Saturday, April 17, 2021
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutगोदाम में आग से जिंदा जला दवा कारोबारी

गोदाम में आग से जिंदा जला दवा कारोबारी

- Advertisement -
0
  • पुलिस का किसी प्रकार की साजिश से इनकार, हादसा दिया करार, परिजनों में मचा कोहराम

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: नौचंदी थाना के गढ़ रोड एक गली में स्थित पुश्तैनी मकान के एक हिस्से में बनाए गए दवा गोदाम में अचानक शार्ट सर्किट से आग लग गयी। आग में घिरने के कारण गोदाम के मालिक राजीव शर्मा की मौत हो गयी। उनकी मौत से परिवार में कोहराम मचा हुआ है।

परिजनों को रो-रोकर बुरा होल है। राजीव शर्मा का यह पुश्तैनी मकान है। इस मकान के दो कमरे उनके हिस्से में आए हैं। इसी मकान के दूसरे हिस्से में उनके तीन अन्य भाई जिसमें अमित शर्मा व दो अन्य शामिल हैं वो भी रहते हैं। पुश्तैनी मकान का बंटवारा होने के बाद उन्होंने अपने परिवार के लिए जागृति विहार में एक मकान खरीद लिया, जहां उनके पत्नी व बच्चे रहते हैं। राजीव ने अपने हिस्से के एक कमरे में दवाओं का गोदाम बनाया हुआ था।

करीब 20 साल से यहां यह गोदाम है। एक कमरे में वो लिखा पढ़ी का काम करते थे। कई बार खुद यहां रुक भी जाते थे। शनिवार तड़के करीब चार बजे जिस कमरे में दवाओं का गोदाम बनाया हुआ है उसमें अचानक शार्ट सर्किट से आग लग गयी। आग इतनी भयंकर थी कि राजीव शर्मा को भी संभलने का मौका नहीं मिल सका। वह आग में बुरी तरह से घिर गए।

अन्य लोगों को आग हादसे की जानकारी तब हुई जब अचानक तेज विस्फोट हुआ। तो लोगों ने बाहर की ओर झांका, देखा तो राजीव शर्मा के दवा गोदाम से आग के शोले निकल रहे थे। उनके भाई अमित शर्मा ने पुलिस कंट्रोल 112 को सूचना दी तो दमकल वाहन वहां पहुंच गए। आग पर काबू पाया गया। इंस्पेक्टर नौचंदी प्रेमचंद शर्मा भी फोर्स के साथ वहां आ गए।

पूरा मोहल्ला तब तक जाग चुका था। सैकड़ों लोग जमा हो गए। दकमलकर्मियों ने आग पर शीघ्र काबू पा लिया। आग पर काबू के बाद राजीव शर्मा का पूरी तरह से जल चुका शव कब्जे में लेकर पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस ने किसी प्रकार की साजिश की बात से इनकार किया है।

ये कहना है सीएफओ का

जिला अग्निशमन अधिकारी संतोष राय ने बताया कि आग पर काबू पाने के बाद की गयी जांच पड़ताल में किसी प्रकार के विस्फोट के होने के साक्ष्य नहीं मिले हैं। जहां तक विस्फोट होने की बात है तो कुछ दवाएं ऐसी होती हैं जिनमें एल्कोहल व अन्य रासायनिक मिश्रण होते हैं। आग पकड़ने पर ऐसी दवाओं में विस्फोट होता है। इसके अलावा वहां सैनिटाइजर भी था। उससे भी विस्फोट संभव है। किसी प्रकार की साजिश की बात सामने नहीं आयी है।

ये कहना है इंस्पेक्टर नौचंदी का

इंस्पेक्टर नौचंदी प्रेमचंद शर्मा का कहना है कि जांच में किसी प्रकार की साजिश की बात सामने नहीं आयी है। यह दुखद हादसा है। होली जैसा पर्व उस पर किसी परिवार का मुखिया यूं चला जाना बेहद दुखद है। सिर्फ शार्ट सर्किट के कारण हुआ हादसा है।

ये कहना है केमिस्ट एसोसिएशन का

जिला केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट एसोसिएशन के महामंत्री रजनीश कौशल ने बताया कि खैरनगर दवा मार्केट से युवक को कोई खास संबंध नहीं था। उनके कारोबार को लेकर भी खैरनगर के दवा कारोबारियों के पास कोई खास जानकारी नहीं है, लेकिन घटना दुखद है।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments