Tuesday, October 19, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsMeerutसर्दी का बढ़ा सितम, रात और हुई सर्द

सर्दी का बढ़ा सितम, रात और हुई सर्द

- Advertisement -
  • दो दिन राहत के आसार नहीं, अभी और बढ़ेगा सर्दी का कहर

जनवाणी ब्यूरो |

मेरठ/मोदीपुरम: जिले में सर्दी का सितम लगातार बढ़ रहा है। लोगों का हाल बेहाल होने लगा है। बफीर्ली हवाएं कंपकंपी बढ़ा रही है। ठंडी हवाओं का सबसे ज्यादा असर मासूमों पर हुआ है। पिछले एक हफ्ते से ठंड बढ़ गई है। पहाड़ों से आती बफीर्ली पछुआ हवाओं ने प्रदेश को गलन भरी ठंड की चपेट में लेना शुरू कर दिया है।

शुक्रवार को दिन भर चली हवाएं हाड़ कंपा रही हैं। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कुछ शहरों में तो तापमान तीन डिग्री के करीब जा पहुंचा। मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि प्रदेशवासियों को अभी इस तरह गलन भरी ठंड से राहत मिलने वाली नहीं है। पश्चिमी हिस्सों में तो बफीर्ली हवाएं ठंड बढ़ाएंगी ही, पूर्वी उत्तर प्रदेश में भी शीतलहर बढ़ेगी।

सर्दी का सितम जारी है। दिसंबर का अभी आधा ही महीना बीता है और हाड़ कांपा देने वाली ठंड से लोगों की कपकपी छुटने लगी है। सुबह के समय कोहरा व दिन में शीतलहर से बचने के लिए लोग आग का सहारा ले रहे हैं। मंगलवार की रात सीजन की अब तक की सबसे सर्द रात दर्ज की गई।

दिसंबर माह का आधा माह बीत चुका है और सर्दी भी अपनी चरम सीमा पर पहुंचने लगी है। शीतलहर का प्रकोप बढ़ा है और लगातार तापमान में गिरावट दर्ज की जा रही है। यहीं कारण रहा कि मंगलवार रात पारा लुढ़क कर पांच डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। अभी तक सीजन में मंगलवार की रात सबसे सर्द रात दर्ज की गई। मौसम विज्ञानियों की माने तो 19 और 20 दिसंबर को पारा ओर लुढ़कने से अधिक ठंड रहेगी।

हालांकि बारिश की संभावनाएं कम है। मौसम कार्यालय पर बुधवार को दिन का अधिकतम तापमान 18.4 डिग्री सेल्सियस व न्यूनतम तापमान 4.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। अधिकतम आर्द्रता 80 व न्यूनतम आर्द्रता 31 प्रतिशत दर्ज की गई। हवा की रफ्तार चार से छह किमी प्रतिघंटा दर्ज की गई।

वहीं, इस संबंध में मौसम वैज्ञानिक डा. एम शमीम का कहना है कि 19 एवं 20 दिसंबर को तापमान रात का तापमान और रिकॉर्ड तोड़ सकता है। दोनों दिन अधिक ठंड रहेगी। दिन का तापमान भी गिरेगा। हालांकि अभी बारिश की कोई संभावना नहीं है। हवा का असर जायदा रहेगा।

ठंड ने किया जीना मुहाल

हफ्ते भर पहले तक दिसंबर में भी गर्मी महसूस की जा रही थी, लेकिन पहाड़ों में हुई बर्फबारी और वहां से आती बफीर्ली हवाओं के चलते प्रदेश में दिन के न्यूनतम और अधिकतम तापमान में भारी गिरावट देखी गई। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में पारा कुछ इस तरह लुढ़का हुआ है कि रात के वक्त ये तीन डिग्री तक पहुंच रहा है। क्रांतिधरा सबसे ठंडे शहर में रिकॉर्ड किए गए।

चटख धूप के बीच पछुआ हवा का दम

प्रदेश के ज्यादातर शहरों में दिन के वक्त धूप खिली रहती है। हालांकि इसके बावजूद पछुआ के झोंके सर्दी बढ़ा रहे हैं। पश्चिमी यूपी के ज्यादातर शहरों में अधिकतम पारा भी तेजी से नीचे आता हुआ दिखा।

अभी नहीं मिलेगी राहत

अधिकतम और न्यूनतम पारे में गिरावट ने प्रदेश में लोगों का घरों से निकलना मुहाल कर रखा है। सड़कों पर जो लोग निकल रहे हैं वो भारी-भरकम गर्म कपड़ों में हैं। गलन इस कदर हावी है कि शाम के बाद ज्यादातर जगहों पर अलाव जलाकर लोग उसके आसपास बैठे हुए दिख रहे हैं। मौसम के विशेषज्ञों के मुताबिक फिलहाल ठंड से कम होने के बजाय इसके बढ़ने की ही आशंका है। पूर्वी उत्तर प्रदेश में कोहरा बढ़ेगा और पछुआ हवाओं का कहर पूरे प्रदेश में अभी जारी रहेगा।

ऐसे करें बचाव

  • बच्चे और वृद्घ सुबह के समय में घर से न निकले और हाथ-पैर ढककर रखे।
  • ठंड के साथ कोरोना का कहर भी बना हुआ है, ऐसे में मुंह को ढककर बचाव किया जा सकता है।
  • ठंडे पानी की जगह गुनगुने पानी का प्रयोग करें।
What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments