Friday, January 28, 2022
- Advertisement -
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutउपभोक्ताओं को अगले माह से मिलेगा सरसों का तेल

उपभोक्ताओं को अगले माह से मिलेगा सरसों का तेल

- Advertisement -

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: राशन कार्डधारकों को अब दिसंबर माह में नि:शुल्क नमक, साबुत चना, दाल व खाद्य तेल मिलेगा। इस संबंध में लखनऊ मुख्यालय में निर्णय लिया जा चुका है। एक या दो दिन में सभी जिलापूर्ति कार्यालयों में इस संबंध में आदेश प्राप्त हो जाएंगे। विभाग की ओर से यह योजना दिसंबर से होली तक के लिये होगी जिससे कार्डधारकों को भी लाभ पहुंचेगा।

उत्तर प्रदेश सरकार अंत्योदय और पात्र गृहस्थी कार्डधारकों को दिसंबर से मार्च तक नि:शुल्क खाद्यान्न उपलब्ध करायेगी। जिसमें नमक, साबुत चना, खाद्य तेल में सरसों का तेल आदि शामिल होगा। कैबिनेट में फैसला होने के बाद खाद्य एवं रसद विभाग की ओर से भी इसमें निर्णय लिया जा चुका है।

अब आने वाले एक या दो दिन में इस संबंध में आदेश प्राप्त होने की उम्मीद है। इसमें अंत्योदय और पात्र गृहस्थी कार्डधारकों को प्रति कार्ड एक किलोग्राम दाल या साबुत चना, एक किलोग्राम नमक, रिफाइंड या सरसों तेल एक लीटर दिया जाएगा। यह सामग्री पैकेट में उपलब्ध होगी। इसे लेकर जिलास्तर पर जोरों से तैयारी हो चुकी है।

एआरओ जोगेन्द्र सिंह ने बताया कि इस योजना को लेकर तैयारी शुरू की जा रही है। हालांकि क्या बंटेगा और कितना बंटेगा? इस संबंध में अभी आदेश आने बाकी है। एक या दो दिन में स्थिति पूरी तरह से स्पष्ट हो जाएगी।

गोदाम प्रभारी राशन विक्रेताओं का कर रहे उत्पीड़न

कट्टे का वजन भी तोला जा रहा खाद्यान्न के साथ कमिश्नर से की शिकायत

मेरठ: खाद्य गोदामों पर घटतोली रुकने का नाम नहीं ले रही है। गोदाम प्रभारी कट्टे का वजन तक बिना तोले दुकानदारों को खाद्यान्न दे रहे हैं। इसे लेकर गोदाम प्रभारी की शिकायत कमिश्नर तक पहुंची है। जिसमें उनक पर मनमानी करने का आरोप लगाया गया है। बता दें कि खाद्य गोदामों पर घटतोली का मामला कोई नया नहीं है|

यहां राशन दुकानदारों की मानें तो उन्हें गोदामों से पूरा राशन नहीं मिल रहा है। बता दें कि शासन की ओर से जूट के कट्टे का वजन 650 ग्राम व प्लास्टिक के कट्टे का वजन 180 ग्राम निर्धारित है, लेकिन गोदाम प्रभारी जूट के कट्टे का वजन 400 ग्राम व प्लास्टिक के कट्टे का वजन तक नहीं देते। गोदाम प्रभारी वितरण रजिस्टर व माल उठान रशीद में गलत तरीके से कागजों को पूरा करते हैं।

शिकायतकर्ता राजकुमार कौशिक ने इस संबंध में एक शिकायत कमिश्नर कार्यालय में सौंपी और गोदाम प्रभारियों की जांच की मांग की है। उन्होंने बताया कि गोदामों पर भाड़े के नाम पर भी दुकानदारों से छह रुपये प्रति कुंतल की वसूली की जाती है। उन्होंने इस मामले को लेकर गोदाम प्रभारियों के कागजों की जांच कराये जाने और गोदाम का औचक निरीक्षण कराये जाने की मांग की है।

उन्होंने कहा कि सभी गोदामों पर यही हाल है। कहीं भी दुकानदारों को पूरा खाद्यान्न नहीं दिया जा रहा है, बल्कि उनसे अवैध रूप से वसूली की जाती है। इससे पहले भी कई बार शिकायत की गई, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
1
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -
- Advertisment -spot_img
- Advertisment -

Recent Comments