Sunday, June 13, 2021
- Advertisement -
HomeUttar Pradesh NewsMuzaffarnagarधमात कैल्लनपुर गांव को भविष्य में अलग करने की मांग तेज

धमात कैल्लनपुर गांव को भविष्य में अलग करने की मांग तेज

- Advertisement -
0

जनवाणी संवाददाता |

पुरकाजीः मुजफ्फरनगर के ब्लाक पुरकाजी में एक गांव ऐसा भी है जहां एक ओर दूसरा ग्राम प्रधान तो दूसरी ओर दूसरा ग्राम प्रधान है। फर्क है तो सिर्फ रास्ते के बीच का। इस तरह से एक गांव में दो ग्राम प्रधान है। गांव के लोगो ने सरकार से मांग की है कि गांवो को अलग राजस्व ग्राम बना दिया जाए।

पुरकाजी ब्लाक के गांव धमात कैल्लनपुर की ग्राम प्रधान सोनिया है। वही धमात के ग्राम प्रधान सचिन कुमार निर्वाचित हुए है। दोनो ही गांव आमने सामने है बस दोनो गांव के बीच रास्ता गुजरा हुआ है। धमात कैल्लनपुर में करीब 46 वर्षो से प्रधान कैल्लनपुर का बनता चला आ रहा है।

46 साल से गांव धमात के लोग राशन लेने के लिए कैल्लनपुर में जाते रहे है धमात और कैल्लनपुर की दूरी 7 किमी है। गांव के लोगो को इससे बडी दिक्कतो का सामना करना पड रहा है। पूर्व में अगर धमात के लोगो को कुछ भी काम कराने होते थे तो कैल्लनपुर में जाना पडता था लेकिन बार धमात में प्रधान बना है लेकिन धमात के लोग चहाते है कि धमात को आगामी चुनाव में राजस्व ग्राम बना दिया जाऐ। क्योकि यहां पर एक हजार से अधिक वोट हो जाऐगें।

गांव धमात कैल्लनपुर निवासी रतन सिंह ने बताया धमात कैल्लनपुर को अलग अलग बना दिया जिससे की सुविधा लेने में दिक्कत न हो। राशन कार्ड लेने के लिए भी 7 किमी जाना पडता था। लेकिन बाद प्रधान गांव धमात का बना है तो जनता को थोडी सुविधा होगी। मामले में स्वर्गीय राज्यमंत्री विजय कश्यप को भी प्रार्थना पत्र देकर मांग की थी वही उन्होने बताया कि सन् 1975 तक इसके दो प्रधान रहे है।

1975 तक अनंतराम प्रधान बने थे। तब इस गांव को प्रस्ताव पास कराकर अपने गांव में मिला लिया था तभी से यह गांव कैल्लनपुर के साथ चला आ रहा है सबसे बडी समस्या यह रही कि धमात के लोगो को राशन या फिर अन्य किसी कोई काम के लिए कैल्लनपुर जाना पडता था। लेकिन इस धमात में पहली बार प्रधान सोनिया बनी है। कोई दिक्कत आने नही दी जाएगी।

ग्राम प्रधान प्रतिनिधि सुनील कुमार ने कहा कि यह गांव कैल्लनपुर से जुडा हुआ जिसकी वोट 2767 है और दूसरे धमात की करीब 742 वोट है। जिस गांव से प्रधान बने है ग्राम प्रधान प्रतिनिधि से मांग की गांव को अलग कर दिया जाए। ग्रामीण कपिल कुमार ने भी धमात व कैल्लनपुर को अलग राजस्व करने की मांग की है और आने वाले समय में दोनो गांव के प्रधान अलग अलग बना दिया जाए।

सरकार से मांग है कि इस गांव इतना रकबा है जिसमें चुनाव के समय तक एक हजार से अधिक वोट होगी। इसलिए कैल्लनपुर गांव के रकबा से अलग कर दिया जाए। इस इस मौके पर रतन सिंह, धर्मेन्द्र सिंह, कपिल कुमार, सुनील कुमार, प्रधान सोनिया,परमिन्दर सिंह आदि मौजूद रहे।

What’s your Reaction?
+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

+1
0

- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments