Friday, February 3, 2023
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutपश्चिमी विक्षोभ सक्रिय, मौसम में हुआ बदलाव

पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय, मौसम में हुआ बदलाव

- Advertisement -
  • दोबारा लौट आई हाड़कंपाने वाली ठंड

जनवाणी संवाददाता |

मोदीपुरम: मौसम में बदलाव आने के कारण तापमान में गिरावट दर्ज की गई। अभी दो-तीन दिन मौसम ऐसे ही बने रहने की संभावना है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने से मौसम ने फिर से करवट बदली है। ठंड दोबारा लौट आईं। बुधवार को दिनभर आसमान में बादल छाए रहे और धूप के दर्शन नहीं हुए। मौसम में बदलाव आने से तापमान में भी मामूली गिरावट दर्ज की गई है।

हवाओं की रफ्तार बढ़ने से ठंडी हवा का अहसास फिर से बढ़ने लगा है। सरदार वल्लभभाई पटेल कृषि विश्वविद्यालय के मौसम वैज्ञानिक का कहना है कि अभी दो-तीन दिन मौसम ऐसे ही बना रहेगा। बूंदाबांदी के आसार भी बने हुए हैं। मौसम कार्यालय पर दिन का अधिकतम तापमान 19.3 और न्यूनतम तापमान 13.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। अधिकतम आर्द्रता 93 एवं न्यूनतम आर्द्रता 78 प्रतिशत दर्ज की गई।

हवा का रुख सुबह शांत रहा। दोपहर में छह किमी प्रति घंटा और शाम को शांत रहा। मौसम विशेषज्ञ डा. यूपी शाही के अनुसार अभी मौसम का रुख ऐसा ही रहेगा। वेस्ट यूपी में फिर से सर्दी का प्रकोप बढ़ेगा। जिसके चलते लोगों की फिर से परेशानी बढ़ेगी। फिलहाल मौसम में बूंदाबांदी की संभावना बनी हुई है।

बूंदाबांदी से कम हुआ प्रदूषण

हवा का तेज चलना प्रदूषण के लिहाज से बेहद अच्छा है। बारिश के होने से प्रदूषण में बेहद कमी आ गई। हल्की बूंदाबांदी होने के कारण आसमान में जमे डस्ट पार्टिकल बूंदाबांदी होने से धुल गए हैं। जिसके चलते प्रदूषण में कमी आई है। मेरठ में प्रदूषण का स्तर इस समय बेहद अच्छा है, लेकिन तीन दिन के बाद से फिर प्रदूषण के बढ़ने की संभावना है।

ऐसे में प्रदूषण के प्रकोप को कम करने के लिए बेहद सावधानी और जागरूकता बरतनी होगी। शहर में प्रदूषण का स्तर मेरठ में 102, जयभीमनगर में 89, गंगानगर में 107, पल्लवपुरम में 111 आदि। जबकि इन शहरों में प्रदूषण का स्तर मुजफ्फरनगर में 156, बागपत में 150, गाजियाबाद में 136 आदि दर्ज किया गया।

मैराथन विद्युत कटौती ने किया लोगों का बुरा हाल

सरधना: बुधवार को सरधना क्षेत्र में मेराथन विद्युत कटौती ने लोगों का बुरा हाल कर दिया। करीब छह घंटे की विद्युत कटौती की गई। सुबह को गुल हुई बिजली आपूर्ति शाम तक ही सुचारू हो सकी। बिजली आने के बाद लोगों ने राहत की सांस ली।

दरअसल, पिछले कुछ दिनों से सरधना क्षेत्र की विद्युत आपूर्ति बिगड़ी पड़ी है। रोजाना विद्युत लाइन में फाल्ट होने के कारण बिजली आपूर्ति बाधित हो रही थी। बुधवार को विद्युत विभाग द्वार विद्युत लाइन की मरम्मत का कार्य किया गया। जिसके चलते बुधवार सुबह नौ बजे विद्युत आपूर्ति बंद कर दी गई। पूरे दिन लाइन पर मरम्मत का कार्य किया गया।

मेराथन विद्युत कटौती के कारण लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। करीब छह घंटे की विद्युत कटौती की गई। शाम को तीन बजे के करीब विद्युत आपूर्ति सुचारू की गई। इसके बाद लोगों ने राहत की सांस ली। इस संबंध में जेई संजीव कुमार का कहना है कि लाइन की मरम्मत का कार्य किया गया था। जिसके चलते आपूर्ति बंद की गई थी। लाइन दुरुस्त होने के बाद क्षेत्र की विद्युत आपूर्ति सुचारू करा दी गई।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
2
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments