Thursday, April 25, 2024
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutउत्तर प्रदेश वक्फ विकास निगम घाटे में !

उत्तर प्रदेश वक्फ विकास निगम घाटे में !

- Advertisement -
  • शासन को लिखा पत्र, वित्तीय अनियमित्ताओं का आरोप
  • तत्काल निदेशक मंडल की बैठक बुलाने की मांग
  • वक्फ के सहायक सर्वे आयुक्त कटघरे में

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: क्या उत्तर प्रदेश वक्फ विकास निगम लि. घाटे में आ गया है। जन सूचना अधिकार के तहत मांगी गई जानकारी में यही बात निकल कर सामने आई है। इसी आधार पर उत्तर प्रदेश वक्फ विकास निगम लि. के निदेशक शफाअत हुसैन ने बगावत का झंडा बुलंद कर दिया है और शासन से इस मामले में हस्तक्षेप की मांग की है। निदेशक शफाअत हुसैन ने अल्पंसख्यक कल्याण मंत्रालय के साथ साथ उत्तर प्रदेश वक्फ विकास निगम लि. के अध्यक्ष को पत्र लिखकर सहायक सर्वे आयुक्त (वक्फ) विजय कुमार मिश्र कोे कटघरे में खड़ा किया है।

उनका आरोप है कि शासन ने जब विजय कुमार मिश्र को उनके पद के दायित्वों के साथ साथ उत्तर प्रदेश वक्फ विकास निगम लि. का सहायक महाप्रबंधक का अतिरिक्त पदभार सौंपा था तब सरकारी आदेश में साफ लिखा था कि अतिरिक्त जिम्मेदारियों की ऐवज में विजय मिश्र को अतिरिक्त वेतन भत्ते मान्य नहीं होंगे। जो पत्र शासन को लिखा गया (पत्र की प्रति जनवाणी के पास सुरक्षित है) है उसमें निदेशक की ओर से साफ आरोप लगाए गए हैं कि विजय कुमार मिश्र अपने अतिरिक्त पद के दायित्वों का निर्वाह्न शासन के आदेशों के विपरीत कर रहे हैं

तथा वो पिछले वर्ष सितम्बर के महीने से लेकर इस वर्ष अक्टूबर तक लाखों रुपए विभिन्न मदों में खर्च कर चुके हैं जिसके चलते निगम घाटे में है तथा निगम के कर्मचारियों के वेतन और बोनस से लेकर अनुग्रह राशि के भुगतान तक का टोटा हो गया है। निदेशक ने इस संबध में शासन से शीघ्र ही निदेशक मंडल की बैठक बुलाने की मांग की है तथा शासन के आदेशों की अवहेलना करने के आरोप में निगम के सहायक महाप्रबंध विजय मिश्र के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर कानूनी कार्रवाई करने की मांग की है। निदेशक ने यहां तक चेतावनी दी है कि यदि उनकी मांग न मानी गई तो वो कोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Recent Comments