Monday, May 17, 2021
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsShamliपारदर्शिता के बीच निष्पक्ष-शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हुई मतगणना

पारदर्शिता के बीच निष्पक्ष-शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हुई मतगणना

- Advertisement -
0
  • जिलाधिकारी-पुलिस अधीक्षक लगातार करते निरीक्षण
  • मतगणना स्थल पर कड़े सुरक्षा बंदोबस्त में हुई कोई चूक

जनवाणी ब्यूरो |

शामली: त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की मतगणना के दूसरे दिन भी पांचों ब्लॉकों में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच देर शाम तक जारी रही। शामली ब्लॉक में 24 में से सिर्फ 14 टेबिल ही लगने के कारण कार्य काफी लेट रहा। मतगणना के लिए बनाए गए जोनल मजिस्ट्रेटों की देखरेख में मतपेटियों को खोला गया। मतदान कर्मियों ने बड़ी ही पारदर्शिता के साथ मतगणना की। जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक ने सभी मतगणना केंद्रों का निरीक्षण किया।

शामली ब्लॉक की मतगणना बिग्रेडियर होशियार सिंह इंटर कालेज में दूसरे दिन भी जारी रही। वहीं कांधला के चंदनलाल नेशनल इंटर कालेज, थानाभवन के लाला लाजपतराय इंटर कालेज, ऊन के राष्ट्रीय शिक्षा सदन कालेज, कैराना के पब्लिक इंटर कालेज में मतगणना को लेकर प्रत्याशी तथा उनके अभिकर्ता दूसरे दिन भी डटे रहे। डीएम जसजीत कौर व पुलिस अधीक्षक सुकीर्ति माधव ने भी मतगणना स्थल पर पहुंचकर मतदान कर्मियों से निष्पक्ष और शांतिपूर्ण तरीके से मतगणना कराए जाने के निर्देश दिए। तथा सभी मतगणना स्थलों पर पर्याप्त संख्या में पुलिस बल तैनात रहा।

प्रधान-बीड़ीसी को नहीं मनाने दिया गया जीत का जश्न

सोमवार को त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की मतगणना के बाद ग्राम प्रधान, बीडीसी, डीडीसी तथा जिला पंचायत सदस्यों का परिणाम घोषित किया गया। इस दौरान विजयी प्रत्याशियों के समर्थकों द्वारा हुडदंड न मच पाये और विजयी जुलुस को लेकर पुलिस प्रशासन पूरी तरह से अलर्ट रहा।

पुलिस ने किसी भी विजयी प्रत्याशी द्वारा जुलुस नहीं निकलने दिया। गांव में भी पुलिस ने गश्त कर लोगों से घरों में रहने और कोविड गाईड लाईन का पालन करते हुए भीड भाड से बचने की अपील की। कोरोना महामारी को देखते हुए विजयी प्रत्याशियों को प्रमाण पत्र देते हुए चुनाव अधिकारी ने भी विजयी जुलूस न निकालने जाने की अपील की। वहीं पुलिस-प्रशासन के आला अधिकारियों ने भी विजयी जुलुस निकालने जाने और भीड एकत्रित होने पर सख्त कार्यवाही करने की चेतावनी दी थी।

रणधावा मलिक की कार ले गई पुलिस

जिला पंचायत वार्ड 17 से चुनाव में सीमा मलिक पत्नी रणधावा मलिक विजयी हुई थी। जिसके बाद रणधावा मलिक अपने कुछ समर्थकों के साथ मतगणना स्थल पर पहुंचे थे। उनके समर्थक को तो पहले ही गाड़ी से उतर गए जबकि रणधावा मलिक अपनी गाड़ी मतगणना स्थल के बाहर पार्किंग में खड़ी कर अंदर चले गए। जब रणधावा मलिक आरओ से अपनी पत्नी सीमा की जीत के बारे में जानकारी कर लौटे तो बाहर से उनकी गाड़ी गायब थी। जानकारी की गई तो पता चला कि उनकी आदर्श मंडी थाना पुलिस ले गई है। उधर पुलिस ने बताया कि विजय जुलूस या समर्थकों के साथ जश्न मनाने की आशंका के चलते ही उनकी गाड़ी को ले जाया गया था। बाद में रणधावा मलिक अपनी गाड़ी लेने मंडी थाने चले गए थे।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments