Wednesday, June 16, 2021
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMeerutदु:खद: कोरोना से बढ़ता मौत का मंजर, फिर भी मेरठवासी नहीं हैं...

दु:खद: कोरोना से बढ़ता मौत का मंजर, फिर भी मेरठवासी नहीं हैं घर के अंदर ?

- Advertisement -
0

जनवाणी संवाददाता |

मेरठ: कोरोना की दूसरी लहर कहर बनकर टूटी है और बड़ी संख्या में लोगों की जान जा रही है। इसके बावजूद लोग संभल नहीं रहे और शारीरिक दूरी व मास्क लगाने में लापरवाही बरत रहे है। जिला प्रशासन ने सुबह के समय जरुरी सामानों की दुकानें खोलने के लिए तय किए गए समय में लोगों की भीड़ बाजारों में उमड़ रही है।

यह लोग सोशल डिस्टेंसिंग का कोई पालन नहीं कर रहे है। कोटला बाजार व सदर दाल मंडी के हालात ऐसे रहते है कि यहां से पैदल निकलना भी मुश्किल रहता है और इसी के साथ आवागमन पूरी तरह बाधित हो जाता है।

लॉकडाउन में किराना समेत जरुरी सामान की दुकानें खोलने के लिए सुबह आठ से 11 बजे तक बाजार खुलने का समय नियत है, लेकिन समयावधि के बाद तक भी दुकानें खुली देखी जाती है। जबकि कोरोना महामारी से बचाव के लिए शहर पुलिस अपने-अपने थाना क्षेत्रों में गश्त कर लोगों को जागरूक भी कर रही है और उन्हें हिदायत भी दें रही है। इसके बावजूद भी लोग भीड़ लगाने से गुरेज नहीं कर रहे हैं। मंगलवार को कोटला बाजार, सदर दाल मंड़ी, नवीन मंडी व दवा मार्केट समेत अन्य बाजारों में जरूरत के सामान की खरीदारी के लिए लोगों की भीड़ उमड़ रही है। जिसमें लोग सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ाई जा रही है।

हापुड़ रोड पर लगता है वाहनों का रैला                                                 

शहर के मुख्य बाजारों के साथ-साथ सड़कों का भी यही हाल है। जिसमें सुबह व शाम के समय हापुड़ रोड, दिल्ली रोड, बागपत रोड, कंकरखेड़ा रोड व गढ़ रोड समेत अन्य मार्गों पर वाहनों का रैला लगा रहता है। हालात ऐसे होते है कि पुलिस की चेकिंग के दौरान चंद मिनटों में ही सड़कों पर लंबा जाम लग जाता है। हालांकि मंगलवार को लिसाड़ी गेट थाना पुलिस ने इस्लामाबाद चौकी पर वाहनों की चेकिंग की और बिना वजह घूमने वालों के खूब चालान काटें।


What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments