पर पहुंचे और हंगामा कर रहे लोगों को शांत किया।लोगों में बढ़ते आक्रोश को देखते हुए यूपी 112 की भी फोर्स को बुलाया गया। हंगामा कर रहे लोगों कहना है रविवार को डीएम दीपक मीणा को ठेका हटाने के संबंध में ज्ञापन दिया जाएगा यदि उनकी मांग नहीं मानी गई तो आंदोलन के लिए मजबूर होंगे

और शराब का ठेका किसी भी कीमत पर खुलने नहीं दिया जाएगा। स्थानीय लोगों के आक्रोश को देखते हुए फिलहाल शराब के ठेके पर पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। जिस दुकान में यह शराब का ठेका खोला गया है। पूर्व में यह रालोद नेत्री मनीषा अहलावत का कार्यालय था। दुकान मालिक नीटू भी रालोद नेता है। स्थानीय लोगो का आरोप है की नेताओं की सांठगांठ से ठेका खोला जा रहा है। यदि शराब का ठेका खोला गया तो इसका पुरजोर विरोध किया जाएगा।

दौराला में सरसों के खेत को लेकर विवाद

मछरी गांव में शनिवार को ग्राम प्रधान गुरविंदर व दौराला निवासी रविंद्र अहलावत के बीच खेत में खड़ी सरसों को लेकर विवाद हो गया। मछरी गांव निवासी प्रधान गुरविंदर सिह ने बताया कि ग्राम पंचायत की भूमि पर दौराला निवासी ने कब्जा कर सरसों की फसल उगा रखी है। इसको लेकर मामले की शिकायत एसडीएम सरधना से भी की गई थी। एसडीएम के आदेश पर सरसों की कटाई रुकवा दी गई।

आरोप है कि शनिवार को भी सरसों काटी जा रही थी। जिस, पर उन्होंने एसडीएम सरधना व 112 को फोन पर जानकारी दी। उनके पहुंचने से पहले ही रविंद्र अहलावत व उनके कुछ साथियों ने उन पर हमला बोल दिया। धारदार हथियार से हमला होने के चलते वह घायल हो गए। वहीं, रविंद्र अहलावत ने आरोप लगाते हुए बताया कि वह अपनी रिश्तेदार सुरेश देवी के साथ सरसों की फसल देखने गया था।

इस दौरान प्रधान गुरविंदर ने अपने पुत्रों के साथ मिलकर उन पर हमला बोल दिया। जिसमें वह घायल हो गए। थाने पहुंचे दोनों पक्षों ने एक दूसरे पर आरोप लगाते हुए तहरीर दी। जानकारी मिलने पर तहसीलदार व लेखपाल भी थाने पहुंचे। साथ ही सीओ दौराला अभिषेक पटेल भी थाने पहुंच गए और घटना की जानकारी ली।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
3
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments