Monday, December 6, 2021
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeUttar Pradesh NewsSaharanpurविभागीय टीम पूरी सतर्कता से काम करें: सीएमओ

विभागीय टीम पूरी सतर्कता से काम करें: सीएमओ

- Advertisement -
  • वेक्टर जनित रोगों की रोकथाम को ठोस कदम

जनवाणी ब्यूरो |

सहारनपुर: मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. संजीव मांगलिक ने कहा है कि वेक्टर जनित रोगों जैसे डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया की रोकथाम के लिये स्वास्थ्य विभाग की टीम पूरी सर्तकता और मेहनत से काम करें।

सीएमओ ने बताया वेक्टर जनित रोगों पर नियंत्रण के लिए जनपद स्तरीय एवं ब्लॉक स्तरीय स्वास्थ्य टीमों द्वारा ब्लॉक पुंवारका के ग्राम सन्दलहेडी, सुभरी, ब्लॉक सुनहैटी खड़खड़ी के ग्राम टपरी कलां, हसनपुर भलसवा, मनानी, संन्तागढ़, रेडी मलकपुर, सहजवा, खजूरी अकबरपुर, भावसी, माल्ली, भारापुर, छाछरेकी, फिराहेड़ी , इटवा, ब्लॉक नानौता के ग्राम बेहड़ा, भारी, ब्लॉक गंगोह के ग्राम कुण्डाकंला, ब्लॉक देवबन्द के ग्राम मिरगपुर, रसूलपुर, तथा नगर क्षेत्र पुलिस लाइन सहारनपुर में स्वास्थ्य शिविरों का आयोजन किया गया है।

इन शिविरों में 655 रोगियों का उपचार किया गया। इसमें 161 ज्वर रोगी थे, 190 रक्त पटिट्का ली गयीं तथा 2762 घरों का सर्वेक्षण किया गया। घर-घर जाकर 11207 व्यक्तियों को स्वास्थ्य शिक्षा के अन्तर्गत क्या करें क्या न करें के बारे में जानकारी दी गयी।

डा. मागंलिक ने कहा- सभी प्रकार के रोगों के स्वास्थ्य परीक्षण के लिए ग्रामवासी कोई लापरवाही न करें। अगर बुखार होता है तो तत्काल अपने नजदीकी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर जाकर अपना उपचार करायें। डेंगू,मलेरिया, चिकनगुनिया आदि रोगों की जॉच जिला चिकित्सालय सहारनपुर में मुफ्त की जा रही है।

सभी को वेक्टर जनित रोगों के अर्न्तगत आने वाली बीमारियॉ जैसे डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया, आदि से बचाव एवं रोकथाम की जानकारी दी गयी। बताया गया घर के अन्दर, बाहर व छतों पर टूटे बर्तनों, टायर, गमले, बोतल, आदि में पानी जमा न होने दें। मच्छरदानी का प्रयोग करें।

पानी के सभी बर्तन, टंकी इत्यादि को पूरी तरह ढक कर रखें। अपने घर के आस-पास पानी जमा न होने दें। पानी से भरे गड्ढों में मिट्टी भर दें। बच्चों को पूरी आस्तीन की कमीज व पेन्ट पहनाकर रखें। बुखार उतारने के लिये पैरासिटामोल का ही इस्तेमाल करे। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने कहा अधिक बुखार होने पर चिकित्सक की सलाह लें। झोलाछाप चिकित्सक
से बचें।

What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
- Advertisement -

Leave a Reply

- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img

Recent Comments